क्रॉस वोटिंग के साथ जिला पंचायत में भाजपा का कब्जा

Rajnandgaon News - जिला पंचायत में भाजपा ने कब्जा जमा लिया है। अध्यक्ष व उपाध्यक्ष दोनों ही पद पर भाजपा की जीत हुई है। बतौर निर्दलीय...

Feb 15, 2020, 07:50 AM IST
Rajnandgaon News - chhattisgarh news bjp captured in district panchayat with cross voting

जिला पंचायत में भाजपा ने कब्जा जमा लिया है। अध्यक्ष व उपाध्यक्ष दोनों ही पद पर भाजपा की जीत हुई है। बतौर निर्दलीय चुनाव लड़ी भाजपा की बागी गीता साहू ने अध्यक्ष के लिए जीत दर्ज की है, वहीं विक्रांत सिंह जिला पंचायत के उपाध्यक्ष चुने गए हैं। कांटे के मुकाबले के बीच भाजपा ने चुनाव पर्यवेक्षक मंत्री रविंद्र चौबे, कांग्रेस के चार विधायक व दो जिलाध्यक्षों की रणनीति को ध्वस्त कर दिया है। अध्यक्ष के लिए कांग्रेस की ओर से हुए क्रास वोटिंग के साथ दोनों पदो में भाजपा जीतकर आई है।

अध्यक्ष के चुनाव में कांग्रेस की ओर से एक वोट क्रास हुआ है। भाजपा की गीता साहू और कांग्रेस से प्रभा साहू के बीच अध्यक्ष का मुकाबला हुआ। भाजपा के पास 12 और कांग्रेस के पास 11 वोट मौजूद थे, वहीं एक वोट निर्दलीय विप्लव साहू का रहा। लेकिन अध्यक्ष के लिए हुई गिनती के बाद भाजपा की गीता साहू को 14 वोट मिले और प्रभा साहू को 10 वोट ही मिला। विप्लव ने पहले ही भाजपा को समर्थन दे दिया था, ऐसे में एक वोट कांग्रेस की ओर से क्रास होकर भाजपा के पाले में गया। वहीं उपाध्यक्ष का चुनाव भाजपा ने निर्दलीय के वोट से ही जीता। इसमें कांग्रेस के महेंद्र यादव को 11 वोट मिले और भाजपा के विक्रांत सिंह को 13 जिला पंचायत सदस्यों का वोट मिला। सत्ता सरकार के बावजूद कांग्रेस की कमजाेर रणनीति ने भाजपा को सफल होने में मदद दे दी।

सदस्यों के मुहर लगाने की जगह तय थी, जगह बदलते ही पकड़े जाते

भाजपा ने क्रास वोटिंग से बचने और ऐसा करने वालों को पकड़ने के लिए तगड़ी तैयारी कर रखी थी। अपने सभी 12 सदस्यों को मतपत्र में मुहर लगाने की जगह पहले ही दे दी गई थी। इसके लिए बार-बार उन्हें नकली मतपत्र में अभ्यास भी कराया गया। कौन का सदस्य अपने प्रत्याशी के नाम के साथ बने खाने में किस जगह मुहर लगाएगा ये पहले ही तय कर दिया गया। इसके लिए बाकायदा उन्हें तीन दिनों तक अभ्यास भी कराया गया। इसकी पूरी सूची तैयार की गई कि किस सदस्य को मतपत्र का कौन का हिस्सा मुहर लगाने के लिए दिया गया है। मतदान के दौरान अगर संबंधित सदस्य को दिए गए जगह में मुहर नहीं दिखती तो ये साबित हो जाता कि उसने अपने प्रत्याशी को वोट नहीं दिया है। इसी तगड़ी प्लानिंग के चलते भाजपा खेमे का कोई भी वोट क्रास नहीं हुआ। ऐसी व्यवस्था भाजपा ने इसलिए भी बनाई थी कि अध्यक्ष व उपाध्यक्ष के लिए भाजपा में पहले ही दो से तीन नाम चल रहे थे। ऐन वक्त में प्रत्याशी के विरोध और क्रास वोटिंग की भी स्थिति बन सकती थी।

पूरी तैयारी के साथ भाजपा सदस्यों को साथ रखे रही

नगर निगम चुनाव में पूरे चाक चौबंद व्यवस्था में लगे रहे कांग्रेस नेता इस चुनाव में नदारद रहे। सुबह 11 बजे से जिला पंचायत में अध्यक्ष के लिए नामांकन व मतदान की प्रक्रिया शुरू हुई। शाम 4.30 बजे उपाध्यक्ष का अंतिम परिणाम आया। लेकिन इस पूरे समय में कांग्रेस से कोई भी बड़ा चेहरा मौजूद नहीं रहा। भाजपा जहां पूरी तैयारी के साथ जिला पंचायत सदस्यों को अपने साथ रखी रही। वहीं कांग्रेस की ओर को शहर से लेकर ग्रामीण कांग्रेस कमेटी का कोई भी बड़ा चेहरा नहीं पहुंचा। ये भी मौके पर चर्चा का विषय रहा।

पूरी टीम एकजुट रही, आगे भी मिलकर काम करेंगे


भास्कर तत्काल

{परिस्थितियां ऐसी बनी की सुबह से सरेंडर की मुद्रा में दिखी कांग्रेस दंभ भरने वाले नेता भी नदारद रहे

{भाजपा से बागी होकर निर्दलीय चुनाव लड़ी गीता साहू बनीं अध्यक्ष और विक्रांत सिंह बने उपाध्यक्ष


{अध्यक्ष के लिए कांग्रेस का एक वोट क्रास, निर्दलीय विप्लव ने भी भाजपा को दिया अपना समर्थन

मंत्री चौबे, चार विधायक, दो जिलाध्यक्षों की रणनीति फेल

जिपं चुनाव में वोटर्स ने भाजपा पर भरोसा जताया


उपाध्यक्ष को लेकर संयोग

जिला पंचायत चुनाव में उपाध्यक्ष को लेकर एक और संयोग सामने आया है। विक्रांत सिंह क्षेत्र क्रमांक 4 से जीतकर आए हैं, उनका चुनाव चिन्ह गाड़ा छाप रहा। 16 साल पहले भी इस क्षेत्र से सचिन सिंह बघेल गाड़ा छाप से चुनाव लड़कर जीते। तब सचिन बघेल भी जिला पंचायत उपाध्यक्ष चुने गए थे। 16 साल बाद क्षेत्र क्रमांक 4 व गाड़ा छाप ने दूसरी बार जिला पंचायत का उपाध्यक्ष दिया है। यह चर्चा का विषय बना रहा।

कांटे का रहा मुकाबला

जिला पंचायत में 24 सीट है। चुनाव के बाद भाजपा को 12 सीट मिली। कांग्रेस के पक्ष में 11 सीट आई। एक सीट निर्दलीय के कब्जे में रही। अध्यक्ष व उपाध्यक्ष के लिए कम से कम 13 वोट की जरूरत थी। इसी के लिए दोनों दल जमकर जोड़तोड़ करते रहे। भाजपा पहले ही अपने सभी 12 सदस्यों को साथ लेकर भ्रमण में ले गई। इधर निर्दलीय प्रत्याशी को भी उम्मीद के विपरीत भाजपा ने अपने पक्ष में कर लिया।

राजनांदगांव. जिला पंचायत उपाध्यक्ष बनने के बाद विक्रांत को समर्थकों ने कंधे पर उठाया।

Rajnandgaon News - chhattisgarh news bjp captured in district panchayat with cross voting
X
Rajnandgaon News - chhattisgarh news bjp captured in district panchayat with cross voting
Rajnandgaon News - chhattisgarh news bjp captured in district panchayat with cross voting
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना