पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Db original
  • West Bengal Election 2021: BJP Bengal President Dilip Ghosh Interview By Dainik Bhaskar

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बंगाल के BJP अध्यक्ष दिलीप घोष का इंटरव्यू:बंगाल की आत्मा में हिंदू है, TMC और लेफ्ट ने लोगों को भ्रमित किया; लेकिन इस चुनाव में लोग पुरानी परंपरा पर लौट रहे हैं

नई दिल्ली13 दिन पहलेलेखक: रवि यादव
  • कॉपी लिंक

पश्चिम बंगाल में चुनावी सरगर्मी जोरों पर है। सबकी नजरें इस बात पर हैं कि TMC और भाजपा के बीच कड़े मुकाबले में किसका पलड़ा भारी रहेगा। दैनिक भास्कर ने बंगाल के भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष से चुनावी माहौल और भाजपा की रणनीति के बारे में बातचीत की। वे कहते हैं, 'तृणमूल कांग्रेस ने दस साल में कुछ नहीं किया। ममता अब चोट के नाम पर नाटक करके लोगों को बेवकूफ बना रही हैं।' दिलीप घोष ने बंगाल चुनाव से जुड़े तमाम मुद्दों पर अपनी बात कही। पढ़िए प्रमुख अंश...

क्या बंगाल हिंदुत्व की ओर बढ़ रहा है?

हां, बिलकुल बंगाल हिंदुत्व की ओर बढ़ रहा है, बंगाल की आत्मा में हिंदू बैठा हुआ है। वंदे मातरम यहीं लिखा गया है। जितने भी महापुरुष हुए उनकी विचारधारा हिंदुत्व से प्रेरित रही। दुर्भाग्य से TMC और कम्युनिस्टों ने आकर लोगों को भ्रमित किया। एक बार लोग भटक गए थे, लेकिन अब अपनी पुरानी परंपरा पर लौट आए हैं।

एक तरफ व्हीलचेयर तो दूसरी तरफ रथयात्रा चल रही है, जनता किस आधार पर चयन करेगी?

चयन का मतलब विकास है। कौन बंगाल और वहां की जनता के हालात सुधार सकता है, मूलभूत सुविधाएं जैसे रोजगार, शिक्षा, चिकित्सा के आधार पर ही चुनाव हो रहा है। जनता ने तीनों बड़ी पार्टियों को मौका दिया, लेकिन ये कुछ नहीं कर सके। आज बंगाल पीछे जा रहा है और देश आगे जा रहा है। बंगाल में बम और बंदूक की आवाज है, सांप्रदायिक दंगे हो रहे हैं। लोग चिंता में है कि कश्मीर शांत हो गया, लेकिन बंगाल शांत नहीं हो रहा।

बंगाल चुनाव प्रचार के दौरान रोड शो करते हुए प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष।
बंगाल चुनाव प्रचार के दौरान रोड शो करते हुए प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष।

ममता कहती हैं कि TMC सरकार में कम्युनिस्ट राज की तुलना में दंगा-हत्या की घटनाओं में कमी आई है?

हमारे 140 कार्यकर्ताओं की हत्या हुई है। जो ममता बोल रही हैं उनके पास कोई रिकॉर्ड नहीं है। महिलाओं की इज्जत खतरे में है। TMC लोकतंत्र से दूर है। यहां पंचायत चुनाव नहीं होने दिया गया। 2 साल से नगरपालिका का चुनाव लंबित है। ये सब मनमानी कर रहे हैं इसलिए TMC के बड़े-बड़े नेता पार्टी छोड़कर भाग रहे हैं।

TMC ने चुनाव आयोग से कहा है कि बंगाल से केंद्रीय सुरक्षा बलों को हटाया जाए ताकि निष्पक्ष चुनाव हो सके।

पहले तो वो चुनाव में EVM और केंद्रीय सुरक्षा बलों की मांग करती थीं। यहां लोग केंद्रीय सुरक्षा बलों के लिए तरस रहे थे, केंद्रीय बल आने से जनता ने राहत की सांस ली है।

दिलीप घोष को ममता बनर्जी की चोट असली लगती है या नकली?

लोगों को तो यही लग रहा है हंसी-मजाक किया है। जिस प्रकार से उन्होंने नाटक किया है तो लोग पूछ रहे हैं कि CM ऐसा क्यों कर रही हैं, क्योंकि पिछले 10 साल में TMC ने कुछ नहीं किया, तो यह करना तो सरकार की मजबूरी है।

भाजपा का मेनिफेस्टो जारी होने के दौरान स्पीच देते हुए दिलीप घोष।
भाजपा का मेनिफेस्टो जारी होने के दौरान स्पीच देते हुए दिलीप घोष।

राकेश टिकैत बंगाल में जाकर BJP के खिलाफ प्रचार कर रहे हैं, क्या किसान आंदोलन बंगाल में चुनावी मुद्दा है?

बंगाल चुनाव में किसान आंदोलन मुद्दा नहीं है। किसान तो TMC से दुखी हैं क्योंकि किसान सम्मान निधि के छह हजार रुपए उन्हें नहीं मिल रहे हैं। किसानों की आड़ में करोड़ों का मालिक वो आंदोलन कर रहा है। किसान का टमाटर 5 रुपया खरीद कर 50 रुपए में बेचे जा रहे हैं।

अगर भाजपा किसानों का भला कर रही है तो किसानों का जमावड़ा दिल्ली बॉर्डर पर क्यों है?

ये तो BJP सरकार है जब तक सत्ता में बैठे लोगों का विरोध नहीं होगा, तब तब विपक्ष को मुद्दा नहीं मिलेगा। अगर पूरे देश का किसान परेशान होता तो पूरे देश में अपना आंदोलन करता। जो कानून मोदी सरकार ने बनाया है वो किसान हितैषी है। भाजपा सरकार ने किसानों की सम्मान निधि बढ़ाई है। अधिकतर किसान बिल से खुश हैं।

आपने कहा कि ममता बनर्जी को यदि अपनी चोट दिखानी है तो वो बरमूडा पहनें, ये कितना जायज है?

मेरा प्रश्न यह है कि क्या मुख्यमंत्री को ये सब शोभा देता है? यह जवाब उनके पास नहीं है। जिनको लोगों ने 10 साल राज करने का मौका दिया, उसका जवाब उनके पास नहीं। किसी को चोट लगी तो इलाज होना चाहिए, लेकिन उसको लेकर हमारे ही खिलाफ आन्दोलन करना। कोई ठोकर खाकर गिर जाए, चोट लग जाए तो क्या उसके लिए लोग दंगा करेंगे या BJP दफ्तर पर हमला करेंगे, क्या रोड जाम करेंगे? इसका मैंने विरोध किया था।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- कुछ रचनात्मक तथा सामाजिक कार्यों में आपका अधिकतर समय व्यतीत होगा। मीडिया तथा संपर्क सूत्रों संबंधी गतिविधियों में अपना विशेष ध्यान केंद्रित रखें, आपको कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती हैं। अनुभव...

और पढ़ें