• Hindi News
  • Db original
  • 8 year old Himpriya Saved The Life Of The Family From Terrorists, Then Dheeraj Was Crowded With Crocodile For The Life Of Her Brother

खुद्दार कहानी:8 साल की हिमप्रिया ने आतंकियों से मां-बहन की जान बचाई, भाई के लिए मगरमच्छ से भिड़ गए धीरज

नई दिल्ली5 महीने पहले

हाल ही में 73वें गणतंत्र दिवस के मौके पर PM नरेंद्र मोदी ने देश के 29 बच्चों को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार से सम्मानित किया। इनमें किसी ने अपनी चालाकी और बहादुरी से आतंकियों के चंगुल से अपने परिवार को बचाया है तो किसी ने मगरमच्छ से लड़कर अपने भाई की जान बचाई है। कोई सिंगिंग में चैंपियन है तो कोई खेल में अपना जलवा बिखेर रहा है। हर एक बच्चे की कहानी जानदार है, जिसे जानकर आपको भी इन कर्णधारों पर नाज होगा।

तो आइए आज की खुद्दार कहानी में 10 जांबाज बच्चों के बारे में जानते हैं…