महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने दिया जा रहा प्रशिक्षण

Rajnandgaon News - सोशल ऑर्गेनाइजेशन फॉर कम्युनिटी हेल्थ सोच संस्था डोंगरगढ़ के सबला परियोजना के अंतर्गत भारत सरकार एमएसएमई व...

Bhaskar News Network

Oct 12, 2019, 07:55 AM IST
Rajnandgaon News - chhattisgarh news training is being given to make women self reliant
सोशल ऑर्गेनाइजेशन फॉर कम्युनिटी हेल्थ सोच संस्था डोंगरगढ़ के सबला परियोजना के अंतर्गत भारत सरकार एमएसएमई व इंस्टीट्यूट फॉर इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट के तकनीकी सहयोग से राजनांदगांव जिले के 10 ब्लॉकों में महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए व स्वरोजगार उत्पन्न करने के लिए विभिन्न रोजगारोन्मुखी व्यवसायों के तहत लघु उद्योग प्रारंभ करवाया जा रहा है। इसमें बाती बनाने के लिए महिलाओ‌ं को संस्था द्वारा मशीन उपलब्ध कराई जा रही है। संस्था द्वारा महिलाओं को बाती बनाने की मशीन से बाती कैसे बनाना है का प्रशिक्षण दिया जा रहा है, इसमें अब तक 350 महिलाओं को प्रशिक्षण दिया जा चुका है व निरंतर जारी है। साथ ही खैरागढ़ ब्लॉक में भी सामाजिक कार्यकर्ता त्रिवेणी पटेल के नेतृत्व में खैरागढ़ की 150 महिलाओं को भी प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

बाती बनाने की परियोजना के तहत संस्था द्वारा तैयार बाती को खरीदने के लिए 5 वर्ष का अनुबंध भी किया जा रहा है। इससे महिलाओं को अपने तैयार किए गए बाती को बेचने में दिक्कत न हो व उन्हें प्रतिदिन कम से कम 750 रुपए से 1000 रुपए तक का लाभ मिले। परियोजना के तहत 10 ब्लॉकों में 2500 महिलाओं को स्वरोजगार स्थापना का लाभ मिलेगा। अन्य योजना के तहत स्व सहायता समूहों को एल्कलाइन पेयजल योजना के तहत छत्तीसगढ़ के 140 ब्लॉकों में 140 एल्कलाइन आरओ प्लांट के लिए स्व सहायता समूहों को वित्तीय व तकनीकी सहायता उपलब्ध कराने का कार्य भी प्रारंभ कर दिया गया है। इसमें प्रत्येक प्लांट में 10 महिलाओं को स्वरोजगार उपलब्ध होगा तथा सभी मिलाकर 1400 महिलाओं को स्वरोजगार मिलेगा।

डोंगरगढ़. महिलाओं को प्रशिक्षण देकर बना रहे आत्मनिर्भर।

स्वरोजगार देकर आत्मनिर्भर बनाने इन पर भी होगा काम

महिलाओं को अन्य योजनाओं में आत्मनिर्भर बनाने के लिए लघु उद्योग के रुप में हेयर बैंड, बो, पेंसिल, पेन आदि के उत्पादन के लिए शीघ्र ही संस्था द्वारा प्रशिक्षण कार्यक्रम प्रारंभ किया जा रहा है। उक्त परियोजनाओं का बजट तैयार किया जा रहा है। परियोजनाओं के तहत लघु उद्योगों द्वारा अधिक से अधिक महिलाओं को स्वरोजगार देकर आत्मनिर्भर बनाना है। प्रशिक्षण में सोच संस्था से प्रणय मेश्राम, तकनीकी समन्वयक छाया खोब्रागढ़े, परियोजना प्रमुख कमलेश उज्वने शामिल है।

X
Rajnandgaon News - chhattisgarh news training is being given to make women self reliant
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना