आगजनी / कमरे में जिंदा जली महिला, दूसरे कमरे में थे बेटे और बेटी, बोले-पता ही नहीं चला



मौके पर जांच करती पुलिस और मृतका की बेटी से पूछताछ करती। मौके पर जांच करती पुलिस और मृतका की बेटी से पूछताछ करती।
X
मौके पर जांच करती पुलिस और मृतका की बेटी से पूछताछ करती।मौके पर जांच करती पुलिस और मृतका की बेटी से पूछताछ करती।

  • राजधानी में निर्माणाधीन मकान के पास मजदूर के बने कच्चे घर में महिला जिंदा जली
  • पति मजदूरी पर गया था,  महिला समेत 16 साल की बेटी और 12 साल का बेटा घर पर थे 
     

Dainik Bhaskar

May 25, 2019, 02:06 PM IST

रायपुर. राजधानी में एक महिला की संदिग्ध हालत मे जलने से मौत हो गई। आग केवल एक ही कमरे में लगी और महिला की जलने से मौत हो गई। वहीं दूसरे कमरे में उसका भतीजा और बेटी थे पर उन्हें घटना का पता देर से चल पाया। पति मजदूरी पर गया था। पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है और मामले की जांच कर रही है। 

 

आग

 

गंज इंस्पेक्टर पूर्णिमा लांबा ने बताया कि तेलघानी नाका ब्रिज के नीचे महेंद्र स्टील कंपनी का प्लाट है। उसमें दो झोपड़ी बनी हुई है। जहां नांदघाट का कीरित राम साहू परिवार के साथ रहता है। वो और उसकी पत्नी प्लाट की चौकीदारी करते थे। कीरित सुबह 7 बजे गुढियारी के एक कॉलोनी में मजदूरी करने चला गया था। घर पर उसकी पत्नी सुनीति साहू और बच्चे थे। उनकी बेटी और भतीजा भोजन करने के बाद दूसरे कमरे में बैठकर टीवी देख रहे थे। सुनीति दूसरे कमरे में कुछ कर रही थी। अचानक चीखपुकार की आवाज आई। दोनों बच्चे दौड़कर बाहर आए तो देखा कि सुनीति जल रही थी। कमरे में आग लग गया था। बच्चों ने दौड़कर आसपास वालों को बुलाया। आसपास वाले दौड़कर आए, लेकिन कोई भीतर जाने की हिम्मत नहीं किया। आग की लपटे तेज थी। सूचना मिलने पर पुलिस और दमकल की गाड़ी मौके पर पहुंची। दस मिनट में आग पर काबू पा लिया गया। पुलिस जब भीतर गई तो देखा कि सुनीति जमीन पर पड़ी हुई थी। उसके शरीर से धुंआ निकल रहा था। पुलिस ने घटना स्थल की जांच की, लेकिन समझ नहीं आया कि आग कैसे लगी है। क्योंकि चूल्हा बाहर है। हालांकि भगवान के पास जलाया जाने वाला दीया गिरा हुआ था। बच्चों ने बताया कि 10 बजे उन्होंने मृतका के साथ खाना खा लिया था। इसलिए पूजा करने के लिए दीया जलाए जाना संभव नहीं है। पुलिस जांच कर रही है कि महिला की मौत हादसा है कि खुदकुशी। मकान में आग लगने के बाद क्या महिला बुझाने की कोशिश कर रही थी। 

 

महिला के तीन बेटी और एक बेटा
पुलिस ने बताया कि सुनीति के तीन बेटी और एक बेटा है। बड़ी बेटी 11 साल की है और बेटा 3 साल का है। घर पर बड़ी बेटी और भतीजा था। बाकी बच्चे अपने बड़े पिता के यहां दुर्ग गए थे। घटना के समय सुनीति का पति भी मौजूद नहीं था। वह काम पर गया हुआ था। उन्होंने फोन करके घटना की जानकारी दी गई।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना