उपकार करने वाले को कभी नहीं भूलना चाहिए : साध्वी

Rajnandgaon News - राजनांदगांव|जैन बगीचे में शुक्रवार को जैन साध्वी सम्यग्दर्शना ने कहा संसार के जितने भी पद हैं, वे सारे के सारे भूत...

Oct 12, 2019, 07:51 AM IST
राजनांदगांव|जैन बगीचे में शुक्रवार को जैन साध्वी सम्यग्दर्शना ने कहा संसार के जितने भी पद हैं, वे सारे के सारे भूत हो जाएंगे किंतु आचार्य, उपाध्याय एवं साधुओं का पद कभी भूत नहीं होता। भूतपूर्व अध्यक्ष, भूतपूर्व उपाध्यक्ष हो सकते हैं लेकिन भूतपूर्व आचार्य या भूतपूर्व उपाध्याय नहीं हो सकता। आचार्य, उपाध्याय एवं साधुओं के पद में अलग जाता है तो वह अभूतपूर्व हो जाता है। व्यक्ति को धैर्य रखना चाहिए। मन में बदले की भावना नहीं होनी चाहिए और उपकार करने वालों के उपकार को नहीं भूलना चाहिए। धैर्य रखोगे तो मन में धर्म आ जाएगा। कई व्यक्ति पाप और पुण्य को नहीं समझते और उन्हें कितनी परेशानी भी क्यों न आ जाए, वे पाप करना नहीं छोड़ते, इसीलिए वे भुगतते भी रहते हैं। उन्हें देखकर ऐसा लगता है कि जब तक पाप का घड़ा न फूट जाए तब तक ये पाप करते ही रहेंगे। जिस दिन धर्म हमारे भीतर समा गया या फिर हमने धर्म को आत्मसात कर लिया, उस दिन से हम जीव को मारना नहीं चाहेंगे। भले ही जीव हमारे शरीर में चिपक कर हमें नुकसान क्यों न पहुंचा रहा हो। हम अपनी चमड़ी काटना स्वीकार करेंगे, लेकिन जीव को कोई नुकसान पहुंचाना स्वीकार नहीं कर पाएंगे। ऐसी परिस्थिति जब भीतर आ जाए तब समझ लीजिए धर्म को हमने आत्मसात कर लिया है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना