पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Coronavirus
  • Coronavirus Airborne Virus | World Health Organization (WHO) Coronavirus Transmission Latest News Updates On Airborne Virus

कोरोना हवा से फैलता है:डब्ल्यूएचओ ने माना- कोरोनावायरस के हवा से फैलने के सबूत हैं; दो दिन पहले 32 देशों के 239 वैज्ञानिकों ने ऐसा ही दावा किया था

नई दिल्लीएक महीने पहले
  • डब्ल्यूएचओ ने कहा- हम हवा में फैलने के सबूतों को इकट्ठा कर समझ रहे हैं, हमारा काम जारी है
  • 32 देशों के 239 वैज्ञानिकों ने दावा किया था कि छोटे-छोटे कण हवा में कई घंटों तक बने रहते हैं
Advertisement
Advertisement

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने हवा से कोरोनावायरस फैलने की बात स्वीकार कर ली है। WHO की टेक्निकल लीड मारिया वान केरखोव ने कहा कि हम एयरबोर्न ट्रांसमिशन और एयरोसोल ट्रांसमिशन की संभावना से इनकार नहीं कर सकते हैं। WHOने पहले कहा था कि यह संक्रमण नाक और मुंह से फैलता है। इसके अलावा, संक्रमित सतह को छूने से भी यह ट्रांसमिट होता है।

जिनेवा में प्रेस कॉन्फ्रेंस में WHO की अफसर बेनेडेटा अल्लेग्रांजी ने कहा कि कोरोना के हवा के माध्यम से फैलने के सबूत तो मिल रहे हैं, लेकिन अभी हमें रिजल्ट तक पहुंचने में वक्त लगेगा। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक जगहों में हवा से कोरोना संक्रमण फैलने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है। खासकर ऐसी जगहों पर जहां काफी भीड़ हो या फिर कोई जगह बंद हो। या ऐसा स्थान जहां हवा ठीक से आ-जा ना रही हो।

32 देशों के 239 वैज्ञानिकों ने कहा था- कोरोना हवा से भी फैल सकता है

  • पिछले दिनों 32 देशों के 239 वैज्ञानिकों ने दावा किया था कि कोरोना हवा से फैल सकता है। इन्होंने विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) और सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) को पत्र लिखकर इन दावों पर गौर करने और दिशा-निर्देशों में बदलाव करने की गुजारिश की थी।  
  • इन वैज्ञानिकों ने अपनी रिसर्च के हवाले से बताया है कि नोवेल कोरोनावायरस यानी Sars COV-2 के छोटे-छोटे कण हवा में कई घंटों तक बने रहते हैं और वे भी लोगों को संक्रमित कर सकते हैं। 
  • इस पूरे मामले में लोग जहां WHO को आड़े हाथ ले रहे हैं वहीं, इस शीर्ष संगठन का कहना है कि कोरोनावायरस हवा से नहीं बल्कि एयरोसोल और 5 माइक्रोन से छोटी ड्रापलेट्स से फैल सकता है। (एक माइक्रॉन एक मीटर के दस लाखवें हिस्से के बराबर होता है।)

हवा न भी चले तो भी कोरोना के कण 13 फीट तक फैलते हैं
दुनियाभर के एक्सपर्ट सोशल डिस्टेंसिंग के लिए 6 फीट का दायरा मेंटेन करने की सलाह दे रहे हैं। भारतीय और अमेरिकी शोधकर्ताओं की टीम का कहना है कि कोरोना के कण बिना हवा चले भी 8 से 13 फीट तक की दूरी तय कर सकते हैं। शोधकर्ताओं के मुताबिक, 50 फीसदी नमी और 29 डिग्री तापमान पर कोरोना के कण हवा में घुल भी सकते हैं।

ये खबर भी पढ़ें

1. हवा में है कोरोना / NYT की रिपोर्ट के बाद लोग कह रहे- 'WHO ठीक से काम नहीं कर रहा, हालात गंभीर हैं और चेतावनी नहीं दी जा रही'

2. कोरोना पर नया दावा / 32 देशों के 239 वैज्ञानिकों ने कहा- कोरोना हवा से भी फैल सकता है, डब्ल्यूएचओ से नए दिशा-निर्देश जारी करने की मांग

3. हवा से फैलता कोरोना / 239 वैज्ञानिकों के खुले पत्र पर WHO ने कहा- हमें अभी इस बात का पक्का यकीन नहीं, रिव्यू करने के बाद बताएंगे

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज वित्तीय स्थिति में सुधार आएगा। कुछ नया शुरू करने के लिए समय बहुत अनुकूल है। आपकी मेहनत व प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। विवाह योग्य लोगों के लिए किसी अच्छे रिश्ते संबंधित बातचीत शुर...

और पढ़ें

Advertisement