पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Db original
  • Explainer
  • Donald Trump Coronavirus Positive | Know What Happens If US Donald Trump President Condition Worsens? All You Need To Know

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भास्कर एक्सप्लेनर:अमेरिकी प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रम्प कोविड-19 पॉजिटिव हैं, चुनाव प्रचार से हट गए हैं; यदि तबियत ज्यादा बिगड़ी तो क्या होगा?

5 महीने पहलेलेखक: रवींद्र भजनी
  • अमेरिकी चुनाव से ठीक 32 दिन पहले ट्रम्प के पॉजिटिव आने से कैम्पेन का शेड्यूल बिगड़ा
  • ट्रम्प के कोविड-19 पॉजिटिव होने का अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव पर क्या असर पड़ सकता है?

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव से ठीक 32 दिन पहले डोनाल्ड ट्रम्प कोविड-19 पॉजिटिव हो गए। उनकी उम्र 74 वर्ष है और इसे देखते हुए कहा जा सकता है कि वे हाई-रिस्क में हैं। ट्रम्प को मेरीलैंड के वॉल्टर रीड हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है। उन्हें हल्का बुखार, सर्दी और सांस लेने में कुछ परेशानी बताई गई है। अस्पताल से डिस्चार्ज होने के बाद उन्हें क्वारैंटाइन होना ही होगा, जिसका मतलब है कि अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के लिए जोर-आजमाइश उनकी तरफ से बदल जाएगी।

क्या अमेरिका में चुनाव प्रचार सस्पेंड हो गया है?

  • नहीं। लेकिन, प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रम्प के चुनाव प्रचार अभियान पर असर पड़ रहा है। उन्हें शेड्यूल के मुताबिक मिनेसोटा, पेनसिल्वेनिया, वर्जीनिया, जॉर्जिया, फ्लोरिडा और नॉर्थ कैरोलिना जाना था। फिलहाल अभी कुछ साफ नहीं है।
  • अब तक ट्रम्प ने कैम्पेन के लिए अपने परिवार के सदस्यों और सीनियर एडमिनिस्ट्रेशन के साथ ही अधिकारियों पर निर्भरता दिखाई है। लेकिन, इस बार उनके करीबी भी क्वारैंटाइन हो चुके हैं। इस वजह से यह ऑपरेशन भी प्रभावित होगा।
  • अगली प्रेसिडेंशियल डिबेट 15 अक्टूबर मियामी, फ्लोरिडा में टाउन हॉल फॉर्मेट में होनी है। ऑडियंस के प्रश्न भी होंगे। अब यह आयोजन संदेह में है। हो सकता है कि इवेंट वीडियो-कॉन्फ्रेंस से हो। इसके लिए प्रेसिडेंट की हेल्थ ठीक होना जरूरी है।

यदि अमेरिकी प्रेसिडेंट काम ही नहीं कर सके, तो क्या होगा?

  • चुनाव शेड्यूल बदलने को लेकर चर्चा में अभी गंभीरता नहीं है। यदि शेड्यूल बदलना है तो उसके लिए कांग्रेस के दोनों सदनों- डेमोक्रेटिक के नियंत्रण वाले हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स और रिपब्लिकन नियंत्रण वाले सीनेट की मंजूरी लेनी होगी।
  • कुछ राज्यों में अर्ली वोटिंग शुरू हो गई है। इसके तहत अमेरिका के कुछ राज्यों में वोटर्स को यह सुविधा मिलती है कि यदि वे वोटिंग डे पर पोलिंग बूथ पर जाकर वोट नहीं कर सकते तो वे पहले ही ऐसा कर सकते हैं।

यह चुनाव पर किस तरह प्रभाव डालेगा?

  • ट्रम्प के शासन के दौरान महामारी, आर्थिक मंदी, जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद पुलिस क्रूरता और संस्थागत रंगभेद के खिलाफ राष्ट्रव्यापी प्रदर्शन, कई अमेरिकी शहरों में विवाद सामने आए।
  • नेशनल पोल्स में डेमोक्रेट जो बाइडेन को ट्रम्प के खिलाफ पिछले कई महीनों से बढ़त मिल रही थी। प्रमुख स्विंग स्टेट्स में भी आंशिक बढ़त मिल रही है। ऐसे में ट्रम्प के लिए हालात बदलना बड़ी चुनौती होगी।

चुनाव में डोनाल्ड ट्रम्प का अब तक प्रदर्शन कैसा रहा?

  • ट्रम्प के लिए दिक्कत इस बात की है कि उन्होंने अब तक कोविड-19 को महत्व नहीं दिया। ऐसे में वे खुद भी इसका शिकार हो गए हैं। उनकी 74 वर्ष उम्र को देखते हुए रिकवरी इतनी आसान नहीं रहने वाली।
  • प्रेसिडेंशियल डिबेट में डोनाल्ड ट्रम्प ने हमेशा मास्क पहनने के मुद्दे पर डेमोक्रेट उम्मीदवार जो बाइडेन की आलोचना की। यह भी कहा कि "मैं उनके जैसा मास्क नहीं पहनता। आप उन्हें हमेशा मास्क पहने देखते हैं।'
  • ट्रम्प का फोकस सोशल डिस्टेंसिंग रखने पर था और वे वायरस को गंभीरता से ले रहे थे। उन्होंने लॉकडाउन को लेकर सरकारी अधिकारियों पर हमले भी किए। उनकी इच्छा के विपरीत अनलॉक की धीमी प्रॉसेस पर भी सवाल उठाए गए।
  • ट्रम्प के कोरोना पॉजिटिव होने से कई सवाल उठ रहे हैं कि नेशनल पॉलिसी लेवल पर और व्हाइट हाउस में उन्होंने महामारी को कितना गंभीरता से लिया। प्रेसिडेंट के स्वास्थ्य और सेफ्टी को महत्व दिया जाना चाहिए था।

डेमोक्रेट्स के लिए क्या जोखिम है?

  • जब भी राष्ट्रीय स्तर पर कोई आपदा आई है तो अमेरिकी जनता हमेशा प्रेसिडेंट के साथ खड़ी होती आई है। ट्रम्प और उनके प्रशासन को जहां वायरस से जुड़े तीखे प्रश्नों का सामना करना है, वहीं उन्हें बीमार होने पर सहानुभूति भी मिलेगी। डेमोक्रेट्स और प्रेसिडेंट के आलोचक कह सकते हैं कि हमने पहले ही सावधानी रखने को कहा था। इसे पॉलिटिकल कर्मा भी कह सकते हैं। लेकिन, किसी बीमार को इतने तीखे शब्द बोलना लोगों को पसंद नहीं आएगा।
  • बाइडेन कैम्पेन के सामने चुनौती यह है कि इसका जवाब कैसे दिया जाए। महीनों तक डेमोक्रेट उम्मीदवार ने लो-प्रोफाइल रहकर कैम्पेन किया। इसके लिए रिपब्लिकन नेताओं ने उनकी आलोचना भी की। हाल ही में उन्होंने भी व्यक्तिगत तौर पर कैम्पेन शुरू किया है। ट्रेन से ओहियो और पश्चिमी पेनसिल्वेनिया गए। वे जल्द ही डोर-टू-डोर कैम्पेन करने वाले हैं। लेकिन, इससे पहले उनकी पार्टी ने ट्रम्प के व्यक्तिगत कैम्पेन की आलोचना की थी।
  • बाइडेन अपनी गतिविधियां नहीं रोकने वाले, लेकिन उन्हें अपनी गतिविधियों को दोबारा असेस करना होगा। बाइडेन ने ट्वीट किया- जिल और मैंने प्रेसिडेंट ट्रम्प और फर्स्ट लेडी मेलानिया ट्रम्प को जल्द स्वस्थ होने की कामना भेजी है। हम प्रेसिडेंट और उनके परिवार के जल्द स्वस्थ होने के लिए प्रार्थना करते रहेंगे।

यदि डोनाल्ड ट्रम्प गंभीर रूप से बीमार हुए तो क्या होगा?

  • अमेरिकी संविधान का 25वां अमेंडमेंट बताता है कि कार्यकाल के दौरान प्रेसिडेंट की मौत होने, इस्तीफा देने या गंभीर बीमार होने में उत्तराधिकारी कौन होगा। इस अमेंडमेंट को 1963 में पूर्व प्रेसिडेंट जॉन एफ. कैनेडी की हत्या के बाद कांग्रेस ने पारित किया था।
  • 25वें अमेंडमेंट के सेक्शन 3 के तहत यदि ट्रम्प की स्थिति बिगड़ती है तो वाइस प्रेसिडेंट माइक पेंस टेम्पररी प्रेसिडेंट बनेंगे। ठीक होने पर ट्रम्प दोबारा अपनी जिम्मेदारी संभाल सकते हैं। पेंस को जिम्मेदारी देने के लिए उन्हें लिखित घोषणापत्र देना होगा।
  • 25वें अमेंडमेंट के सेक्शन 4 में कहा गया है कि वाइस प्रेसिडेंट और कैबिनेट या किसी और अन्य बॉडी में बहुमत के आधार पर भी घोषणा की जा सकती है कि प्रेसिडेंट अपनी जिम्मेदारियों को निभाने में असमर्थ हैं।

यदि प्रेसिडेंशियल कैंडीडेट बीमार होता है या उसकी मौत होती है तो क्या होगा?

  • कोविड-19 पॉजिटिव होने के बाद ट्रम्प ने सभी शैड्यूल कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं। कैम्पेन के फंडरेजर्स और रैलियां भी अब नहीं होने वाली। यदि उनकी स्थिति सुधरने तक उन्हें अब आइसोलेशन में ही रहना होगा।
  • हालांकि, यदि उनकी स्थिति बिगड़ती है तो उनकी पार्टी तय करेगी कि उनका उत्तराधिकारी कौन होगा। ऐसे में संभावना यह है कि पार्टी वाइस-प्रेसिडेंशियल कैंडीडेट को ही प्रेसिडेंशियल कैंडीडेट बना दें।
खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप बहुत ही शांतिपूर्ण तरीके से अपने काम संपन्न करने में सक्षम रहेंगे। सभी का सहयोग रहेगा। सरकारी कार्यों में सफलता मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए सुकून दायक रहेगा। न...

    और पढ़ें