• Hindi News
  • Db original
  • Explainer
  • Black Fungus Will Now Be Treated In Ayushman Bharat, The Scope Of Private Hospitals Will Increase; Know About The Major Changes In Ayushman Yojana

भास्कर एक्सप्लेनर:आयुष्मान में अब डेंगू, कैंसर, ब्लैक फंगस के इलाज के साथ ही सेक्स चेंज भी; जानें योजना में हुए बदलावों के बारे में सब कुछ

14 दिन पहलेलेखक: आबिद खान

केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी आयुष्मान भारत योजना में बड़ा बदलाव किया गया है। योजना के तहत हेल्थ बेनिफिट पैकेज के रेट में 20% से लेकर 400% तक की बढ़ोतरी की गई है। देश भर में आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना को लागू करने वाली अपेक्स बॉडी नेशनल हेल्थ अथॉरिटी ने यह जानकारी दी है। इसका सीधा फायदा कैंसर, डेंगू, ब्लैक फंगस समेत कई दूसरी बीमारियों के मरीजों को होगा।

साथ ही सरकार की नई योजना ‘SMILE’ के जरिए आयुष्मान भारत के तहत अब ट्रांसजेंडर्स को भी मेडिकल कवर मिलेगा और सेक्स चेंज जैसे ऑपरेशन के लिए भी इस बीमे का इस्तेमाल किया जा सकेगा। ट्रांसजेंडर्स को सरकार की तरफ से ये बड़ा तोहफा है।

आइए जानते हैं, सरकार ने इस योजना में क्या बदलाव किए हैं? ट्रांसजेंडर्स के लिए क्या घोषणा की गई है? क्या आयुष्मान कार्ड से इलाज की लिमिट में भी बदलाव हुआ है? इन बदलावों का आप पर क्या असर होगा? और क्या आपका भी आयुष्मान कार्ड बन सकता है...

सबसे पहले ताजा बदलाव समझ लीजिए

नेशनल हेल्थ अथॉरिटी (NHA) ने आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (AB-PMJAY) के तहत हेल्थ बेनिफिट पैकेज (HBP) में बदलाव किया है। इस बदलाव के तहत सर्जरी और मेडिकल प्रोसिजर की दरों में 20% से लेकर 400% तक की बढ़ोतरी की गई है।

NHA ने कहा है कि नए पैकेज के तहत करीब 400 मेडिकल प्रोसिजर्स की दरों में बदलाव किया गया है और ब्लैक फंगस से जुड़ा एक नया मेडिकल मैनेजमेंट पैकेज भी जोड़ा गया है। नेशनल हेल्थ अथॉरिटी की ओर से करीब 200 पैकेज की कीमतों में परिवर्तन करने का प्रस्ताव केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री को भेजा गया था। मंगलवार शाम को इस प्रस्ताव को मंजूरी मिल गई। अब ये बदलाव 1 नवंबर से लागू होंगे।

किन कैटेगरी की रेट में बदलाव किया गया है?

  • रेडिएशन ऑन्कोलॉजी प्रोसिजर में। रेडिएशन ऑन्कोलॉजी में हाई एनर्जी रेडिएशन के जरिए कैंसर का इलाज किया जाता है।
  • मेडिकल मैनेजमेंट प्रोसिजर जैसे डेंगू और तेज बुखार के रेट में।
  • ब्लैक फंगस के सर्जिकल पैकेज में। यानी ब्लैक फंगस को मिटाने के लिए होने वाली सर्जरी में।
  • आर्थ्रोडेसिस (हड्डियों के फ्रैक्चर और आर्थराइटिस का इलाज), कॉलेसिस्टेक्टमी (पित्ताशय को सर्जरी कर निकालना), अपेंडिसिस्टेक्टमी (अपेंडिक्स की सर्जरी) जैसे दूसरी बीमारियों के इलाज में।

इसके साथ ही वेंटिलेटर वाले ICU के रेट में 100%, बिना वेंटीलेटर वाले ICU के रेट में 136%, उच्च निर्भरता इकाई (HDU) की दर में 22% और रूटीन रूम के रेट में 17% की बढ़ोतरी की गई है।

ट्रांसजेंडर्स के लिए क्या घोषणा की गई है?

सामाजिक न्याय मंत्रालय सपोर्ट फॉर मार्जिनलाइज्ड इंडिविजुअल्स फॉर लाइवलीहुड एंड एंटरप्राइज यानी SMILE योजना की शुरुआत करने वाला है। इसके तहत ट्रांसजेंडर्स की सेक्स चेंज सर्जरी और अन्य मेडिकल सहायता को भी योजना में कवर किया गया जाएगा।

SMILE योजना को दो अलग-अलग योजनाओं में बांटा गया है। इनमें ट्रांसजेंडर और भीख मांगने वालों के लिए पुनर्वास योजनाएं शामिल हैं। ये योजनाएं 12 अक्टूबर से शुरू की जाएंगीं।

इन बदलावों से आपको क्या फायदा होगा?

  • सबसे बड़ा फायदा सर्जरी और प्रोसीजर की दरों में बढ़ोतरी से होगा। दरें बढ़ने से जिन अस्पतालों में महंगे इलाज की वजह से पहले इलाज नहीं हो पाता था, वे भी अब इलाज के दायरे में शामिल हो जाएंगे। यानी आप बड़ी हॉस्पिटल चेन्स में भी इस योजना के तहत इलाज करवा सकेंगे।
  • एक और बड़ा बदलाव ब्लैक फंगस को भी पैकेज में शामिल करना है। कोविड के बाद ब्लैक फंगस के मरीज भी कई राज्यों में बढ़े थे। उसके बाद सरकार ने ये फैसला लिया है।
  • ऑन्कोलॉजी के लिए रिवाइज्ड पैकेज से देश में कैंसर के मरीजों को काफी मदद मिलने की उम्मीद है। कैंसर के महंगे इलाज में मरीजों को इस योजना का लाभ मिलना राहत भरा कदम होगा।
  • ट्रांसजेंडर्स के सेक्स चेंज सर्जरी को भी योजना के तहत कवर किया जाएगा।

क्या 5 लाख तक की इलाज लिमिट में भी कोई बदलाव हुआ है?

आयुष्मान भारत के तहत हर परिवार का हर साल 5 लाख तक का इलाज मुफ्त हो सकता है। इस लिमिट में कोई बदलाव नहीं किया गया है। पहले की तरह एक परिवार एक साल में 5 लाख तक का ही इलाज करवा सकता है।

क्या है आयुष्मान भारत योजना?

  • यह दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा योजना है।
  • इस योजना में हर परिवार को हर साल 5 लाख रुपए तक के इलाज की मुफ्त सुविधा मिलती है। इसमें अस्पताल में भर्ती होने से 3 दिन पहले और 15 दिन बाद तक का इलाज और दवाइयां शामिल हैं।
  • योजना के अंतर्गत देश के उन प्राइवेट और सरकारी अस्पतालों में इलाज की सुविधा मिलती है, जो आयुष्मान भारत योजना से जुड़े हुए हैं।
  • फिलहाल आयुष्मान भारत में 1,669 तरह के मेडिकल पैकेज शामिल हैं। इनमें 1080 सर्जिकल, 588 मेडिकल और 1 अन्य पैकेज है। आयुष्मान भारत का लक्ष्य सभी को हेल्थ कवरेज मुहैया कराना और दूर दराज के क्षेत्रों में नागरिकों को मुफ्त एवं सस्ती स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करना है।
खबरें और भी हैं...