• Hindi News
  • National
  • Rajnandgaon News Chhattisgarh News Uproar After Cow39s Death In Goshala Doctor Absent

गोशाला में गाय की मौत के बाद हंगामा, डाॅक्टर नदारद

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

दिग्विजय स्टेडियम के बाजू में संचालित गौशाला पिंजरा पोल में मवेशियों की देखरेख में लापरवाही बरती जा रही है। मवेशियों के मृत होने पर पोस्टमार्टम तक नहीं कराया जा रहा है। बड़ी बात यह है कि चार माह से यहां पशु चिकित्सा विभाग के डॉक्टर झांकने नहीं आएं हैं। गायों को इंजेक्शन लगाने का काम कंप्यूटर ऑपरेटर को दिया गया है।

रविवार को एक घायल गायों को गौशाला छोड़ने गए गो सेवकों ने अव्यवस्था देखकर प्रबंधन को सवालों से घेरा। गोशाला परिसर में एक गाय मृत पड़ी थी। उसे ढंका नहीं गया था, इस वजह से चमगादड़ ने गाय की एक आंख को नोच लिया। यह देखकर गो सेवक आक्रोशित हो गए और मौके पर मौजूद मैनेजर से पूछा कि गाय का इलाज क्यों नहीं कराया जा रहा है तो बताया गया कि चार माह से सरकारी डॉक्टर नहीं आ रहे हैं।

कंप्यूटर ऑपरेटर के भरोसे: एक कंप्यूटर ऑपरेटर को पशुओं के इलाज की ट्रेनिंग देने की बात कही गई। बताया कि ऑपरेटर ही गायों को इंजेक्शन लगाता है। इस बात पर गो सेवक आक्रोशित हो गए। गो सेवक त्रिगुण सदानी के साथ ही पार्षद ऋषि शास्त्री सहित अन्य लोगों ने अव्यवस्था देखकर मैनेजर से पूछा कि जब शासन की ओर से अनुदान दिया जा रहा है तो फिर देखरेख में बदइंतजामी क्यों कर रहे हैं।

कॉल रिसीव नहीं किया: मैनेजर इसका ठीक से जवाब नहीं दे पाए। गो सेवकों ने पशु चिकित्सा विभाग के डॉक्टर से संपर्क करना चाहा पर उन्होंने कॉल रिसीव नहीं किया। सदानी ने बताया कि व्यवस्था नहीं सुधारी गई तो जल्द सड़क की लड़ाई लड़ेंगे।

खबरें और भी हैं...