पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Db original
  • Explainer
  • Elon Musk Jeff Bezos Net Worth: Elon Musk Companies List | How Many Companies Tesla And Spacex CEO Elon Musk? From Zip2 To From Paypal

भास्कर डेटा स्टोरी:टेस्ला से सैलरी भी नहीं मिली, फिर भी सालभर में 7 गुना कैसे बढ़ गई एलन मस्क की संपत्ति?

8 महीने पहलेलेखक: प्रियंक द्विवेदी

टेस्ला और स्पेसएक्स के सीईओ एलन मस्क दुनिया के सबसे अमीर इंसान बन गए हैं। ब्लूमबर्ग के मुताबिक, गुरुवार को टेस्ला के शेयरों की प्राइस में 4.8% का इजाफा हुआ और मस्क की नेटवर्थ 188.5 अरब डॉलर (13.80 लाख करोड़ रुपए) हो गई। अमेजन के मालिक जेफ बेजोस की नेटवर्थ 187 अरब डॉलर (13.69 लाख करोड़ रुपए) है।

मस्क भले ही दुनिया में सबसे अमीर हैं, लेकिन वे तब तक खुश नहीं होंगे, जब तक इंसान को मंगल तक न पहुंचा दें। ऐसा उन्होंने खुद 2016 में कहा था। उनका कहना था, हमें तब तक खुशी नहीं मनानी चाहिए, जब तक हम मंगल पर अपनी कॉलोनियां न बसा लें।

एलन मस्क सालभर पहले यानी जनवरी 2020 में ब्लूमबर्ग बिलेनियर इंडेक्स की सबसे अमीर लोगों की लिस्ट में 35वें नंबर पर थे। लेकिन, 10 महीनों में उन्होंने पहले बिल गेट्स को पछाड़ा और अब जेफ बेजोस को पीछे छोड़कर पहले नंबर पर आ गए। एक साल पहले उनकी नेटवर्थ 1.80 लाख करोड़ रुपए थी, जो अब 13.80 लाख करोड़ रुपए है। मतलब, सालभर में उनकी संपत्ति 7 गुना तक बढ़ गई। जबकि, टेस्ला से उन्होंने सैलरी भी नहीं ली।

10 साल की उम्र में बना दिया था वीडियो गेम
एलन मस्क का जन्म 28 जून 1971 को दक्षिण अफ्रीका के प्रिटोरिया में हुआ। उनकी मां माये मस्क कनाडाई मॉडल हैं। उनके पिता एरोल मस्क दक्षिण अफ्रीका के थे और वहां इलेक्ट्रो मैकेनिकल इंजीनियर थे। एलन जब 9 साल के थे, तभी उनके माता-पिता का तलाक हो गया।

एलन जब 10 साल के थे, तो उन्होंने कम्प्यूटर कोडिंग का कोर्स सीखा। उसके बाद एक वीडियो गेम ब्लास्टर बनाया। इस गेम को उन्होंने 12 साल की उम्र में 500 डॉलर में बेच दिया। जो उस समय के हिसाब से 4 हजार रुपए थे।

एलन के पास दो डिग्रियां हैं। एक डिग्री इकोनॉमिक्स में और दूसरी फिजिक्स में हासिल की। 1995 में उन्होंने पीएचडी के लिए अमेरिका की स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में दाखिला लिया, लेकिन दो दिन बाद ही छोड़ भी दिया। ऐसा इसलिए, क्योंकि वो अपना स्टार्ट-अप शुरू करना चाहते थे।

टेस्ला में इन्वेस्टमेंट के जरिए एंट्री की
कई लोग ऐसा सोचते हैं कि एलन मस्क ने ही टेस्ला की शुरुआत की। लेकिन ये सच नहीं है। जुलाई 2003 में मार्टिन एबरहार्ड और मार्क टारपैनिंग ने टेस्ला मोटर्स शुरू की। फरवरी 2004 में एलन मस्क ने इसमें 75 लाख डॉलर (उस वक्त के करीब 33 करोड़ रुपए) का इन्वेस्टमेंट किया। इस इन्वेस्टमेंट के साथ ही एलन टेस्ला के चेयरमैन भी बन गए।

अक्टूबर 2008 में एलन टेस्ला के सीईओ बन गए। तब तक वो कंपनी में 7 करोड़ डॉलर (करीब 300 करोड़ रुपए) का इन्वेस्टमेंट कर चुके थे। जून 2010 में टेस्ला ने IPO लॉन्च किया। इसके आते ही कंपनी के शेयर 1,229% बढ़ गए।

एक वक्त ऐसा भी आया जब टेस्ला को लोन लेना पड़ गया। टेस्ला ने 2009 में अमेरिकी सरकार ने 46.5 करोड़ डॉलर (करीब 220 करोड़ रुपए) का लोन लिया। ये लोन उसने 2013 में चुका दिया।

टेस्ला से कितना कमाते हैं एलन मस्क?
एलन मस्क के पास टेस्ला के 20.8% शेयर हैं, जिनकी वैल्यू इस वक्त 150 अरब डॉलर यानी 10 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा है। पिछले एक साल में टेस्ला के शेयर 700% से ज्यादा उछले हैं। यही वजह है कि कभी सबसे अमीरों की लिस्ट में 35वें नंबर पर रहने वाले एलन मस्क आज पहले नंबर पर आ गए हैं।

2020 में मस्क की नेटवर्थ में 140 अरब डॉलर (10 लाख करोड़ रुपए) से ज्यादा का इजाफा हुआ। एक साल पहले तक मस्क की नेटवर्थ 1.80 लाख करोड़ रुपए थी, लेकिन अब उनकी नेटवर्थ 13.80 लाख करोड़ रुपए है। मतलब, एक साल में उनकी नेटवर्थ में 7 गुना इजाफा हुआ है। फोर्ब्स का कहना था कि जब से उसने दुनिया के अमीर लोगों की लिस्ट बनानी शुरू की है, तब से लेकर अब तक किसी अरबपति की एक साल में की गई ये सबसे ज्यादा कमाई है।

ताज्जुब की बात ये है कि मस्क को टेस्ला की ओर से कोई सैलरी भी नहीं मिलती। उन्हें 2019 में 23,760 डॉलर (करीब 17.50 लाख रुपए) बेसिक सैलरी के तौर पर मिले। ये इसलिए, क्योंकि कैलिफोर्निया में मिनिमम बेसिक सैलरी देने का कानून है। 2028 तक मस्क को टेस्ला से सैलरी नहीं मिलेगी।

तो भी सवाल ये कि कमाई कैसे? दरअसल, मस्क और टेस्ला के बीच एक तरह का समझौता हुआ है। इसमें कंपनी के बोर्ड ने 16 माइलस्टोन तय किए हैं। एलन मस्क के ऊपर इन्हें पूरा करने की जिम्मेदारी है। जैसे-जैसे माइलस्टोन पूरे होते जाएंगे, वैसे-वैसे मस्क को कंपनी के करीब 17 लाख शेयर मिलेंगे।

ये जो समझौता है, उसके तहत मस्क को अगले दस साल में टेस्ला के 2.02 करोड़ शेयर 12 किश्तों में मिलेंगे। मई 2020 में उन्हें 17 लाख शेयर मिल चुके हैं। ये शेयर उन्हें 350.02 डॉलर के स्ट्राइक प्राइस पर मिलेंगे, लेकिन मस्क की इनसे कमाई उस समय शेयर के भाव से तय होगी।

टेस्ला पर बेअसर रहा कोरोना
2020 में दुनियाभर में कोरोना महामारी ने जमकर तबाही मचाई। लेकिन, इसका असर टेस्ला पर नहीं पड़ा। 2 जनवरी 2020 को टेस्ला के शेयर की कीमत 86.05 डॉलर (6,300 रुपए) थी। जो 8 जनवरी 2021 को बढ़कर 816.04 डॉलर (करीब 60,000 रुपए) हो गई। मतलब, सालभर में कंपनी के शेयर की कीमत करीब 850% बढ़ गई।

सिर्फ शेयर की कीमत ही नहीं, कंपनी का मुनाफा भी जबरदस्त बढ़ा। 31 दिसंबर 2019 की तिमाही में कंपनी को 827 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ था। जो सितंबर 2020 में बढ़कर 2,198 करोड़ रुपए हो गया। यानी, मुनाफा भी 165% से ज्यादा बढ़ा। इसी तरह सितंबर 2020 में कंपनी का रेवेन्यू 64 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा रहा।

और कहां-कहां से कमाते हैं एलन मस्क?
एलन मस्क टेस्ला के सीईओ होने के साथ-साथ स्पेसएक्स के भी सीईओ हैं। क्योंकि, स्पेसएक्स प्राइवेट कंपनी है और वो लिस्टेड नहीं है, इसलिए उसका एक्चुअल डेटा सामने नहीं आ पाता। जुलाई 2020 में मॉर्गन स्टेनली ने अपनी रिसर्च में स्पेसएक्स की मार्केट वैल्यू 200 अरब डॉलर (करीब 14.65 लाख करोड़ रुपए) तक होने का अनुमान लगाया था।

CNBC की रिपोर्ट के मुताबिक, स्पेसएक्स में मस्क के पास 15.3 अरब डॉलर (1.12 लाख करोड़ रुपए) के शेयर हैं। इसके अलावा मस्क बोरिंग कंपनी के भी फाउंडर हैं। इस कंपनी को मस्क ने 2018 में शुरू किया था। इस कंपनी को 11.2 करोड़ डॉलर (800 करोड़ रुपए) की मदद से शुरू किया गया था, जिसमें से 90% पैसा मस्क का था।

खबरें और भी हैं...