कांग्रेसियों ने कहा- केन्द्र सरकार कर रही है किसानों की उपेक्षा

Rajnandgaon News - केंद्र सरकार ने छत्तीसगढ़ का चावल खरीदने से इंकार कर दिया है। केंद्र के इस निर्णय की वजह से प्रदेश में धान खरीदी...

Bhaskar News Network

Nov 10, 2019, 07:55 AM IST
Rajnandgaon News - chhattisgarh news congressmen said central government is ignoring farmers
केंद्र सरकार ने छत्तीसगढ़ का चावल खरीदने से इंकार कर दिया है। केंद्र के इस निर्णय की वजह से प्रदेश में धान खरीदी प्रभावित हो सकती है। धान के भंडारण से लेकर कस्टम मिलिंग तक भी असर पड़ेगा। केन्द्र चावल नहीं लेगा तो धान खरीदी की लिमिट तक कम करनी पड़ जाएगी। इस मुद्दे को लेकर जिला कांग्रेस कमेटी की ओर से शनिवार को कलेक्टोरेट के सामने धरना दिया गया। कांग्रेसियों ने कहा कि केन्द्र सरकार किसानों की उपेक्षा करने में तुली हुई है। जबकि प्रदेश सरकार हर कदम पर किसानों के साथ है। प्रदेश में भाजपा राज में किसानों की आत्महत्या की घटनाएं बढ़ गई थी। इस वजह से प्रदेश में सरकार आते ही कांग्रेस ने सबसे पहले किसानों की कर्ज माफी की। इससे किसानों को राहत मिली।

कांग्रेस कमेटी के ग्रामीण जिला अध्यक्ष नवाज खान ने कहा कि केन्द्र सरकार नहीं चाहती कि छत्तीसगढ़ के किसानों का भला हो गया और ये आर्थिक रूप से सक्षम हो सकें। प्रदेश सरकार 2500 रुपए समर्थन मूल्य में धान खरीदी कर किसानों को राहत पहुंचाना चाहती है पर केन्द्र सरकार की ओर से रोड़ा डाला जा रहा है। छत्तीसगढ़ में उत्पादित चावल की खरीदी नहीं कर केन्द्र सरकार ने किसान विरोधी अपनी मंशा को जाहिर कर दिया है।

बोनस के नाम पर भाजपा ने छला: शहर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कुलबीर सिंह छाबड़ा ने कहा कि केन्द्र सरकार की नीतियां किसानों के हित में नहीं है। सम्मान राशि देने के नाम पर भी सिर्फ दिखावा किया जा रहा है, किसानों के खाते में राशि ही नहीं आ रही है। पूर्ववर्ती भाजपा सरकार के समय भी बोनस के नाम पर किसानों को छला गया। 10 से 20 रुपए किसानों के खाते में डालकर बोनस बताकर वाहवाही लूटी।

बिजली बिल हाफ कर दिया: अब जब प्रदेश सरकार किसानों को राहत पहुंचाना चाह रही है तो केन्द्र सरकार हाथ पीछे खींच रही है। पूर्व मंत्री धनेश पाटिला ने कहा कि प्रदेश सरकार की ओर से बिजली बिल हाफ कर दिया गया है। प्रदेश सरकार ने इस निर्णय के साथ हर वर्ग को लाभ पहुंचाया है। अब जब धान खरीदी की बारी आई है तो केन्द्र सरकार की ओर से किसान विरोधी निर्णय लिया जा रहा है। कांग्रेसियों ने धरना देने के बाद राष्ट्रपति के नाम एसडीएम मुकेश रावटे को ज्ञापन सौंपा। धरना में विधायक छन्नी साहू, भुनेश्वर सिंह बघेल, कुतुबुद्दीन सोलंकी, शाहिद खान, भोलाराम साहू सहित अन्य कांग्रेसी मौजूद रहे।

X
Rajnandgaon News - chhattisgarh news congressmen said central government is ignoring farmers
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना