कुओं व नदियों को साफ रखने में हो लोगों की भागीदारी

Rajnandgaon News - मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मासिक रेडियो कार्यक्रम लोकवाणी लोगों से पुराने कुओं की साफ-सफाई कराने और नदियों को साफ...

Nov 11, 2019, 07:50 AM IST
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मासिक रेडियो कार्यक्रम लोकवाणी लोगों से पुराने कुओं की साफ-सफाई कराने और नदियों को साफ रखने में मदद करने की और नालियों में कचरा नहीं डालने की अपील की है।

मुख्यमंत्री ने लोकवाणी के चौथे प्रसारण में रविवार को नगरीय विकास का नया दौर विषय पर अपनी बात रखीं। उन्होंने इस कार्यक्रम में प्रदेश की जनता के सवालों का जवाब दिया। नगरीय क्षेत्रों में शासन द्वारा किए जा रहे विकास कार्यो व कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि शहरों का नियोजित विकास, उत्साह से भरपूर और खुशनुमा वातावरण का निर्माण हमारी प्राथमिकता है। मुख्यमंत्री ने नगरीय विकास के संबंध में लोगों द्वारा पूछे गए सवालों का जवाब देते हुए कहा कि नगरीय क्षेत्रों में वर्षा जल संचय और नागरिकों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने अनेक योजनाओं संचालित है। उन्होंने कहा कि पेयजल और नगर की बसाहट बुनियादी जरूरतें हैं। सच में भू-जल स्तर का गिरना चिंता का विषय है और इसका सबसे बड़ा कारण हमारे शहरों का विकास, सीमेंट कांक्रीट के जंगल की तरह किया जाना है। शहरों के बहुत से हिस्से, घरों, व्यवसायिक भवनों, सड़कों आदि के कारण इतने ठोस हो गए हैं कि बरसात का पानी भी जमीन के भीतर नहीं जा पाता। भूमिगत जल स्तर को बनाए रखने के लिए बहुत जरूरी है कि सतह का पानी रिस-रिसकर जमीन के भीतर जाए। मुख्यमंत्री बघेल की लोकवाणी रविवार को जिले के शहरों, गांवों और चौक-चौराहों में भी सुनी गई। शहर के जय स्तम्भ चौक में नगर निगम राजनांदगांव के नेता प्रतिपक्ष हफीज खान, शहर कांग्रेस अध्यक्ष व पार्षद कुलबीर छाबड़ा, प्रज्ञा पंकज गुप्ता, दुलारी बाई साहू ने लोकवाणी सुनी।

राजनांदगांव.कांग्रेस ने जयस्तंभ चौक में मासिक रेडिया कार्यक्रम को सुना।

भूमिहीन परिवारों को मिलने लगा पट्‌टा

मुख्यमंत्री ने लोकवाणी के जरिए बताया कि जब हमने सरकार की बागडोर सम्हाली तब प्रदेश में मोर जमीन-मोर मकान योजना के तहत सिर्फ 8 हजार मकान बने थे, जबकि 11 महीने में 40 हजार मकान बन गए। हमने राजीव गांधी आश्रय योजना का आगाज किया और कानून में संशोधन किया ताकि शहरी क्षेत्रों में रहने वाले भूमिहीन परिवारों को उनके नाम से पट्टा मिले, नियमितीकरण हो। इस योजना का लाभ एक लाख लोगों को मिलेगा। आबादी पट्टों का वितरण होने लगा है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना