लाइसेंस है ही नहीं और शिक्षा विभाग ने समूहों को दे दिया खाना बनाने का ठेका

Rajnandgaon News - लाइसेंस है नहीं लेकिन शिक्षा विभाग ने तीन हजार से अधिक महिला समूहों को सरकारी स्कूलों में खाना बनाने का ठेका दे...

Bhaskar News Network

Nov 11, 2019, 07:51 AM IST
Rajnandgaon News - chhattisgarh news there is no license and the education department gave the contract to the groups to cook
लाइसेंस है नहीं लेकिन शिक्षा विभाग ने तीन हजार से अधिक महिला समूहों को सरकारी स्कूलों में खाना बनाने का ठेका दे रखा है। ये खुले तौर पर नियमों का उल्लंघन है। फिर भी विभागीय अधिकारी इस मामले में किसी तरह की कार्रवाई नहीं कर रहे हैं। क्योंकि फूड सेफ्टी विभाग से लाइसेंस लेने के लिए समूहों को खाद्य सुरक्षा अधिनियम व मापदंडों को पूरा करना होगा। जब भास्कर ने इस मसले पर डीईओ हेमंत उपाध्याय से चर्चा की तो उन्होंने कहा कि पंचायत स्तर पर ही समूहों को रसोई का ठेका दिया जाता है। हालांकि कायदे से इसका नियमों का पालन किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस संबंध में निर्देश दिए जाएंगे।

आए दिन स्कूलों में मध्याह्न भोजन में गड़बड़ी की शिकायत आती है, छोटी कार्रवाई कर मामले को दबा दिया जाता है। फूड सेफ्टी विभाग का लाइसेंस होने पर रसोइया समूह खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत आ जाएंगे। जब कभी भी गड़बड़ी होगी तब फूड सेफ्टी डिपार्टमेंट से कानूनी कार्रवाई की जाएगी। जुर्माना लगाया जाएगा। अभी ऐसा नहीं हो रहा है। गौरतलब है कि शिक्षा विभाग में शासन के नियमों की जमकर धज्जियां उड़ाई जा रही है।

राजनांदगांव जिले के स्कूलों में मध्याह्न भोजन बनाने वाली 3668 महिला समूहों में से सिर्फ 100 समूहों ने फूड सेफ्टी विभाग से लाइसेंस लिया है, 3500से अधिक समूह बिना लाइसेंस के ही भोजन बना रही है। ऐसे में भोजन की गुणवत्ता पर बड़ा सवाल खड़ा हो गया है। फिर भी अधिकारी इस मामले में कार्रवाई करने के लिए तैयार नहीं है।



X
Rajnandgaon News - chhattisgarh news there is no license and the education department gave the contract to the groups to cook
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना