टेंडर व कार्यादेश जारी होने के बाद भी ठेकेदारों के पीछे घूम रहे पार्षद

Rajnandgaon News - ठेकेदारों की मनमानी के आगे पालिका पार्षदों ने हथियार डाल दिए हैं। बुधवार को आयोजित सामान्य सभा की बैठक में...

Jan 16, 2020, 07:15 AM IST
Khairagarh News - chhattisgarh news councilors roaming behind contractors even after issuing tenders and work orders
ठेकेदारों की मनमानी के आगे पालिका पार्षदों ने हथियार डाल दिए हैं। बुधवार को आयोजित सामान्य सभा की बैठक में पार्षदों का दर्द छलक उठा। अमलीडीह वार्ड-15 की पार्षद गायत्री डहरिया ने साफ तौर पर कहा कि एक ईंट नहीं जोड़ पाए हैं, जो काम कह कर आए थे वो भी पूरा नहीं कर पाए। समझाइश देने पर गायत्री के तेवर तल्ख हो गए और कहा कि सामान्य सभा की हर बैठक में प्रस्ताव मंगाते हैं, लेकिन काम पूरा नहीं होता। अब तो लोगों ने उम्मीद करना भी छोड़ दिया।

पार्षद विनय देवांगन ने कटाक्ष करते हुए कहा कि 14 वें वित्त में क्या काम आया है, कहां किया है, पार्षदों को भी बता दिया करें। 5 साल में न हमसे सुझाव मांगा न हमारे हिसाब से काम किया। नेता प्रतिपक्ष कमलेश कोठले ने टोका तो विनय के तेवर भी तल्ख हो गए। सीधे कहा कि ये ठीक नहीं है। सभापति सुबोध पांडे ने कहा कि पता नहीं क्यों ठेकेदारों को इस तरह से संरक्षण दिया जा रहा है। पांडे ने नाऊम्मीदी जताते हुए कहा कि किसी ठेकेदार के संबंध हैं, किसी के किसी के साथ तो किसी के किसी के साथ। ऐसा ही चलने वाला है। पार्षद गिरवर पटेल ने भी इस पर सहमति जताई। एल्डरमैन भरत चंद्राकर ने विभिन्न निधि से हो रहे काम की जानकारी चाही। बैठक में सीएमओ पूजा पिल्ले, पालिका उपाध्यक्ष रामाधार रजक, पार्षद नीलिमा गोस्वामी, सभापति सोनू ढीमर, पार्षद गिरिजा चंद्राकर, पुरुषोत्तम वर्मा, साहिस्ता अयूब सोलंकी, डॉ ़किरण झा, पूरण सारथी, हरि भोंडेकर, सुरेंद्र सिंह, सब इंजीनियर दीपाली तंबोली, कुलदीप झा उपस्थित रहे।

इसलिए बन रहे ऐसे हालात: ज्यादातर ठेकेदार रसूखदार हैं। किसी ठेकेदार के किसी नेता से संबंध हैं तो किसी के अधिकारियों से, पार्षद दबाव डालना तो छोड़िए,अनुरोध करते हैं तो उसे भी ठेकेदार अनसुना कर देते हैं। पार्षद सीधे तौर पर नाम लेकर आपत्ति करने से भी कतराते हैं, इससे पालिका के कर्मचारी भी कार्रवाई से कन्नी काट लेते हैं।

अधूरा निर्माण
सामान्य सभा: ठेकेदारों की मनमानी के आगे डाले हथियार

खैरागढ़. सभागार में हुई सामान्य सभा की बैठक में अध्यक्ष व अतिथि।

देवव्रत ने दी सहमति, राजा के नाम पर होगा प्लांट

जल आवर्धन योजना के तहत बनने वाले वाटर ट्रीटमेंट प्लांट को लेकर चल रहा भूमि विवाद भी सुलझता नजर आ रहा है। प्लांट का नाम स्व. राजा रविंद्र बहादुर सिंह के नाम पर रखे जाने का प्रस्ताव रखा गया। जिस पर पार्षद कमलेश कोठले ने पूछा कि क्या देवव्रत सिंह जमीन दे रहे हैं, जिस पर नगर पालिका अध्यक्ष मीरा चोपड़ा हामी भरीं तो पार्षद सुबोध पांडे सहित शेष पार्षदों ने सहमति जताई। उक्त स्थल पर प्लांट निर्माण पर विधायक सिंह की आपत्ति लगी थी।

बैठक में इन बिंदुओं पर भी चर्चा और प्रस्ताव










अभी ऐसे हैं हालात





X
Khairagarh News - chhattisgarh news councilors roaming behind contractors even after issuing tenders and work orders
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना