अजीब मान्यता / अनिष्ट की आशंका से पूजा-पाठ, 24 घंटे के लिए बाहरी लोगों के गांव में प्रवेश पर रोक

Dainik Bhaskar

May 18, 2019, 11:41 AM IST



Weird recognition in Bhothali village
X
Weird recognition in Bhothali village

बालोद. इसे आस्था कहें या फिर अजीब सी मान्यता, गांव में अनिष्ट की आशंका से पूजा पाठ करने गांव में 24 घंटे के लिए बाहरी लोगों के प्रवेश पर पाबंदी लगा दी। ये मामला है बालोद से 8 किमी दूर बूढ़ादेव मंदिर स्थल गांव भोथली का। यहां शुक्रवार सुबह 5.30 बजे ग्रामीणों ने टोली बनाकर पहरेदारी शुरू कर दी। कांटे और लकड़ी बिछाकर रास्ता बंद कर दिया। 


भटकते रहे लोग: जिन्हें भोथली में ही जाना था। उन्हें ग्रामीणों ने गांव घुसने ही नहीं दिया और रेवतीनवागांव, घुमका या अन्य गांव जाना था, उन्हें भी जाने नहीं दिया गया। एक दिन पहले ही गांव में बैठक लेकर ग्राम प्रमुखों ने ये फैसला ले लिया था कि शुक्रवार को गांव में बाहरियों को नहीं आने देंगे। 


लोगों को नहीं होनी चाहिए परेशानी: एसपी एमएल कोटवानी ने कहा गांव बनाना, देवी देवता मानना ये आस्था है। पाबंदी नहीं लगा सकते। औरों को कोई परेशानी नहीं होनी चाहिए। छग अंध श्रद्धा उन्मूलन समिति अध्यक्ष डॉ. दिनेश मिश्रा ने कहा यह प्रथा अंधविश्वास है।

 

23 मई को देखिए सबसे तेज चुनाव नतीजे भास्कर APP पर 
 

COMMENT

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543