• Hindi News
  • Chhattisgarh
  • Rajnandgaon
  • Rajnandgaon News chhattisgarh news proposal to open 11 new procurement centers in the district due to festival new paddy arrivals started in mandi

जिले में 11 नए खरीदी केंद्र खोलने का प्रस्ताव, इधर त्योहार के चलते मंडी में शुरू हुई नए धान की आवक

Rajnandgaon News - नवंबर माह से शुरू होने वाले धान खरीदी के लिए प्रशासन स्तर पर तैयारी शुरू हो गई है। किसानों की सुविधा को देखते हुए...

Oct 13, 2019, 07:35 AM IST
नवंबर माह से शुरू होने वाले धान खरीदी के लिए प्रशासन स्तर पर तैयारी शुरू हो गई है। किसानों की सुविधा को देखते हुए जिले में 11 नए धान खरीदी केन्द्र खोलने के लिए राज्य शासन को प्रस्ताव भेजा गया है। जल्द मंजूरी मिलने की उम्मीद जताई जा रही है। नए केन्द्रों के खुलने से किसानों को उपज बेचने के लिए लंबी दूरी तय नहीं करनी पड़ेगी। इधर दीपावली पर्व की नजदीकी के चलते कृषि उपज मंडी में नए धान की आवक भी शुरू हो गई है। शनिवार को महामाया धान 1650 रुपए से 1925 रुपए क्विंटल धान की बिक्री हुई है। अन्य उपज भी अच्छे दाम में बिके।

अफसर फिलहाल धान खरीदी की नई नीति का इंतजार कर रहे हैं। इसके बाद तैयारी को अंतिम रूप दिया जाएगा। जिले के खैरागढ़ क्षेत्र में 1, साल्हेवारा में 2, घुमका सोसाइटी क्षेत्र में 2, अंबागढ़ चौकी क्षेत्र में दो और अन्य ब्लॉक के सोसाइटियों में भी खरीदी केन्द्रों की संख्या बढ़ाने के लिए किसानों की ओर से मांग पत्र आया है। किसानों का कहना है कि खरीदी केन्द्र की दूरी अधिक होने व सोसाइटियों में किसान संख्या अधिक होने की वजह से उपज बेचने में दिक्कत होती है। यही वजह है कि किसानों की भीड़ लगने पर लंबे समय तक किसानों को उपज बेचने इंतजार करना पड़ता है।

फसल पककर तैयार: 1650 से लेकर1925 रु. प्रति क्विंटल में बिका महामाया

राजनांदगांव. हरूना किस्म के धान पक कर तैयार हो गए।

यहां के किसान परेशान

खरीदी केन्द्रों में धान जाम होने की समस्या भी इसी के कारण से बनी रहती है। इसलिए किसानों की मांग को देखते हुए प्रशासन की ओर से नए केन्द्र खोलने के लिए प्रस्ताव भेज दिया गया है। इसकी स्वीकृति का इंतजार किया जा रहा है। विशेषकर वनांचल के किसानों को उपज बेचने में ज्यादा दिक्कतों को सामना करना पड़ता है। मानपुर, मोहला, अंबागढ़ चौकी सहित साल्हेवारा क्षेत्र में किसानों को 8 से 10 किलोमीटर तक भी उपज बेचने जाना पड़ जाता है। इधर दीपावली पर्व की नजदीकी के चलते किसान समर्थन मूल्य में धान खरीदी का इंतजार न करते हुए सीधे कृषि उपज मंडी में धान लाकर बेच रहे हैं। नया धान अच्छी कीमत में भी बिक रहा है।

आवक तेज होने लगी

शनिवार को मंडी में 8 हजार कट्‌टा धान की आवक हुई,जिसमें 100 कट्‌टा धान महामाया किस्म का था। मंडी के अधिकारियों ने बताया कि श्रीराम धान 1950 रुपए से 2 हजार क्विंटल तक बिका। दरअसल यह धान पतले किस्म का है और इसकी चावल की क्वालिटी बेहतर होती है। इस वजह से अच्छी कीमत पर बिका। इसी तरह सरना 1500 से 1524 रुपए, एक हजार 10 धान 1500 से 1549 रुपए, डीबी सफरी 1615 से 1625 रुपए क्विंटल में बिका। वहीं सोयाबीन की आवक भी शुरू हो गई है। सोयाबीन 3 हजार से 3260 रुपए क्विंटल में बिक रहा है। मंडी सचिव आरके देशमुख ने बताया कि मंडी में नए धान की आवक हो रही है।

इधर आंदोलन की तैयारी में किसान

संपूर्ण कर्ज माफी और दो साल के शेष बोनस की मांग को लेकर जिला किसान संघ के बैनर तले जिले के किसान 14 अक्टूबर को प्रदर्शन की तैयारी में हैं। कलेक्टोरेट के सामने धरना देंगे। वहीं वादा याद दिलाने के लिए तगादा रैली भी निकाली जाएगी। जिला किसान संघ के प्रमुख सुदेश टीकम ने बताया कि आंदोलन में बड़ी संख्या में किसान शामिल होंगे। गांव-गांव में बैठकों का दौर चल रहा है। जहां रणनीति बनाई जा रही है।

प्रस्ताव भेज दिया गया है, स्वीकृति का इंतजार


X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना