जिपं अध्यक्ष प्रेमबाई के कांग्रेस प्रवेश की घोषणा की थी, दूसरे दिन भाजपा में लौट गईं

Rajnandgaon News - जिला पंचायत की राजनीति में पूर्व जिपं अध्यक्ष स्व. प्रेमबाई मंडावी को जबरन कांग्रेस प्रवेश कराने का मामला सबसे...

Jan 15, 2020, 07:46 AM IST
Rajnandgaon News - chhattisgarh news the announcement of the congress entry of the president premabai returned to the bjp on the second day
जिला पंचायत की राजनीति में पूर्व जिपं अध्यक्ष स्व. प्रेमबाई मंडावी को जबरन कांग्रेस प्रवेश कराने का मामला सबसे चर्चित और विवादास्पद रहा। इस मामले में पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी पर आरोप लगे थे। भाजपा ने तो कांग्रेस नेताओं की ओर से दिए गए ढाई लाख रुपए को सार्वजनिक भी किया था। इसके बाद कांग्रेस की जमकर किरकिरी हुई थी। इस मामले के पटाक्षेप होने पर भाजपा को विधानसभा के चुनाव में अच्छा रिस्पांस मिल गया था। यही वजह है कि भाजपा के केन्द्रीय नेतृत्व ने स्व. प्रेमबाई को इनाम बतौर राष्ट्रीय आदिवासी आयोग का सदस्य बनाया था।

प्रेमबाई को भाजपा ने 2000 के जिपं चुनाव में प्रत्याशी बनाया था। प्रेमबाई एससी आरक्षित क्षेत्र से जीतकर जिला पंचायत पहुंची थीं। अध्यक्ष का पद आदिवासी वर्ग के लिए आरक्षित होने की वजह से भाजपा ने अध्यक्ष पद का प्रत्याशी घोषित कर दिया था। चुनाव में कांग्रेस की ओर से की गई क्रॉस वोटिंग की मदद से प्रेमबाई अध्यक्ष बन गई थीं। 1 मार्च से 2000 से मई 2004 तक इनका कार्यकाल रहा।

ढाई लाख रुपए देकर कांग्रेस प्रवेश कराए जाने का यह मामला था चर्चित

मंडावी के जनाधार को ही देखकर बनाई थी रणनीति

अध्यक्ष रहने के दौरान ही कांग्रेस नेताओं ने प्रेमबाई के बढ़ते जनाधार को देखते हुए पार्टी में शामिल करने की रणनीति बनाई थी। स्व. प्रेमबाई को कांग्रेस के नेता राजधानी ले गए थे और वहां कांग्रेस प्रवेश की घोषणा कर दी गई थी। उस दौर में सक्रिय रहे भाजपा नेता प्रदीप गांधी सहित अन्य नेताओं ने दूसरे दिन राजधानी में प्रेस कॉन्फ्रेंस लेकर सार्वजनिक कर दिया था कि कांग्रेस के नेता दबाव डालकर पार्टी प्रवेश की घोषणा किए थे।

जब्त रकम को पुलिस के हवाले किया गया था

प्रेस कॉन्फ्रेंस में मंडावी ने कांग्रेस नेताओं पर जबरन प्रवेश की घोषणा करने का आरोप लगाया था। इसके बाद यह मामला प्रदेश की राजनीति में चर्चे में रहा। पूर्व सांसद प्रदीप गांधी ने बताया कि इस मामले के खुलासे के बाद जब्त किए गए पैसे को पुलिस के हवाले किया गया था। बताया कि केन्द्रीय नेतृत्व ने प्रेम बाई के संघर्ष पार्टी के प्रति समर्पण भावना को देखते हुए राष्ट्रीय स्तर पर जिम्मेदारी दी थी।

X
Rajnandgaon News - chhattisgarh news the announcement of the congress entry of the president premabai returned to the bjp on the second day
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना