पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • Farmers Left For Delhi By Breaking Barricades From Singhu Border, Farmers March On Tiki Border

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

21 तस्वीरों में प्रदर्शनकारियों का तांडव:किसानों ने हक के लिए हद पार कर दी; दिल्ली की सड़कों पर 11 घंटे तक उत्पात, टकराव और हिंसा

नई दिल्लीएक महीने पहले
तीन नए कृषि कानूनों के विरोध में मंगलवार को किसानों ने दिल्ली में ट्रैक्टर परेड निकाली। आईटीओ के पास पुलिस ने लाठीचार्ज किया।

26 जनवरी के दिन किसानों की प्रस्तावित ट्रैक्टर परेड ट्रैक से उतर गई। इसकी शुरुआत सुबह साढ़े आठ बजे जबदस्ती दिल्ली में दाखिल होने से हुई। दिनभर हिंसा और उत्पात के बाद आखिरकार किसान संगठनों ने शाम को इसे तुरंत बंद करने का ऐलान किया। 11 घंटे की इस परेड के दौरान किसानों ने पुलिस बैरिकेड्स तोड़े। पुलिस वाहन और सरकारी बसों को नुकसान पहुंचाया।

पुलिस ने रोका तो उनसे भिड़ गए और पत्थरबाजी भी की। कुछ ने तो पुलिस पर ट्रैक्टर तक चढ़ाने की कोशिश की। प्रदर्शन के दौरान निहंगों के जत्थे ने तलवारें लहराईं। इन सब घटनाओं ने दो महीने से शांतिपूर्ण तरीके से चल रहे इस आंदोलन को अराजकता का रंग दे दिया। परेड के दौरान हक के लिए किसानों ने हद कैसे पार की, देखिए 21 तस्वीरों में...

दिल्ली के सिंघु बॉर्डर पर किसानों के ट्रैक्टर रैली का स्वागत फूलों के साथ किया गया।
दिल्ली के सिंघु बॉर्डर पर किसानों के ट्रैक्टर रैली का स्वागत फूलों के साथ किया गया।
गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों ने कंटेनर को ट्रैक्टर से हटाया और दिल्ली में दाखिल हुए।
गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों ने कंटेनर को ट्रैक्टर से हटाया और दिल्ली में दाखिल हुए।
ITO के पास पुलिस को खदेड़ने के लिए प्रदर्शनकारी भीड़ में ही ट्रैक्टर दौड़ाने लगा।
ITO के पास पुलिस को खदेड़ने के लिए प्रदर्शनकारी भीड़ में ही ट्रैक्टर दौड़ाने लगा।
दिल्ली पुलिस के इस जवान को भीड़ ने घेर लिया। जान बचाने के लिए उसे हाथ जोड़ना पड़ा।
दिल्ली पुलिस के इस जवान को भीड़ ने घेर लिया। जान बचाने के लिए उसे हाथ जोड़ना पड़ा।
दिल्ली आईटीओ के पास बैरिकेड तोड़ने की कोशिश कर रहा एक ट्रैक्टर पलट गया।
दिल्ली आईटीओ के पास बैरिकेड तोड़ने की कोशिश कर रहा एक ट्रैक्टर पलट गया।
आईटीओ पर ट्रैक्टर हादसे में किसान की मौत हो गई। वह हाल ही में ऑस्ट्रेलिया से लौटा था।
आईटीओ पर ट्रैक्टर हादसे में किसान की मौत हो गई। वह हाल ही में ऑस्ट्रेलिया से लौटा था।
अक्षरधाम के पास रिंग रोड पर एक निहंग ने पुलिस पर तलवार लहरा दी।
अक्षरधाम के पास रिंग रोड पर एक निहंग ने पुलिस पर तलवार लहरा दी।
अक्षरधाम के पास बैरिकेड पर चढ़े निहंग ने पुलिस को तलवार दिखाते हुए ललकारा।
अक्षरधाम के पास बैरिकेड पर चढ़े निहंग ने पुलिस को तलवार दिखाते हुए ललकारा।
किसानों का रास्ता रोकने के लिए नांगलोई में महिला जवान सड़क पर बैठ गईं।
किसानों का रास्ता रोकने के लिए नांगलोई में महिला जवान सड़क पर बैठ गईं।
पांडवनगर के पास पुलिस के लगाए बैरिकेड्स को तोड़ने की कोशिश करते हुए किसान।
पांडवनगर के पास पुलिस के लगाए बैरिकेड्स को तोड़ने की कोशिश करते हुए किसान।
किसान आंदोलन के चर्चित गायक कंवर ग्रेवाल सिंघु बॉर्डर से किसानों के जत्थे के साथ रहे।
किसान आंदोलन के चर्चित गायक कंवर ग्रेवाल सिंघु बॉर्डर से किसानों के जत्थे के साथ रहे।
आईटीओ के पास ही कुछ हुड़दंगियों ने पुलिस पर पत्थरबाजी की। वे लाठी-डंडों से लैस थे।
आईटीओ के पास ही कुछ हुड़दंगियों ने पुलिस पर पत्थरबाजी की। वे लाठी-डंडों से लैस थे।
आईटीओ में प्रदर्शनकारी भीड़ पर आंसू गैस के गोले छोड़ते पुलिस के जवान।
आईटीओ में प्रदर्शनकारी भीड़ पर आंसू गैस के गोले छोड़ते पुलिस के जवान।
आईटीओ के पास प्रदर्शनकारियों ने पुलिस के जवानों पर लाठी-डंडों से हमला कर दिया।
आईटीओ के पास प्रदर्शनकारियों ने पुलिस के जवानों पर लाठी-डंडों से हमला कर दिया।
दिल्ली के पांडवनगर में प्रदर्शनकारियों ने सरकारी बसों में तोड़फोड़ की।
दिल्ली के पांडवनगर में प्रदर्शनकारियों ने सरकारी बसों में तोड़फोड़ की।
लाल किला के पास प्रदर्शनकारियों ने पुलिस के एक जवान की लाठी-डंडों से पिटाई की।
लाल किला के पास प्रदर्शनकारियों ने पुलिस के एक जवान की लाठी-डंडों से पिटाई की।
हिंसा भड़कते देख रेलवे स्टेशन जा रहे आम लोग डर गए और सुरक्षित स्थानों पर भागने लगे।
हिंसा भड़कते देख रेलवे स्टेशन जा रहे आम लोग डर गए और सुरक्षित स्थानों पर भागने लगे।
पुलिस की बैरिकेडिंग को तोड़ते हुए किसानों का काफिला दिल्ली के लाल किले तक पहुंच गया।
पुलिस की बैरिकेडिंग को तोड़ते हुए किसानों का काफिला दिल्ली के लाल किले तक पहुंच गया।
आखिरकार प्रदर्शनकारी ट्रैक्टर लेकर लाल किला पहुंच गए। यहां उन्होंने अपना झंडा फहराया।
आखिरकार प्रदर्शनकारी ट्रैक्टर लेकर लाल किला पहुंच गए। यहां उन्होंने अपना झंडा फहराया।
आईटीओ बवाल का मुख्य केंद्र रहा। देर शाम वहां आम लोग वाहनों से आते-जाते दिखे।
आईटीओ बवाल का मुख्य केंद्र रहा। देर शाम वहां आम लोग वाहनों से आते-जाते दिखे।
देर शाम लाल किले पर जवानों की तैनाती बढ़ा दी गई। उस समय किसान लौटने लगे थे।
देर शाम लाल किले पर जवानों की तैनाती बढ़ा दी गई। उस समय किसान लौटने लगे थे।
खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- किसी विशिष्ट कार्य को पूरा करने में आपकी मेहनत आज कामयाब होगी। समय में सकारात्मक परिवर्तन आ रहा है। घर और समाज में भी आपके योगदान व काम की सराहना होगी। नेगेटिव- किसी नजदीकी संबंधी की वजह स...

और पढ़ें