पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Db original
  • Explainer
  • There Is A Big Change In The Storage Policy Of Google Account From June 1, Know Its Effect On You And All The Things Related To The Change

भास्कर एक्सप्लेनर:गूगल अकाउंट की स्टोरेज पॉलिसी में 1 जून से हो रहा बड़ा बदलाव, जानिए इसका आप पर असर और बदलाव से जुड़ी सभी बातें

20 दिन पहलेलेखक: आबिद खान

1जून से गूगल की स्टोरेज पॉलिसी में बड़ा बदलाव हो रहा है। गूगल फोटोज पर बैकअप की जाने वाली फाइल्स को अब गूगल आपको मिलने वाली फ्री 15GB स्टोरेज में काउंट करेगा। अभी तक फोटोज पर हाई क्वालिटी में बैकअप फाइल्स के लिए गूगल अनलिमिटेड स्टोरेज की सुविधा देता था। यानी आपको फोटोज के स्टोरेज के अलावा 15GB का अतिरिक्त स्टोरेज मिलता था।

इस बदलाव के बाद किस तरह बदल जाएगा गूगल इस्तेमाल करने का तरीका? कैसे आप गूगल पर स्पेस को मैनेज कर सकते हैं ? एक्स्ट्रा स्टोरेज के लिए आपको कितनी कीमत चुकानी होगी? आइए जानते हैं...

क्या बदलाव हो रहे हैं?
गूगल के हर अकाउंट पर आपको अपने डाटा को स्टोर करने के लिए 15 GB तक का फ्री स्टोरेज मिलता है। एक ही अकाउंट से आप जीमेल, गूगल ड्राइव, फोटोज और गूगल की बाकी सारी सुविधाओं का लाभ लेते हैं। फिलहाल गूगल फोटोज पर जो भी फोटो, वीडियो आप हाई क्वालिटी में बैकअप करते हैं उसे गूगल इस फ्री 15GB स्टोरेज में काउंट नहीं करता है। 1 जून से फोटोज पर बैकअप किए गए हाई क्वालिटी फोटो और वीडियो को भी गूगल 15 GB फ्री स्टोरेज में काउंट करेगा। यानी जीमेल, ड्राइव, फोटोज और बाकी सारी गूगल सर्विसेस मिलाकर एक अकाउंट पर आपके पास 15 GB तक डाटा स्टोर करने की ही सुविधा होगी।

इन सबके साथ ही 1 जून 2021 के बाद आप लगातार 2 सालों तक गूगल का इस्तेमाल नहीं करते हैं या 2 सालों तक डेटा लिमिट पूरी होने के बाद अपग्रेड नहीं करते हैं, तो गूगल आपके डेटा को डिलीट कर सकता है।

उदाहरण के लिए, अगर आप लगातार 2 सालों तक गूगल फोटोज का इस्तेमाल नहीं करते हैं लेकिन ड्राइव और जीमेल का इस्तेमाल करते हैं तो भी आपके फोटोज का डेटा डिलीट हो जाएगा। यानी गूगल के जिन-जिन प्रोडक्ट पर आप एक्टिव रहेंगे उनका डेटा ही सेफ रहेगा।

गूगल फोटोज से स्टोरेज खाली करने के लिए क्या करना होगा?

  • आप अपने अकाउंट से गैर जरूरी फोटो, वीडियो एक-एक कर खुद भी डिलीट कर सकते हैं या गूगल के स्टोरेज मैनेजमेंट टूल की मदद ले सकते हैं। https://one.google.com/storage/management ये गूगल के स्टोरेज मैनेजमेंट टूल की लिंक है।
  • यहां पर आप जीमेल, फोटो और ड्राइव की बड़ी फाइल्स को एक साथ डिलीट कर सकते हैं।
  • स्टोरेज मैनेजर बैकअप फ्रीक्वेंसी और फाइल साइज के हिसाब से कब तक आपकी स्टोरेज लिमिट खत्म होगी उसका अनुमानित टाइम भी बता देगा।
  • आप अपने फोन के उन फोल्डर को सिलेक्ट कर सकते हैं जिनका बैकअप आपको चाहिए, गैरजरूरी फोल्डर की फाइल्स का बैकअप बंद कर सकते हैं।
  • फोटो, वीडियो की अपलोड क्वालिटी घटा सकते हैं ताकि कम स्टोरेज स्पेस कंज्यूम हो।

कंपनी का कहना है कि एवरेज गूगल यूजर के लिए स्टोरेज लिमिट खत्म होने में करीब 3 साल का समय लग जाएगा।

स्टोरेज कैपेसिटी कैसे बढ़ाई जा सकेगी?
गैरजरूरी फाइल्स, फोटो डिलीट करने के बाद भी अगर आपके पास स्टोरेज की कमी है तो गूगल से आप स्टोरेज खरीद सकते हैं। गूगल ने इसके लिए गूगल वन नाम से अलग ऐप लॉन्च किया है। इसमें आपकी जरूरत के हिसाब से अलग-अलग मंथली और एनुअल प्लान हैं।

अभी गूगल फोटोज पर जो फोटो, वीडियो हैं उनका क्या होगा?
गूगल ने स्पष्ट किया है कि 1 जून से पहले के डेटा को फ्री स्टोरेज में काउंट नहीं किया जाएगा। यानी 1 जून से पहले फोटोज पर जो डेटा आपने बैकअप कर रखा है, उसे आपके 15GB फ्री स्टोरेज में काउंट नहीं किया जाएगा। आप इन फाइल्स को डाउनलोड कर सकते हैं। हालांकि स्टोरेज फुल होने के बाद अगर आप इन फाइल्स को एडिट करेंगे तो आप एडिटेड फाइल डाउनलोड नहीं कर पाएंगे।

किन लोगों पर नहीं होगा इस बदलाव का असर

  • गूगल का पिक्सल फोन इस्तेमाल करने वाले यूजर्स पर
  • पहले से ही गूगल वन पर अपग्रेड कर चुके यूजर्स पर
  • गूगल की बिजनेस सर्विसेस इस्तेमाल करने वाले यूजर्स पर

फिलहाल गूगल के फ्री स्टोरेज में क्या-क्या काउंट होता है?

अभी आपको गूगल की तरफ से जो 15GB फ्री स्टोरेज दिया जाता है उसमें गूगल ड्राइव, जीमेल और गूगल फोटोज में स्टोर होने वाली फाइल्स काउंट होती हैं।

गूगल ड्राइव

  • ड्राइव के “My Drive” सेक्शन के अंदर स्टोर होने वाले फोटो, वीडियो और डॉक्यूमेंट्स।
  • ड्राइव के “Trash” सेक्शन के अंदर डिलीट की हुई फाइल्स।

जीमेल

  • मेल और मेल के अटैचमेंट।
  • Spam और Trash फोल्डर के अंदर के मेल और फाइल।

गूगल फोटोज

  • ओरिजनल क्वालिटी में बैकअप किए गए फोटो और वीडियो।

गूगल स्टोरेज में क्या-क्या काउंट नहीं होता है?

  • गूगल ड्राइव पर आपके साथ किसी दूसरे की शेयर की गई फाइल्स।
  • गूगल साइट्स का डेटा
  • गूगल डॉक्स, शीट्स, स्लाइड्स, फार्म्स, जैमबोर्ड और ड्राइंग का डेटा।

गूगल ड्राइव और गूगल फोटोज में क्या फर्क है?
गूगल की ये दोनों ही सर्विस फाइल्स के बैकअप के लिए इस्तेमाल की जाती हैं, लेकिन फोटोज को विशेष तौर पर फोटो और वीडियो के लिए बनाया गया है। वहीं ड्राइव पर आप हर तरह की फाइल बैकअप कर सकते हैं। इनमें पीडीएफ, वर्ड या इसी तरह की फाइल्स हो सकती हैं। ड्राइव पर आप फोटो, वीडियो भी अपलोड कर सकते हैं, लेकिन फोटोज की तरह ड्राइव पर एडिट और मैनेज नहीं किया जा सकता।

गूगल फोटोज काम कैसे करता है?
आपके फोन में जो भी फोटो, वीडियो होते हैं गूगल फोटोज उसकी एक डिजिटल कॉपी बनाकर क्लाउड पर स्टोर कर देता है। आप इन फाइल्स को अपने गूगल अकाउंट के जरिए कहीं से भी एक्सेस कर सकते हैं। साथ ही इन फाइल्स को डाउनलोड, एडिट, मैनेज और शेयर कर सकते हैं।

आपका डेटा कहां सेव होता है?
गूगल ने डेटा स्टोरेज के लिए दुनियाभर में डेटा सेंटर बना रखे हैं। एक तरह से ये इंटरनेट के दिमाग हैं। इन डेटा सेंटर्स में यूजर का डेटा स्टोर किया जाता है।

गूगल हमें सबकुछ फ्री देता है, तो कमाता कहां से है?
गूगल की सारी सर्विसेस एक लिमिट तक ही फ्री हैं। उसके बाद गूगल उस सर्विस के इस्तेमाल के लिए आपसे पैसे लेने लगता है। गूगल फोटोज में हाल ही में जो स्टोरेज पॉलिसी चेंज की गई है वो भी गूगल के पेड सब्स्क्रिप्शन मॉडल का ही हिस्सा है। 15GB फ्री स्टोरेज के इस्तेमाल के बाद आपको फोटोज का इस्तेमाल करते रहने के लिए पैसे देना होंगे। इसी तरह गूगल की बाकी सर्विसेस के साथ भी है।

गूगल की इनकम का सबसे बड़ा सोर्स एडवर्टीजमेंट है। गूगल की खुद की और दूसरी वेबसाइट और ऐप पर एड देने के लिए गूगल आपसे पैसा लेता है। इसके लिए गूगल का एडसेंस प्रोग्राम है। इसके अलावा गूगल बिजनेस को कई तरह की सर्विसेस देता है। इनमें स्टोरेज, बुक्स, गूगल एप्स, वेब होस्टिंग और गूगल के क्लाउड प्लेटफार्म जैसी सर्विसेस शामिल हैं।

खबरें और भी हैं...