• Hindi News
  • Coronavirus
  • Cases Of Omicron In India 1002; New Variant Reached In 24 States Of The Country In 28 Days; Maximum 450 Cases In Maharashtra, First Death Is Also Here

भारत में ओमिक्रॉन के केस 1 हजार पार:29 दिन में 26 राज्यों/UT में पहुंचा नया वैरिएंट; महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 450 केस, देश की पहली मौत भी यहीं

नई दिल्ली5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

देश में ओमिक्रॉन के मरीजों की तादाद शुक्रवार को 1 हजार के आंकड़े को पार कर गई है। भारत में सिर्फ 29 दिनों में ही 26 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में ओमिक्रॉन के मरीजों की कुल संख्या 1315 के आंकड़े तक पहुंच गई।

महाराष्ट्र में नए वैरिएंट के केस 450 तक हो गए हैं। यह देश में सबसे ज्यादा है। यहां गुरुवार को एक ही दिन में रिकॉर्ड 198 मरीज मिले हैं। न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक, ओमिक्रॉन से पहली मौत भी महाराष्ट्र में ही दर्ज की गई है।

नाइजीरिया से लौटे संक्रमित की मौत
देश में ओमिक्रॉन से पहली मौत महाराष्ट्र में दर्ज की गई है। यहां 52 साल के ओमिक्रॉन संक्रमित की मौत दिल का दौरा पढ़ने से हुई है। न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक, मरीज की मौत 28 दिसंबर को ही हो गई थी। नाइजीरिया से लौटे इस शख्स का इलाज पिंपरी चिंचवाड म्यूनिसिपल कॉरपोर्रेशन के यशवंत चव्हाण अस्पताल में चल रहा था। वह 13 साल से डायबिटीज का शिकार था।

हालांकि राज्य सरकार ने इसे नॉन-कोविड कारणों से हुई मौत माना है। राज्य के पब्लिक हेल्थ डिपार्टमेंट ने बताया कि यह संयोग है कि नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी को भेजे गए मरने वाले के सैंपल्स के जीनोम सीक्वेंसिंग की आज आई रिपोर्ट से पता चला कि वह ओमिक्रॉन संक्रमित है।

2 दिसंबर को मिला था पहला ओमिक्रॉन केस
देश में ओमिक्रॉन के सबसे पहले दो मामले 2 दिसंबर को कर्नाटक में मिले थे। 14 दिसंबर को मामले बढ़कर 50 हुए। 17 दिसंबर को मामलों की संख्या 100 हुई। 200 केस होने में सिर्फ 5 दिन लगें। अब यह आंकड़ा 1 हजार के पार हो गया है।

यानी सिर्फ अगले 8 दिन में ही 200 से ओमिक्रॉन का आंकड़ा 5 गुना तेजी से बढ़कर 1 हजार की संख्या तक पहुंच गया। आंकड़ों को देखकर कहा जा सकता है कि इसके संक्रमण की रफ्तार बढ़ गई है।

401 ओमिक्रॉन संक्रमित ठीक हुए
देश में अब तक 401 ओमिक्रॉन संक्रमित ठीक हो चुके हैं। वहीं एक्टिव मरीजों की संख्या 914 है। देश में महाराष्ट्र के बाद दिल्ली ओमिक्रॉन के 320 मामलों के साथ दूसरे स्थान पर है। यहां 57 मरीज ठीक हो चुके हैं, जबकि 263 अभी भी इलाजरत हैं।

वहीं 97 केस के साथ गुजरात देशभर में तीसरे नंबर पर है। यहां कुल 97 मरीज हैं, जिनमें से 44 रिकवर हो चुके हैं और 53 अभी भी इलाज करवा रहे हैं। वहीं राजस्थान (69) और केरल (65) चौथे और पांचवें स्थान पर हैं।

8 राज्यों में ओमिक्रॉन के मरीज नहीं
देश के 8 राज्य अभी भी ओमिक्रॉन से बचे हुए हैं। इनमें झारखंड, छत्तीसगढ़, सिक्किम, मिजोरम, त्रिपुरा, नगालैंड, अरुणाचल प्रदेश और मेघालय शामिल हैं।

121 देशों में फैला ओमिक्रॉन
हेल्थ मिनिस्ट्री के मुताबिक, दुनियाभर के 121 देशों में ओमिक्रॉन पहुंच चुका है। इससे अब तक 3.30 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं, वहीं 59 लोगों की नए वैरिएंट से मौत भी हुई है। 25 नवंबर को दक्षिण अफ्रीका में इस वैरिएंट के केस की पहचान हुई थी। इसके बाद 26 दिसंबर को WHO ने इसे वैरिएंट ऑफ कंसर्न घोषित करते हुए इसका नाम ओमिक्रॉन रखा था।