छत्तीसगढ़ / हिस्ट्रीशीटर को पकड़ने गई पुलिस पर महिलाओं का हमला, भागा बदमाश



Women attacked police for catching historyheater
X
Women attacked police for catching historyheater

  • दो दर्जन से ज्यादा महिलाओं ने पुलिस की गाड़ी से छुड़ाया बदमाश को

Dainik Bhaskar

Sep 01, 2019, 06:10 AM IST

रायपुर . सड्डू बीएसयूपी कॉलोनी में शनिवार दोपहर 2 बजे ईरानी डेरे के हिस्ट्रीशीटर को पकड़ने के दौरान महिलाओं ने पुलिस को घेरा और दो थानेदारों के साथ झूमाझटकी कर दी। महिलाओं ने इतना हंगामा किया कि पुलिस को हल्का बेंत प्रहार करना पड़ा। इस दौरान भगदड़ मची और मौका पाकर हिस्ट्रीशीटर यासिन अली फरार हो गया। बाद में महिलाओं से घिरे अफसरों ने आला अफसरों को घटना की सूचना दी। उसके बाद थोड़ी ही देर में फोर्स पहुंची और पूरी कालोनी को घेरकर उन महिलाओं को पकड़ा जिन्होंने हिस्ट्रीशीटर को छुड़ाने के लिए हंगामा किया था। 


 पुलिस को हिस्ट्रीशीटर की कई दिनों से तलाश थी। पंडरी टीआई सोनल ग्वाला और विधानसभा टीआई अश्वनी राठौर अपनी टीम के साथ दोपहर को सड्डू बीएसयूपी कॉलोनी गए। वहीं पंडरी के ईरानी डेरा में रहने वालों को शिफ्ट किया गया है। त्योहार के पहले पुलिस हिस्ट्रीशीटर और गुंडे बदमाशों को पकड़ रही है। इसी वजह से यासिन अली को हिरासत में लेना था। पुलिस जब पहुंची तो हिस्ट्रीशीटर यासीन अली वहीं अपने घर के पास बैठा था। पुलिस को देखकर उसने भागने की कोशिश की। अफसरों ने उसे घेरकर दबोच लिया गया। उसे मशक्कत के साथ खींचकर गाड़ी तक लाया गया। वह पुलिस के साथ चलने को तैयार नहीं था। उसे गाड़ी में बिठाया जा रहा था कि डेरे की कई महिलाएं आ गईं। महिलाओं के गुट ने पुलिस की गाड़ी को घेर लिया। वे गाड़ी को ठोकने-पिटने लगे।

 

महिलाएं पुलिस वालों को खींचकर गाड़ी से दूर कर रही थीं, ताकि यासीन को छुड़ा सकें। दोनों टीआई के साथ महिलाओं ने धक्का-मुक्की शुरू कर दी। पंडरी टीआई ग्वाला के चेहरे और हाथ में चोट आई। भीड़ में शामिल कुछ महिलाओं ने पुलिस वालों को मारना शुरू कर दिया। तब पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर उन्हें वहां खदेडऩे की कोशिश की। इसी दौरान यासीन गाड़ी से कूदा और वहां से भाग निकला। घटना की सूचना वरिष्ठ अधिकारियों को दी गई। तब वहां पुलिस अधिकारी अाधा दर्जन टीआई और 100 से ज्यादा फोर्स के साथ वहां पहुंचे।

 

पूरे कॉलोनी को घेरकर जांच की गई, लेकिन यासीन नहीं मिला। पुलिस के साथ झूमाझटकी करने वाली 24 महिलाओं को 3 युवकों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। उनके साथ सरकारी कार्य में बाधा, बलवा और मारपीट का केस दर्ज किया गया। पुलिस के अनुसार यासीन सिविल लाइंस का हिस्ट्रीशीटर है। शहर के आधा दर्जन थानों में उसके खिलाफ केस दर्ज है। एक महीने पहले उसके भाई जुम्मन ने हांडीपारा में चाकूबाजी की थी। उस मामले में वह जेल में बंद है। 


गांजे और सट्टे का अवैध कारोबार: पुलिस के अनुसार ईरानी डेरा में जुआ और सट्टा का अवैध कारोबार चलता है। वहां गांजा और नशीली टेबलेट भी बेचने की शिकायत है। लगातार पुलिस की कार्रवाई के बाद भी आरोपी अवैध कारोबार छोड़ नहीं रहे हैं। यहां रहने वाले कई युवकों के खिलाफ शहर के अलग-अलग थानों में केस दर्ज है। यहां के अवैध कारोबार को लेकर कई बार गैंगवार भी हो चुका है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना