• Hindi News
  • Coronavirus
  • Coronavirus India Italy Germany | Coronavirus Lockdown In India Latest Vs Italy Coronavirus Cases Death Toll, Germany, (USA) America Coronavirus (COVID 19) Cases Death Toll Latest News Updates:

लॉकडाउन के बाद भी जर्मनी में युवा पार्टी कर रहे थे, अमेरिका में बीच पर लोग डांस कर रहे थे; अब इसी रास्ते पर भारतीय

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
तस्वीर अमेरिका के साउथ कैरोलिना सिटी के इस्ले पाम बीच की है। यहां पाबंदियों के बीच लोग पार्टी कर रहे थे। - Dainik Bhaskar
तस्वीर अमेरिका के साउथ कैरोलिना सिटी के इस्ले पाम बीच की है। यहां पाबंदियों के बीच लोग पार्टी कर रहे थे।
  • जिन देशों में लोगों ने लॉकडाउन को तोड़ा, अब वहीं हालात सबसे बदतर हो गए
  • जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल भी एक सुपर मार्केट में खरीदारी करती दिखी थीं
  • भारत के कई जिलों में लॉकडाउन के बावजूद लोग सड़कों पर घूमते नजर आए
  • इटली, स्पेन, फ्रांस में लॉकडाउन तोड़ने वालों को रोकने के लिए सेना लगाई गई

नई दिल्ली/न्यूयॉर्क/मिलान. भारत की जनता अब लॉकडाउन का मजाक उड़ा रही है। पहले रविवार को गुजरात, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों में यह देखने में आया कि कुछ लोग शाम को 5 बजते ही सड़कों पर आ गए। वे जुलूस की शक्ल में बाहर निकलकर थाली, घंटी और शंख बजाने लगे। कुछ जगहों पर तिरंगा भी फहराया गया। जबकि यह वक्त सोशल डिस्टेंसिंग का था। इसके बाद सोमवार को देश के जिन जिलों में लॉकडाउन है, वहां बाजार में बड़ी संख्या में लोग बाहर घूमते और बाजार में खरीदारी करते दिखे। इससे कई जिलों में लॉकडाउन बेअसर दिख रहा है। भारत में लोग कोरोनावायरस और लॉकडाउन को बहुत हल्के में लेते हुए दिखाई दे रहे हैं। ऐसे लोग न अपनी परवाह कर रहे हैं, न ही दूसरों की। इससे पहले ऐसा यूरोप के कई देशों में देखने में आया था, जब वहां की जनता ने लॉकडाउन का मजाक बनाया था। अब वे इसका खामियाजा भुगते रहे हैं। 

भारत में लॉकडाउन की तस्वीर

तस्वीर कोलकाता की है। यहां लॉकडाउन के बावजूद लोग बसों में इस तरह बैठकर जा रहे।
तस्वीर कोलकाता की है। यहां लॉकडाउन के बावजूद लोग बसों में इस तरह बैठकर जा रहे।

तस्वीर हैदराबाद की है। यहां लॉकडाउन के बावजूद इस तरह लोग खरीदारी करने बाजार पहुंचे।
तस्वीर हैदराबाद की है। यहां लॉकडाउन के बावजूद इस तरह लोग खरीदारी करने बाजार पहुंचे।

हैदराबाद पुलिस लोगों से हाथ जोड़कर घर में बैठने की अपील कर रही है।
हैदराबाद पुलिस लोगों से हाथ जोड़कर घर में बैठने की अपील कर रही है।

विदेश की तस्वीर...

लापरवाही का नतीजा: कोरोनावायरस के केस 28,572 और मौतें 1,720

तस्वीर कुछ दिन पहले की है। जब जर्मनी की चांसलर एक सुपर मार्केट में खरीदारी करने पहुंची थीं।
तस्वीर कुछ दिन पहले की है। जब जर्मनी की चांसलर एक सुपर मार्केट में खरीदारी करने पहुंची थीं।

जर्मनी में जब कोरोनावायरस शुरू हुआ तो वहां युवाओं ने कई जगहों पर कोरोना पार्टियां की थीं। कइयों ने बुजुर्गों पर जानबूझकर खांसा भी था। कोरोना का मीम बना रहे थे। लोगों पर कमेंट कर रहे थे। जर्मनी के दक्षिणी प्रांत बावेरिया के प्रेसिडेंट मार्कस जोएडर का कहना है कि यहां अब भी कोरोना पार्टियां हो रही हैं। कई युवा बुजुर्गों का मजाक बना रहे हैं, वे कोरोना-कोरोना भी चिल्ला रहे हैं। यहां ऐसे बहुत सारे ग्रुप हैं। इसके बाद जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने दो से ज्यादा लोगों के एक साथ खड़े होने पर प्रतिबंध लगा दिया, चाहे वे एक ही परिवार के क्यों न हों। चांसलर मर्केल ने भी खुद को आइसोलेट कर लिया है। मर्केल एक कोरोना से संक्रमित डॉक्टर के संपर्क में आ गई थीं। हालांकि कुछ दिन पहले मर्केल भी बर्लिन के एक सुपर मार्केट में खरीदारी करते दिखाई दी थीं। उनकी ट्रॉली में वाइन और टॉयलेट पेपर रखा हुआ था। 

तस्वीर जर्मनी के बर्लिन की है। यहां लॉकडाउन के बावजूद लोग पार्कों में पहुंच रहे थे।
तस्वीर जर्मनी के बर्लिन की है। यहां लॉकडाउन के बावजूद लोग पार्कों में पहुंच रहे थे।

लापरवाही का नतीजा:  कोरोनावायरस के केस 16,018 और मौतें 674

पेरिस में लॉकडाउन के बावजूद लोग सब्जी मार्केट में एकजुट हो रहे थे। ऐसे में अब पुलिस लगाई गई है।
पेरिस में लॉकडाउन के बावजूद लोग सब्जी मार्केट में एकजुट हो रहे थे। ऐसे में अब पुलिस लगाई गई है।

फ्रांस में लॉकडाउन है। इसके बावजूद काइट सर्फर, छात्र और अन्य लोग मस्ती करने बीच पर निकल रहे थे। वायरस को फैलने से रोकने के लिए वे न तो लॉकडाउन को मान रहे थे और न ही डॉक्टरों की सलाह को। ऐसे में अधिकारियों को उनके खिलाफ कदम उठाने पड़े। फ्रांस के गृह मंत्री क्रिस्टॉफ कैस्टानेर ने कहा कि कुछ लोग नियमों को तोड़कर खुद को हीरो समझते हैं, जबकि ऐसा नहीं है। ये लोग मूर्ख हैं। ये खुद और अपनों लिए ही खतरा बन रहे हैं। बड़ी संख्या में लोग पार्टी और क्लबों में भी जा रहे थे। सरकार ने कहा कि शहर के लोगों की इन हरकतों से कोरोनावायरस ग्रामीण इलाकों और समुद्री बीचों पर पहुंच सकता है, जहां उसे रोकना मुश्किल होगा। क्योंकि इन इलाकों में स्वास्थ्य सेवाएं ज्यादा बेहतर नहीं हैं।  पेरिस में सीन नदी के किनारे टहलने पर रोक लगा दी गई है। वहीं, बीचों के शहर नीस में रात का कर्फ्यू लगा दिया गया है। फ्रांस में सड़कों पर अब पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं, जो लोगों के घरों से निकलने पर रोक लगा रहे हैं। जो लोग लॉकडाउन को तोड़ रहे हैं, उन पर जुर्माना लगाया जा रहा है। कुल 17 हजार पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं। राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों ने लॉकडाउन को 15 दिन बढ़ाने का ऐलान किया है।

पेरिस में सीन नदी के किनारे पुलिस गश्त तेज कर दी है। यहां आने वालों को गिरफ्तार किया जा रहा है।
पेरिस में सीन नदी के किनारे पुलिस गश्त तेज कर दी है। यहां आने वालों को गिरफ्तार किया जा रहा है।

लापरवाही का नतीजा: कोरोनावायरस के केस 33,018 और मौतें 428

नॉर्थ कैरोलिना के इस्ले पाम बीच पर लोग पाबंदियों के बावजूद पार्टी कर रहे थे। इसे अब बंद कर दिया गया है।
नॉर्थ कैरोलिना के इस्ले पाम बीच पर लोग पाबंदियों के बावजूद पार्टी कर रहे थे। इसे अब बंद कर दिया गया है।

फ्लोरिडा के गवर्नर ने सभी बीचों को बंद कर दिया है। पिछले दिनों यहां बीच पर छात्रों ने पार्टी की थी। डांस भी किया था। जबकि सरकार ने लोगों को बीचों पर जाने से मना किया था। न्यूयॉर्क के गवर्नर एंड्रयू क्युमो ने शनिवार को कहा कि उनके राज्य में जितने भी कोरोना वायरस के मामले सामने आए हैं, उनमें आधे से ज्यादा 18 से 49 साल की उम्र के बीच हैं। युवाओं को चेतावनी देते हुए उन्होंने कहा कि आप कोई सुपरमैन या फिर सुपरवूमन नहीं हैं, जो कोरोना आपको नहीं हो सकता। न्यूयॉर्क के सिटी पार्कों में लोग एक-दूसरे से दूरी बनाए रखने के नियम का पालन नहीं कर रहे थे। इसके बाद यहां भी रविवार रात से लोगों के मिलने-जुलने और जमा होने पर रोक लगा दी गई है।

तस्वीर न्यूयॉर्क की है। यहां पार्कों में जाने पर रोक लगा दी गई है।
तस्वीर न्यूयॉर्क की है। यहां पार्कों में जाने पर रोक लगा दी गई है।

लापरवाही का नतीजा: कोरोनावायरस के केस 59,138 और मौतें 5,476

इटली के मिलान में लॉकडाउन के बावजूद लोग सुपरमार्केट पहुंच रहे थे। अब आर्मी तैनात कर दी गई है।
इटली के मिलान में लॉकडाउन के बावजूद लोग सुपरमार्केट पहुंच रहे थे। अब आर्मी तैनात कर दी गई है।

कोरोनावायरस को हल्के में लेना इटली को भारी पड़ गया है। यहां सरकार ने 10 मार्च को लॉकडाउन घोषित किया था। लेकिन इसका कड़ाई से पालन नहीं कराया गया। लॉकडाउन के बावूजद इटली के कई शहरों में लोग शॉपिंग करते रहे, रेस्टोरेंट्स में खाना खाते रहे, बार और क्लब में लेटनाइट पार्टी करते रहे, मार्केट में घूमते रहे। इसके चलते इटली सरकार ने अब देश भर में आर्मी तैनात कर दी है, ताकि लोग घरों से बाहर न निकल सकें। इटली के लोम्बार्डी में भी लॉकडाउन का कड़ाई से पालन नहीं हुआ। यहां पहले राज्य सरकार ने खुद भी इसमें ढील बरतने को लेकर सहमति दी थी, लेकिन अब लोम्बार्डी क्षेत्र के प्रेसीडेंट ने कहा है कि आर्मी के इस्तेमाल से लोगों को जबरदस्ती घर में कैद करने में मदद मिलेगी।

लापरवाही का नतीजा: कोरोनावायरस के केस 28,572 और मौतें 1,720

स्पेन में लॉकडाउन को कामयाब बनाने के लिए सड़कों पर आर्मी तैनात की गई है।
स्पेन में लॉकडाउन को कामयाब बनाने के लिए सड़कों पर आर्मी तैनात की गई है।

स्पेन में पुलिस हेलिकॉप्टर की मदद से ऐसे लोगों को पकड़ रही है, जो बाहर जाकर लोगों से मिल रहे हैं। पुलिसकर्मी लोगों को हिदायत भी दे रहे हैं। कैटेलोनिया में एक महिला को उस वक्त पुलिस ने गिरफ्तार किया, जब वह एक मित्र से मिलने के लिए जा रही थी। उसने पुलिस को बताया कि उसकी दोस्ती डेटिंग ऐप के जरिए हुई थी। पुलिस चीफ कमिश्नर जोस एंजेल गोंजालेज कहते हैं कि जो लोग लॉकडाउन को तोड़ रहे हैं। यह गैर जिम्मेदाराना हरकत भाईचारे के खिलाफ है। अब लॉकडाउन तोड़ने वाले लोगों को पुलिस गिरफ्तार कर रही है और जुर्माना भी वसूल रही है।