डीअाे जारी हाेना बंद, 12 हजार टोकन जारी पर बारदाना नहीं

Rajnandgaon News - समर्थन मूल्य में धान की खरीदी अपने अंतिम दौर में लड़खड़ा गई है। सबसे बड़ी समस्या बारदानों की बनी हुई है। डिमांड के...

Feb 14, 2020, 07:45 AM IST

समर्थन मूल्य में धान की खरीदी अपने अंतिम दौर में लड़खड़ा गई है। सबसे बड़ी समस्या बारदानों की बनी हुई है। डिमांड के मुताबिक खरीदी केंद्रों में बारदाने की व्यवस्था नहीं है। जबकि बीते दो दिनों में जिले के 117 खरीदी केंद्र में 12 हजार से अधिक टाेकन जारी किया जा चुका है।

इधर बारदानों की स्टॉक कब तक पहुंचेगा, इसे लेकर भी अफसर कुछ भी स्पष्ट नहीं कर रहे है। इससे अंतिम दौर में खरीदी बंद होने की स्थिति में आ गई है। वहीं मिलर्स को डीओ जारी करना भी मार्कफेड ने बंद कर दिया है। जिसके चलते उठाव की गति धीमी हो गई है। इसका अफसर केंद्रों की बफर लिमिट पर पड़ रहा है। जिले में अब भी 18 हजार से अधिक किसान अपना धान नहीं बेच पाए है।

ज्यादातर राइस मिलों में काम ठप होने की स्थिति

इधर मार्कफेड ने मिलर्स को डीओ जारी करना बंद दिया है। मार्कफेड के डीएमओ सौरभ भारद्वाज ने बताया कि इसके लिए रायपुर से निर्देश मिले है। डीओ जारी होना बंद हो जाने का असर अब राइस मिलों में पड़ रहा है। ज्यादातर राइस मिलों में काम ठप होने की स्थिति में आ गई है। फिलहाल टीआई के माध्यम से ही खरीदी केंद्रों से धान का परिवहन हो रहा है।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना