16 से स्कूलों में तालाबंदी, मांगों को लेकर कलेक्टोरेट के सामने धरना देंगे शिक्षक

Rajnandgaon News - 22 सूत्रीय मांगों को लेकर जिले के शिक्षक 16 अक्टूबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल में चले जाएंगे। शिक्षक फेडरेशन की ओर से...

Oct 13, 2019, 07:35 AM IST
22 सूत्रीय मांगों को लेकर जिले के शिक्षक 16 अक्टूबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल में चले जाएंगे। शिक्षक फेडरेशन की ओर से इन मांगों पर विचार करने ज्ञापन सौंपकर सप्ताहभर का समय दिया गया था पर शासन-प्रशासन की ओर से सकारात्मक रूख नहीं अपनाए जाने से शिक्षकों ने तय कर लिया है कि वे स्कूलों में तालाबंदी कर हड़ताल शुरू कर देंगे। आंदोलन को लेकर शिक्षकों के सभी संगठनों की लगातार बैठकें हो रही है। फेडरेशन की ओर से क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों को भी मांगों से अवगत कराया जा रहा है पर जनप्रतिनिधि भी अफसरों से चर्चा करने की बात कहने के अलावा कुछ नहीं बता पा रहे हैं। इस वजह से शिक्षक संगठनों में रोष व्याप्त है। दो दौर की बैठक भी हो चुकी है पर कोई नतीजा सामने नहीं आया।

छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन के जिलाध्यक्ष शंकर साहू ने बताया कि गत दिनों जिला कलेक्टर, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी व जिला शिक्षाधिकारी को पूर्व से लम्बित मांगों को एक सप्ताह के अंदर पूरा करने मांगपत्र सह अल्टीमेटम दिया गया था। परंतु आज पर्यंत हमारी मांगों पर किसी भी प्रकार की कार्यवाही नहीं की गई है, जिसके कारण जिले भर के शिक्षकों में रोष व्याप्त है। इस कारण आंदोलन में जाने के लिए बाध्य हो गए हैं, जिसकी संपूर्ण जवाबदारी शासन-प्रशासन की होगी।

चर्चा में हल नहीं निकला

एक वर्षों से ज्ञापन उच्चाधिकारियों को देकर बातचीत कर समस्याओं को हल करने का प्रयास फेडरेशन के द्वारा किया गया। अब जिले भर के शिक्षकों द्वारा 22 सूत्रीय मांगों की पूर्ति के लिए संकुल स्तर से ब्लॉक व जिला स्तर पर बैठकों का दौर लगातार जारी है। भेदभाव पूर्ण स्थानांतरण व अध्यापन व्यवस्था के तहत जिले के सैकड़ों शिक्षकों को लगभग 100-125 किलोमीटर दूर भेज दिया गया है, जिस पर तत्काल रोक लगाकर स्थानान्तरित शिक्षकों को उनके मूल शाला में वापस भेजने। 1 जुलाई 2019 को 8 वर्ष पूर्ण कर चुके शिक्षकों को संविलियन वेतन माह-जुलाई, अगस्त, सितम्बर 2019 तीनों माह की अतिशीघ्र प्रदान करने की मांग।

शिक्षकों की है ये मांगें

सहायक शिक्षक एलबी संवर्ग का समयमान/क्रमोन्नत वेतनमान के आधार पर रिवाइज्ड एलपीसी जारी कर नव निर्धारित वेतनमान व एरियर्स राशि का भुगतान करने की मांग की जा रही है। राजनांदगांव जिले के अंतर्गत राजीव गांधी शिक्षा मिशन के अंतर्गत बहुत से शिक्षकों को नौकरी लगने के बाद से आज पर्यन्त तक किसी भी प्रकार से एरियर्स राशि प्राप्त नहीं हुआ है, उन सभी शिक्षकों को तत्काल एरियर्स राशि प्रदान करने। स्थानांतरण नियमों का पालन, नियम विरुद्ध किए गए ट्रांसफर आदेश को निरस्त कर सभी शिक्षकों को उनके मूल शाला में वापस पदस्थ किए जाने व अन्य मांगों को लेकर आंदोलन जारी है।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना