पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भास्कर एक्सप्लेनर:IPL के टॉप 3 में दिल्ली, चेन्नई और बेंगलुरु, अभी भी सबके लिए खुला है प्लेऑफ का रास्ता; किस टीम में क्या हुए बदलाव, जानें सबकुछ

13 दिन पहलेलेखक: जयदेव सिंह

IPL-14 के बचे हुए मैच 19 सितंबर से UAE में खेले जाएंगे। 3 मई को स्थगित होने से पहले इस सीजन के 29 मैच खेले जा चुके थे। अपने 8 में से 6 मैच जीतकर दिल्ली पॉइंट्स टेबल में टॉप पर थी। दिल्ली के शिखर धवन सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज थे। उन्होंने 134.27 की स्ट्राइक रेट से 380 रन बनाए थे। वहीं, बेंगलुरु के हर्षल पटेल सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज थे। उन्होंने 7 मैच में 17 विकेट लिए थे।

करीब साढ़े चार महीने बाद जब दुनिया की सबसे चर्चित टी-20 लीग के बाकी मैच शुरू होंगे तो काफी कुछ बदला हुआ होगा। टीमें भारत नहीं बल्कि UAE की पिचों पर खेलती दिखाई देंगी। कई टीमों का स्ट्रक्चर भी अलग होगा। सबसे ज्यादा बदलाव विराट कोहली की टीम में हुए हैं तो राजस्थान, पंजाब और कोलकाता में भी नए खिलाड़ी दिखाई देंगे।

IPL-14 का पहला फेज किन हालातों में स्थगित करना पड़ा था? स्थगित होने से पहले टीमों की क्या स्थिति थी? बाकी मैचों के दौरान किस टीम में कितने बदलाव नजर आएंगे? अंतिम चार में पहुंचने के लिए किस टीम के पास क्या रास्ता है? आइए जानते हैं…

IPL-14 का पहला फेज किन हालात में स्थगित करना पड़ा था?
29वें मैच तक सब कुछ ठीक चल रहा था। मुंबई और चेन्नई में खत्म हुए पहले लेग के मैचों के बाद सभी टीमें अहमदाबाद और दिल्ली शिफ्ट हो रही थीं। जहां टूर्नामेंट के दूसरे लेग के मैच होने थे। इसी दौरान कोलकाता के वरुण चक्रवर्ती और संदीप वॉरियर कोरोना पॉजिटिव हो गए। इस वजह से 3 मई को होने वाला कोलकाता और बेंगलुरु का मैच स्थगित हो गया।

इसी बीच चेन्नई के सपोर्ट स्टाफ के 4 मेंबर पॉजिटिव आ गए। चेन्नई ने इसके बाद तब तक मैच खेलने से इनकार कर दिया जब तक संक्रमित स्टाफ के संपर्क में आए सभी खिलाड़ियों की रिपोर्ट निगेटिव नहीं आ जाए। BCCI इस पर कोई एक्शन लेती उससे पहले ही दिल्ली के अमित मिश्रा और हैदराबाद के ऋद्धिमान साहा भी पॉजिटिव आ गए। इसके बाद BCCI ने IPL को स्थगित करने का फैसला किया।

19 सितंबर से UAE में शुरू हुए दूसरे लेग में IPL के बाकी 31 मैच खेले जाएंगे।

स्थगित होने से पहले किस टीम की क्या स्थिति थी?
टूर्नामेंट स्थगित होने से पहले दिल्ली और पंजाब अपने 8 मैच खेल चुके थे। बाकी सभी टीमों ने 7-7 मैच खेले थे। 6 मैच जीतकर दिल्ली टॉप पर थी। वहीं चेन्नई और बेंगलुरु 5-5 मैच जीत चुके हैं। चार मैच जीतकर मुंबई चौथे नंबर पर है। राजस्थान, पंजाब ने 3-3 मैच जीते हैं। कोलकाता 7वें और हैदराबाद टेबल में सबसे नीचे 8वें नंंबर पर है।

अब हर टीम की मौजूदा स्थिति, उसमें हुए बदलाव और अंतिम चार में पहुंचने का रास्ता समझ लीजिए

खबरें और भी हैं...