दिग्विजय कॉलेज में परीक्षा, प्रवेश पत्र का वितरण शुरू

Rajnandgaon News - दिग्विजय कॉलेज में दो मार्च से ऑटोनामस की परीक्षा शुरू होगी, जो अप्रैल के आखिर तक चलेगी। परीक्षा को लेकर अभी से ही...

Feb 15, 2020, 07:45 AM IST

दिग्विजय कॉलेज में दो मार्च से ऑटोनामस की परीक्षा शुरू होगी, जो अप्रैल के आखिर तक चलेगी। परीक्षा को लेकर अभी से ही तैयारी शुरू कर दी गई है। प्रवेश पत्र का वितरण शुरू कर दिया गया है। ऑटोनामस कक्षाओं की परीक्षा का प्रवेश पत्र की सीधे हार्डकॉपी उपलब्ध कराई जा रही है। परीक्षार्थी कॉलेज दफ्तर में जाकर प्रवेश पत्र हासिल कर सकता है।

तीन पालियों में ऑटोनामस एग्जाम लिया जाएगा। सुबह पाली में साइंस, दोपहर को कामर्स और शाम की पाली में कला संकाय की परीक्षा होगी। एससी, बीए और बीकॉम संकाय मिलाकर ऑटोनामस में कुल 4 हजार परीक्षार्थी हैं।

प्रवेश पत्र का वितरण नो ड्यूस दिखाने के बाद ही दिया जा रहा है। यदि किसी परीक्षार्थी ने लाइब्रेरी से बुक लिकालकर जमा नहीं किया है, एनसीसी का कोई सामान नहीं लौटाया है या फिर संग्रहालय कोई सामान लिया है तो उसे प्रवेश पत्र नहीं मिलेगा।

जब तक की परीक्षार्थी सामान को लौटाकर विभाग प्रमुख से नो ड्यूस नहीं बनवा लेता है। इसे लेकर सख्त नियम बनाए हैं।

20 तक प्रैक्टिकल एग्जाम करना है पूर्ण

दुर्ग विवि ने संकायों में प्रैक्टिकल एग्जाम लेने के लिए टाइम सेट कर दिया है। इस बार 20 फरवरी तक प्रैक्टिकल एग्जाम किसी हालत में पूर्ण करना है है। कॉलेजों में प्रैक्टिकल एग्जाम पूर्णता की ओर है। दु्र्ग विवि के कुलसचिव सीएल देवांगन ने बताया कि फरवरी के आखिर तक विवि परीक्षाओं का प्रवेश पत्र ऑनलाइन पोर्टल में अपलोड कर दिया जाएगा। पासवर्ड डालकर परीक्षार्थी ऑनलाइन ही प्रवेश पत्र निकलवा सकते हैं।

1200 परीक्षार्थियों के लिए बैठक व्यवस्था यहां पर

दिग्विजय कॉलेज में करीब 1200 परीक्षार्थियों के लिए बैठक व्यवस्था है। चूकि ऑटोनामस और विवि की परीक्षा एक साथ होने के कारण बैठक व्यवस्था में हर बार दिक्कत आती है। ऐसे में प्रबंधन को स्कूलों को सब सेंटर बनाना पड़ता है। इस बार भी दिग्विजय कॉलेज के लिए स्कूलों को सब सेंटर बनाया जाएगा। इसकी तैयारी शुरू कर दी गई है। परीक्षा केंद्र में मोबाइल, इलेक्ट्रानिक केल्क्यूलेटर को प्रतिबंधित रखा गया है।

विवि का प्रवेश पत्र ऑनलाइन मिलेगा

दुर्ग विवि की ओर से 12 मार्च से परीक्षा ली जाएगी, जो मई तक चलेगी। अकेले दिग्विजय कॉलेज से ही विवि प्राइवेट एग्जाम के लिए लगभग 7 हजार परीक्षार्थियों ने फाॅर्म भरा है। इन परीक्षार्थियों को प्रवेश पत्र ऑनलाइन ही उपलब्ध कराया जाएगा। यदि प्रवेश पत्र गुम जाता है या फिर किसी कारण से प्रवेश पत्र नहीं मिल पाता है तो परीक्षार्थी को समय रहते पहचान पत्र के साथ प्रबंधन को सूचित करना होगा।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना