• Hindi News
  • Db original
  • 24 year old Tusharjit Bharadwaj Started Solar Panel Startup To Promote Solar Energy; Earning Lakhs Every Month, Gave Employment To Many People

आज की पॉजिटिव खबर:24 साल के तुषारजीत ने सोलर एनर्जी को बढ़ावा देने के लिए शुरू किया स्टार्टअप; हर महीने लाखों की कमाई

एक वर्ष पहलेलेखक: अरशद नसीम

बिजली संकट के इस दौर में सोलर पैनल की डिमांड तेजी से बढ़ रही है। अब इस डिमांड को बिजनेस के रूप में बदलते देखा जा रहा है। देश के कई राज्यों में बड़े स्तर पर सोलर पैनल लगाए जा रहे हैं, ताकि बिजली के संकट को खत्म किया जा सके।

इसी कड़ी में नोएडा के रहने वाले तुषारजीत भारद्वाज ने सौर्य ऊर्जा टेक्नोलॉजी नाम से स्टार्टअप शुरू किया है। इसके जरिए वे देश कई अलग-अगल इलाकों में सोलर प्लांट लगाने का काम करते हैं। साथ ही तुषारजीत की कंपनी इलेक्ट्रिक व्हीकल के लिए लिथियम बैटरी बनाने का काम भी करती है।

24 साल के तुषारजीत पिछले दो साल इस फील्ड में काम कर रहे हैं। जनवरी महीने में शुरू हुआ उनका स्टार्टअप अब तक 17 प्रोजेक्ट्स पर काम कर चुका है। इस स्टार्टअप के जरिए तुषारजीत ने 22 लोगों को रोजगार भी दिया है। साथ ही इस स्टार्टअप के जरिए वे लाखों का बिजनेस कर रहे हैं।

इसके अलावा तुषारजीत की कंपनी ने दो इनोवेशन भी किए हैं। इसे वो नए साल पर जनवरी में लॉन्च करने जा रहे हैं। उन्होंने और उनकी टीम ने सोलर लिथियम इन्वर्टर और साथ ही इलेक्ट्रिक व्हीकल के एलएसपी को पाउच सेल में डेवलेप किया है जिससे बैटरी की लाइफ बढ़ेगी और व्हीकल की रेंज भी बढ़ जाएगी।

UK में मास्टर की पढ़ाई के दौरान आया आइडिया

तुषारजीत ने एसआरआम यूनिवर्सिटी चेन्नई से बैचलर डिग्री की पढ़ाई की है।
तुषारजीत ने एसआरआम यूनिवर्सिटी चेन्नई से बैचलर डिग्री की पढ़ाई की है।

तुषारजीत ने एसआरआम यूनिवर्सिटी चेन्नई से बैचलर डिग्री की पढ़ाई की। इसके बाद साल 2019 में उन्होंने यूनाइटेड किंगडम का रूख किया। वहां उन्होंने यूनिवर्सिटी ऑफ सीफील्ड से मास्टर की पढ़ाई की। मस्टर की पढ़ाई के दौरान ही उन्होंने सोलर एयर कंडीशनिंग के प्रोजेक्ट पर काम किया। इसके बाद ही उन्हें अपने देश में सोलर पैनल के स्टार्टअप को शुरू करने का ख्याल आया।

देश लौटने के बाद तुषारजीत ने करीब डेढ़ साल तक रिसर्च की और करीब 2 लाख की लागत से इसी साल जनवरी में अपने बिजनेस को शुरू किया। इसी दौरान देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोलर इंडस्ट्री में Renewable Energy को प्रमोट करने के लिए कई रिफार्मस किए थे। इसके तहत तुषारजीत को अपने स्टार्टअप में काफी मदद मिली। बिजनेस को शुरू करने के बाद मार्च में ही तुषारजीत को अपना पहला प्रोजेक्ट मिला। धीरे-धीरे लोगों को इनके प्रोजेक्ट्स पसंद आते गए और उन्हें अब लगातार प्रोजेक्ट मिल रहे हैं।

तुषारजीत ने कम समय में अपने नाम कई अवार्ड भी किए हैं। उन्हें 2020 में इंडियन एचिवर्स अवॉर्ड से नवाजा गया। साथ ही उन्हें यंग एंटरप्रेन्योर 2021 का खिताब दिया गया। इसके अलावा तुषारजीत को यंग ग्लोबल आइकन 2021 के खिताब से भी नवाजा गया है।

सोलर प्लांट को इंस्टाल करने की प्रक्रिया

तुषारजीत की टीम स्पेस के अनुसार भी सोलर प्लांट लगाती हैं।
तुषारजीत की टीम स्पेस के अनुसार भी सोलर प्लांट लगाती हैं।

तुषारजीत के टीम में 22 लोग हैं। टीम के लोग पहले साइट यानी लोकेशन को आइडेंटिफाई करते हैं। जिसके बाद साइट का सर्वे भी करते हैं। सर्वे के बाद उनकी कंपनी के इंजिनियर्स ये देखते हैं कि किस तरह का यहां प्लांट लगेगा। मॉड्यूल की हाइट, स्ट्रक्चर का भी ध्यान रखा जाता है। जिसके बाद सभी टेक्निकल चीजों को ध्यान में रखकर सोलर प्लांट को इंस्टाल किया जाता है। साथ ही कस्टमर की जरूरत के मुताबिक प्लांट को इंस्टाल करते हैं। इसके अलावा तुषारजीत की टीम स्पेस के अनुसार भी सोलर प्लांट को लगाती है।

तुषारजीत का कहना है कि ग्लोबल एनर्जी मार्केट में भारत तेजी से बढ़ रहा है। देश में बिजली की खपत काफी बढ़ गई है। जिसके चलते बिजली की कटौती भी आए दिन देखने को मिलती है, इन्हीं सब वजहों के चलते सोलर पावर की ओर लोगों का ध्यान बढ़ने लगा है। आने वाले दिनों में ज्यादातर सोलर पावर का ही इस्तेमाल किया जाएगा, क्योंकि इंडिया में 300 दिन सनी डे होते हैं।

सोलर एनर्जी इंडस्ट्री में भविष्य कैसा है

तुषारजीत के मुताबिक सौर ऊर्जा का बिजनेस आने वाले समय में काफी ग्रोथ करने वाला है। जिस तरह से पेट्रोल और डीजल की कमी के साथ मंहगाई की मार भी लोगों को पड़ रही है और आए दिन बिजली की किल्लत बढ़ रही है, उसे देखकर ये लग रहा है कि आने वाले समय में सौर ऊर्जा का ही इस्तेमाल हर जगह किया जाएगा। वैसे भविष्य में ही नहीं बल्कि मौजूदा समय में भी सौर ऊर्जा की डिमांड काफी बढ़ गई है।

लोगों की मदद करने का मकसद

तुषारजीत मुंबई, पुणे, लखनऊ, नोएडा में अपने ट्रेनिंग सेंटर को खोलने की तैयारी कर रहे हैं।
तुषारजीत मुंबई, पुणे, लखनऊ, नोएडा में अपने ट्रेनिंग सेंटर को खोलने की तैयारी कर रहे हैं।

तुषार ने कहा कि इस स्टार्टअप के जरिए सिर्फ हमने अपना फायदा नहीं देखा बल्कि एक ऐसा बिजनेस सेटअप करने का सोचा जिससे लोगों की भी मदद की जा सके। साथ ही गांव देहात जैसे इलाकों में लोगों को हो रही बिजली की समस्या से निजात दिला सकें।

साथ ही तुषारजीत ने कहा कि कंपनी के एक साल पूरे होने पर, यानी पहली एनिवर्सरी हम एक गांव को एडॉप्ट करेंगे, जहां फ्री में सोलर प्लांट लगाकर देंगे, ताकि गांव के लोग बिजली से रोजमर्रा की जरूरत को पूरा कर सकें।

साथ ही तुषारजीत अपने स्टार्टअप के जरिए जल्द ही स्किल डेवलपमेंट ट्रेनिंग सेंटर शुरू करने जा रहे हैं। इसमें वे लोगों को सोलर एनर्जी के फील्ड में ट्रेनिंग देंगे। साथ ही लोगों को जागरूक करने के साथ उनके लिए रोजगार का अवसर प्रदान करने की कोशिश करेंगे। तुषारजीत मुंबई, पुणे, लखनऊ और नोएडा में अपने ट्रेनिंग सेंटर को खोलने की तैयारी कर रहे हैं। इसके लिए वो 6 एक्सपर्ट को हायर कर चुके हैं, जो लोगों को ट्रेनिंग देंगे।

खबरें और भी हैं...