मैनेजमेंट मंत्रागौतम बुद्ध की कही आज भी सटीक:नियम में बंधकर नहीं... चुनौतियों से लड़कर मिलेगी सफलता, यही मंत्र अपनाते हैं दिग्गज

2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

गौतम बुद्ध द्वारा दिए गए इन चार मंत्रों को जीवन में उतार कर आप हर चुनौती का सामना बिना किसी डर से कर सकते हैं...

1. जो है उसे स्वीकार करें - जिस स्थिति में आप हैं और जो कुछ भी आपके पास है उसे स्वीकार करें। यह मान लें कि आपका जीवन इस समय जो है, बस वही है। अस्थाई रूप से ही सही लेकिन मान लेने से तनाव, चिंता और डर से आप काफी हद तक मुक्त हो जाएंगे। मेडिटेशन से चीजों को स्वीकार करने की क्षमता बढ़ती है।

2. पहले विचार करें फिर निर्णय लें- अगर आप किसी खास चुनौती का सामना कर रहे हैं, तो अपनी भावनाओं को एक तरफ रख कर ही कोई योजना बनाएं। हालांकि योजना को लागू करते हुए भावनाओं को महसूस करना भी जरूरी है, लेकिन जहां तक संभव हो निष्पक्ष होकर सोचिए।

3. डर का सामना करें, उस पर काम करें- कार्रवाई करना ही चुनौतियों का सामना करने के लिए उठाया गया सबसे बड़ा कदम है। ऐसा होता है कि आप जिन चीजों का सामना कर रहे होते हैं वो आपको चुनौती लगती हैं क्योंकि कहीं न कहीं मन में डर होता है। ऐसे में सोचने और समझने की कोशिश करें कि उस परिस्थिति में आप क्या महसूस कर रहे हैं, आखिर किस चीज से डर रहे हैं। इसके बाद ही आप उस डर पर काम करके उसको कुछ कम कर सकेंगे।

4. कृतज्ञता अपनाएं- आखिर में हम अपने कंफर्ट जोन में ही रहना पसंद करते हैं। तो जब कुछ नया होता है या जीवन हमें कुछ नया सौंपता है, तो हमें लगता है इसके साथ जूझना मुश्किल होगा। कृतज्ञ होकर ही आप चुनौती की परिभाषा बदल सकते हैं। साथ ही आप वर्तमान में खुश रहना सीख जाते हैं।

सफल लोग चुनौतियों को स्वीकार करते हैं, किसी नियम में नहीं बंधते

मार्क जुकरबर्ग, फेसबुक - मैं सोचता हूं कि एक कंपनी के तौर पर अगर आप दो चीजें सही कर लेते हैं - काम की सही दिशा पकड़ लेते हैं और सही लोगों को हायर करते हैं, तो आप बहुत आगे जा सकते हैं।

माइकल डेल, डेल कंप्यूटर सीईओ - ऐसी बहुत सी चीजें हैं जो सफल होने के लिए जरूरी हैं। मुझे केवल वही करना अच्छा नहीं लगता, जो मुझे पसंद है। मुझे वो करना ज्यादा पसंद है, जो कंपनी की तरक्की के लिए जरूरी है। मैं अपने शौक पूरे करने में ज्यादा वक्त नहीं गंवाता।

इंद्रा नूयी, पेप्सिको की पूर्व सीईओ- पारंपरिक सोच के अनुसार आसान काम करने से शुरुआत करने को सही माना जाता है, लेकिन असल में ये ठीक नहीं है। आसान काम को कोई नोटिस नहीं करता। शुरुआत में ही कुछ अलग और मुश्किल चुनें। कठिन काम हाथ में लेकर खुद को चुनौती दें। जब आप कोई आसान काम करते हैं, चाहे कितना ही अच्छा करते हैं, तो कोई ध्यान नहीं देता। कठिन काम चुनेंगे तो लोग ध्यान देंगे।

बिल गेट्स, माइक्रोसॉफ्ट के फाउंडर - एक ही निर्णय दो बार न लें। पूरा समय लेकर पहली बार में ही मजबूत निर्णय लें जिससे आपको फिर कभी इस मुद्दे पर दोबारा नहीं सोचना पड़े।

जेफ बेजोस, अमेजन- कुछ नया करना चाहते हैं, तो उस पर फोकस करें और जिद पालें। जिद इतनी तेज होनी चाहिए कि लोगों को आप पागल लगें।

स्टीव जॉब्स, एपल- अगर आप ध्यान दें, तो अधिकतर ओवरनाइट सक्सेस के पीछे बहुत लंबा संघर्ष है।

खबरें और भी हैं...