पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पं. विजयशंकर मेहता का कॉलम:आप बच्चों के लिए क्या नहीं करते, बहुत कुछ देते हैं उन्हें, पर उस दिए हुए का वे क्या उपयोग कर जाते हैं, इसमें बहुत सावधानी रखिएगा

2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पं. विजयशंकर मेहता - Dainik Bhaskar
पं. विजयशंकर मेहता

‘ज्योति कलश छलके..’ यह बात बच्चों के लालन-पालन के परिणाम पर लागू होती है। माता-पिता और बच्चों का रिश्ता एक समय जितना सरल था, आज उतना ही जटिल, रहस्यमय और चुनौती पूर्ण होता जा रहा है। हर माता-पिता को लगता है हम भावनात्मक रूप से इनसे जुड़े हैं, लेकिन लालन-पालन की दुनिया व्यावहारिक हो गई।

इसलिए अब तरंगों (बिना बोले अपने भाव-विचार सामने वाले में संप्रेषित कर देना।) का प्रयोग करना पड़ेगा। यानी अब केवल समझाइश से काम नहीं चलेगा। आप बच्चों को क्या समझाएंगे, वे क्या समझेंगे। एक परिवार बहुत गरीब था और मंदिर नहीं जा पाता था। गांव वालों ने पैसे इकट्ठे कर उनसे कहा त्योहार आ रहा है, इन पैसों से नए वस्त्र खरीद लेना, कुछ प्रसाद ले लेना और मंदिर आ जाना। लेकिन, वह परिवार मंदिर नहीं गया।

जब लोगों ने पूछा तो कहा, आपके दिए पैसों से हमने कपड़े खरीदे-पहने और सिनेमा देखने चले गए। खाना होटल में खा लिया। क्या करेंगे मंदिर जाकर। बस, ऐसा ही माता-पिता और बच्चों के साथ हो जाता है। आप बच्चों के लिए क्या नहीं करते। बहुत कुछ देते हैं उन्हें, पर उस दिए हुए का वे क्या उपयोग कर जाते हैं, इसमें बहुत सावधानी रखिएगा। इसके लिए तरंग सिद्धांत को समझना, अपनाना पड़ेगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप में काम करने की इच्छा शक्ति कम होगी, परंतु फिर भी जरूरी कामकाज आप समय पर पूरे कर लेंगे। किसी मांगलिक कार्य संबंधी व्यवस्था में आप व्यस्त रह सकते हैं। आपकी छवि में निखार आएगा। आप अपने अच...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser