भास्कर एक्सप्लेनर:इंफोसिस के बनाए इनकम टैक्स पोर्टल पर किस तरह की दिक्कतें आ रही हैं? रिटर्न फाइलिंग पर इसका क्या असर पड़ेगा?

2 महीने पहले

सरकार ने इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने में लोगों को सहूलियत देने के लिए नया पोर्टल लॉन्च किया था, लेकिन इस पोर्टल ने लोगों की परेशानियों को और बढ़ा दिया है। लॉन्च होने के ढाई महीने बाद भी पोर्टल ठीक से काम नहीं कर रहा है। इसमें लोगों को कई तरह की परेशानियां आ रही हैं।

इस पोर्टल को इंफोसिस ने बनाया है। इसी साल 7 जून को इस पोर्टल को लॉन्च किया गया था। तब से ही इस नए पोर्टल पर टैक्सपेयर्स को कई तरह की परेशानियां आ रही हैं। सरकार ने भी अपने स्तर पर इंफोसिस से इन मुश्किलों को दूर करने को कहा है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने तो 23 अगस्त को इंफोसिस के CEO और MD सलिल पारेख को भी तलब किया था। दो टूक शब्दों में इंफोसिस से कहा गया है कि नए इनकम टैक्स पोर्टल में आ रही दिक्कतों को किसी भी हालत में 15 सितंबर तक दूर करें। दरअसल, सरकार ने टैक्सपेयर्स के लिए ITR दाखिल करने के लिए 30 सितंबर की डेडलाइन रखी है। अगर पोर्टल पर परेशानियां बनी रहीं तो इस डेडलाइन को आगे बढ़ाना पड़ सकता है।

पिछले कुछ वर्षों से ऑनलाइन ITR फाइल हो रहे हैं। जब सब कुछ ठीक चल रहा था तो सरकार को क्या जरूरत थी कि नया पोर्टल बनवाया जाए? इस पोर्टल पर किस तरह की परेशानियां आ रही हैं। इसे दूर करने के लिए सरकार और इंफोसिस क्या कर रहे हैं? इसका टैक्सपेयर्स पर क्या असर पड़ेगा? इन सभी और इससे जुड़े अन्य मुद्दों को हम आसान ग्राफिक्स में आपको समझा रहे हैं...

खबरें और भी हैं...