पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Db original
  • Explainer
  • Suicide Due To Drug Abuse (NCRB ADSI) 2019 Statistic Fact| How Many People Suicide Annually Due To Drug? And Which State Has The Most Suicide Cases Due To Drug?

भास्कर डेटा स्टोरी:क्या सुशांत के सुसाइड की वजह भी ड्रग्स है? पिछले 5 साल में ड्रग्स की वजह से हर दिन 17 सुसाइड; महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा मामले

12 दिन पहलेलेखक: आदित्य सिंह
  • कॉपी लिंक
  • ड्रग्स की वजह से सबसे ज्यादा 29% सुसाइड महाराष्ट्र में, आबादी के अनुपात में केरल आगे
  • ड्रग्स से सुसाइड के मामलों में महाराष्ट्र के तीन और दक्षिण भारत के दो शहर टॉप 5 शहरों में

एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में ड्रग्स का एंगल जुड़ गया है। इससे सवाल उठने लगे हैं कि क्या सुशांत का सुसाइड भी ड्रग्स की वजह से हुआ? यह सवाल उठने के कारण भी अपनी जगह सही है क्योंकि नेशनल क्राइम रिकॉर्ड्स ब्यूरो (एनसीआरबी) के आंकड़ों के मुताबिक पिछले पांच साल में ड्रग्स की वजह से 31 हजार सुसाइड हुए हैं। सबसे ज्यादा 7,860 सुसाइड 2019 में हुए। यदि पांच साल का आंकड़ा देखें तो हर दिन 17 सुसाइड और 2019 का आंकड़ा देखें तो हर दिन 21 सुसाइड सिर्फ ड्रग्स की वजह से हुए हैं।

यह आंकड़ा चौंकाने वाला है कि हर साल ड्रग्स की वजह से होने वाले सुसाइड की संख्या बढ़ती जा रही है। 2015 से 2016 में 41% ज्यादा, 2016 से 2017 में 29% ज्यादा, 2017 से 2018 में 7% ज्यादा और 2018 से 2019 में 9.7% ज्यादा सुसाइड हुए। 2016 के बाद से सुसाइड मामलों में ड्रग्स का सेवन एक बड़ी समस्या बनकर सामने आई है।

पिछले पांच साल में ड्रग्स के कारण से हुए सुसाइड में पुरुषों और महिलाओं की संख्या की तुलना करना ही सही नहीं है। 2015 से 2019 तक ड्रग्स की वजह से सुसाइड करने वाले पुरुषों का प्रतिशत 95% से 98.2% के बीच रहा है। यह लगातार बढ़ा ही है।

यदि हम सिर्फ 2019 में ड्रग्स की वजह से होने वाले सुसाइड का आंकड़ा देखें तो 2,256 के साथ महाराष्ट्र सबसे आगे है। दूसरे नंबर पर कर्नाटक (1,133 मामले) है, जिसकी संख्या महाराष्ट्र से आधी ही है। मध्य प्रदेश में 1,099 (यानी 14%), तमिलनाडु में 1,042 (यानी 13.25%) और केरल में 792 ( यानी 10%) सुसाइड हुए हैं। इन पांच राज्यों में हुए सुसाइड को जोड़ें तो यह देश में ड्रग्स की वजह से हुए सुसाइड का 81% होता है।

भले ही महाराष्ट्र में ड्रग्स की वजह से सुसाइड करने वालों की संख्या सबसे ज्यादा है, यदि आप आबादी के अनुपात में इन मौतों की संख्या को देखें तो केरल सबसे आगे है। यानी वहां हर दस लाख की आबादी पर 23 लोग ड्रग्स की वजह से सुसाइड कर रहे हैं। उसके बाद महाराष्ट्र (18), कर्नाटक (17), तमिलनाडु (14) और मध्यप्रदेश (13) आते हैं।

जब हम राज्यों से आगे जाकर शहरों की बात करते हैं तो चौंकाने वाले आंकड़े सामने आते हैं। चेन्नई में सबसे ज्यादा 329 लोगों ने ड्रग्स की वजह से सुसाइड किया। इसके बाद बैंगलोर (143), नागपुर (94), मुंबई (88) और पुणे (70) का नंबर आया। यानी टॉप 2 शहर दक्षिण भारतीय हैं जबकि टॉप 5 शहरों में तीन शहर अकेले महाराष्ट्र के हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन परिवार व बच्चों के साथ समय व्यतीत करने का है। साथ ही शॉपिंग और मनोरंजन संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत होगा। आपके व्यक्तित्व संबंधी कुछ सकारात्मक बातें लोगों के सामने आएंगी। जिसके ...

और पढ़ें