• Hindi News
  • Coronavirus
  • Coronavirus Vaccine; India Emergency Use Approval To Corbevax Covovax And Molnupiravir

देश को 2 नई कोरोना वैक्सीन मिलीं:कोर्बेवैक्स और कोवोवैक्स के इमरजेंसी यूज को मंजूरी, एंटी-वायरल ड्रग मोलनुपिराविर को भी हरी झंडी

नई दिल्ली9 महीने पहले

ओमिक्रॉन के बढ़ते खतरे के बीच स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना की 2 नई वैक्सीन और एक एंटी-वायरल ड्रग्स के इमरजेंसी इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है। स्वाथ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने इस फैसले पर देश को बधाई दी है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने दो वैक्सीन कोर्बेवैक्स, कोवोवैक्स और एंटी-वायरल ड्रग मोलनुपिराविर के इमरजेंसी यूज की मंजूरी दी है।

स्वास्थ्य मंत्री मांडविया ने ट्वीट करके बताया कि कोर्बेवैक्स भारत में बनी पहली 'RBD प्रोटीन सब-यूनिट वैक्सीन' है। इसे हैदराबाद स्थित फर्म बायोलॉजिकल-E ने तैयार किया है। उन्होंने कहा कि यह हैट्रिक है। कोरोना की अब तक तीन वैक्सीन भारत में बनाई जा चुकी हैं। दो अन्य टीके जो भारत में बने हैं, उनमें भारत बायोटेक की कोवैक्सीन और सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) की कोवीशील्ड शामिल है।

'हमारी फार्मा इंडस्ट्री दुनिया के लिए संपत्ति'
मंडाविया ने कहा, 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई का नेतृत्व सामने आकर किया है। इन सभी मंजूरियों से कोरोना महामारी के खिलाफ वैश्विक लड़ाई को और मजबूती मिलेगी। हमारी फार्मा इंडस्ट्री दुनिया के लिए संपत्ति है। सर्वे भवन्तु सुखः सेवा सन्तु निरमयाः।'

कोरोना के गंभीर मरीजों पर मोलनुपिराविर का इस्तेमाल होगा
नैनोपार्टिकल वैक्सीन कोवेवैक्स का निर्माण पुणे स्थित SII की ओर से किया जाएगा। वहीं, एंटी-वारयल ड्रग मोलनुपिराविर को देश में 13 कंपनियां बनाएंगी। कोविड के गंभीर एडल्ट मरीजों में इमरजेंसी के हालात में इस ड्रग का इस्तेमाल होगा।

देश में अब तक 8 वैक्सीन्स को इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली
भारत में अब तक कोरोना की 8 वैक्सीन्स को ड्रग रेगुलेटर की ओर से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिल चुकी है। इनमें कोवीशील्ड, कोवैक्सीन, ZyCoV-D, स्पूतनिक V, मॉडर्ना, जॉनसन एंड जॉनसन, कोर्बेवैक्स और कोवोवैक्स शामिल हैं।

देश में फिलहाल कोरोना के 75,456 एक्टिव केस
देश में बीते दिन कोरोना के 6,358 नए केस मिले और 6,450 मरीज ठीक हुए। रिकवरी रेट 98.40% हो गया है। पिछले 24 घंटे में 293 संक्रमितों की मौत हुई, जिससे कुल मौतों की संख्या बढ़कर 4.80 लाख हो गई है। देश में अभी भी 75,456 कोरोना मरीजों का इलाज जारी है। मालूम हो कि अब तक 3.47 करोड़ कोरोना केस मिल चुके हैं।

खबरें और भी हैं...