• Hindi News
  • Db original
  • Jatan Quit His Job And Started Electric Tooth Brush Startup, Business Of 60 Lakhs In 5 Months, Marketing Abroad Too

आज की पॉजिटिव खबर:जतन ने नौकरी छोड़ इलेक्ट्रिक टूथ ब्रश का स्टार्टअप शुरू किया, 5 महीने में 60 लाख का बिजनेस

नई दिल्ली5 महीने पहलेलेखक: इंद्रभूषण मिश्र

महाराष्ट्र के रहने वाले जतन बावा ने इसी साल अगस्त में ओरल केयर का स्टार्टअप शुरू किया। वे इलेक्ट्रिक टूथ ब्रश, माउथ वॉश, टंग क्लीनर जैसे प्रोडक्ट की देशभर में मार्केटिंग कर रहे हैं। भारत के बाहर भी कनाडा, सिंगापुर, UAE जैसे देशों में भी उनके प्रोडक्ट की डिमांड है। महज 5 महीने में उन्होंने 60 लाख का कारोबार किया है। इसके साथ ही करीब एक दर्जन लोगों को उन्होंने रोजगार भी दिया है।

28 साल के जतन बावा ने दिल्ली यूनिवर्सिटी से बीकॉम की पढ़ाई की है। साल 2014 से अक्टूबर 2020 तक उन्होंने अलग-अलग कंपनियों में काम किया। इस दौरान उन्हें बिजनेस स्ट्रैटजी और डिजिटल मार्केटिंग में काफी कुछ सीखने को मिला। कई कंपनियों में उन्होंने लीडिंग पोजिशन में भी काम किया।

नए-नए स्टार्टअप शुरू हो रहे थे, हम भी खुद का कुछ करना चाहते थे

भास्कर से बात करते हुए जतन कहते हैं कि कोरोना के दौरान कई चीजें बहुत तेजी से बदल रही थीं। कई लोग अपनी नौकरी छोड़कर खुद का स्टार्टअप शुरू कर रहे थे। मेरे मन में खुद का कुछ शुरू करने का ख्याल आ रहा था। उसी दौरान मेरे दोस्त तुषार खुराना ने मुझे फोन किया और कहा, हम अपना काम क्यों नहीं करते हैं? कब तक हम दूसरी कंपनियों के लिए खुद को खपाएंगे। हम अपनी कंपनी भी तो शुरू कर सकते हैं।'

जतन बावा ने दिल्ली यूनिवर्सिटी से बीकॉम की पढ़ाई की है। बिजनेस और डिजिटल मार्केटिंग के फील्ड में उनका अच्छा खासा अनुभव रहा है।
जतन बावा ने दिल्ली यूनिवर्सिटी से बीकॉम की पढ़ाई की है। बिजनेस और डिजिटल मार्केटिंग के फील्ड में उनका अच्छा खासा अनुभव रहा है।

जतन कहते हैं कि तुषार ने मेरे साथ कुछ सालों तक काम किया था। बिजनेस और मार्केटिंग में उनका भी अच्छा-खासा अनुभव था। इसलिए मुझे उनका आइडिया पसंद आया और तय किया कि खुद का कुछ शुरू करना है। हालांकि हमारे सामने दिक्कत ये थी कि किस फील्ड में स्टार्टअप शुरू करना है। क्योंकि मार्केट में पहले से करीब हर फील्ड में लोग काम कर रहे हैं। ऐसे में कुछ नया या अलग हटकर नहीं हो तो फिर कोई हमारा प्रोडक्ट क्यों खरीदेगा।

8 महीने की रिसर्च के बाद शुरू किया स्टार्टअप

इसके बाद तुषार के साथ मिलकर जतन ने अलग-अलग बिजनेस आइडिया को लेकर रिसर्च शुरू की। हर सेक्टर की मार्केटिंग को समझने की कोशिश की। करीब 8 महीने की मेहनत के बाद उन्होंने तय किया कि ओरल केयर सेक्टर में बिजनेस के लिहाज से अभी बहुत ज्यादा स्कोप है। जतन कहते हैं,' जब मैं छोटा था तो ओरल बी ब्रांड का ब्रश यूज करता था और बड़ा होने के बाद भी वही ब्रश इस्तेमाल कर रहा हूं। यही हाल टूथ पेस्ट और माउथ वॉश को लेकर भी है। मुझे लगा कि इस सेक्टर में बहुत कुछ पुराना ही चल रहा है। अगर हम कुछ नया करते हैं तो इसमें कामयाबी मिलनी तय है।'

तुषार को भी प्लान पसंद आया। दोनों ने मिलकर कुछ ओरल केयर ब्रांड्स की स्टडी की, कुछ एक्सपर्ट्स से बात की और फिर अगस्त 2021 में Perfora नाम से अपना स्टार्टअप शुरू किया। इसके लिए गुरुग्राम में दफ्तर खोला और पहला प्रोडक्ट इलेक्ट्रिक ब्रश के रूप में लॉन्च किया।

शुरुआती दिनों में ही सभी प्रोडक्ट सोल्ड आउट हो गए

जतन बताते हैं कि उनके प्रोडक्ट की डिमांड भारत के साथ दुबई, सिंगापुर, कनाडा सहित कई देशों में भी है।
जतन बताते हैं कि उनके प्रोडक्ट की डिमांड भारत के साथ दुबई, सिंगापुर, कनाडा सहित कई देशों में भी है।

जतन कहते हैं कि इलेक्ट्रिक ब्रश तैयार करने के बाद हमने खुद की वेबसाइट से मार्केटिंग शुरू की। फिर सोशल मीडिया और गूगल एड्स के जरिए प्रमोशन शुरू किया। शुरुआती दिनों में ही हमें काफी अच्छा रिस्पॉन्स मिला। हमें इतने ऑर्डर मिले कि हमारा स्टॉक खत्म हो गया। हमें अपनी वेबसाइट पर सोल्ड आउट लिखना पड़ा गया। इसके बाद हमने टीम बढ़ाई, प्रोडक्शन बढ़ाया और फिर हम डिमांड के मुताबिक लोगों को प्रोडक्ट प्रोवाइड कराने लगे। इसके बाद हमने दूसरे ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म यानी अमेजन और फ्लिपकार्ट के जरिये अपनी मार्केटिंग शुरू की। इसका फायदा यह हुआ कि ग्लोबल प्लेटफॉर्म पर हमारे प्रोडक्ट की डिमांड आने लगी।

अभी जतन के पास इलेक्ट्रिक टूथ ब्रश, टंग क्लीनर, माउथ वॉश और वाटर फ्लॉसर जैसे प्रोडक्ट हैं। हर दिन करीब 50-60 ऑर्डर उन्हें मिल रहे हैं। प्रोडक्ट की मैन्युफैक्चरिंग के लिए उन्होंने हॉन्गकॉन्ग की एक कंपनी से टाइअप किया है। जो जतन की डिमांड और डिजाइन के मुताबिक प्रोडक्ट तैयार करती है। पिछले 5 महीने में करीब 60-70 लाख का बिजनेस जतन की कंपनी ने की है।

क्यों खास है इलेक्ट्रिक टूथ ब्रश?

जतन कहते हैं कि देश में अभी कुछ ही कंपनियां इलेक्ट्रिक ब्रश बनाती हैं। साथ ही बहुत कम लोग इस तरह के ब्रश का इस्तेमाल करते हैं। हमने अपने प्रोडक्ट की डिजाइनिंग और प्राइस उस हिसाब से रखी है कि ज्यादा से ज्यादा लोग इसका इस्तेमाल कर सकें। इसमें एक बार बैट्री लगाने पर तीन महीने तक इसका इस्तेमाल किया जा सकता है। साथ ही इसमें एक टाइमर भी लगा है, जो 2 मिनट पूरा होते ही हमें अलर्ट करेगा और ऑटोमेटिक ऑफ हो जाएगा। इसके ब्रिस्टल काफी सॉफ्ट हैं, जिससे दांतों की सफाई भी अच्छे होती है और नुकसान भी नहीं होता।

इस इलेक्ट्रिक ब्रश में एक बार बैट्री लगाने पर 3 महीने तक इसका इस्तेमाल किया जा सकता है। इसमें दो छोटी बैट्री लगती है।
इस इलेक्ट्रिक ब्रश में एक बार बैट्री लगाने पर 3 महीने तक इसका इस्तेमाल किया जा सकता है। इसमें दो छोटी बैट्री लगती है।

जतन कंप्लीट पैक प्रोवाइड कर रहे हैं। जिसमें इलेक्ट्रिक ब्रश के साथ ही टंग क्लीनर, माउथ वॉश और वाटर फ्लॉसर जैसे प्रोडक्ट हैं। साथ ही वे एक पैक में दो ब्रश हेड भी प्रोवाइड करते हैं। इसकी कीमत 1500 रुपए से शुरू होती है।

जतन कहते हैं कि इलेक्ट्रिक ब्रश इसलिए जरूरी है क्योंकि ज्यादातर लोग अपने दांतों पर जोर-जोर से ब्रश घिसते हैं। कई लोग काफी देर तक ब्रश करते हैं तो कई लोग काफी कम वक्त तक। ऐसे में दांतों को काफी नुकसान पहुंचता है। जबकि इस ब्रश के इस्तेमाल से ये दिक्कतें नहीं आएंगी। ये टाइमर के जरिए हमें गाइड करता रहेगा।

बिजनेस के लिहाज से कितना डिमांडिंग है ओरल केयर स्टार्टअप

ओरल केयर ब्रांड्स हमारी जरूरत का हिस्सा हैं। अब तो गांवों में भी लोग टूथ ब्रश और पेस्ट का इस्तेमाल खूब कर रहे हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक भारत में ओरल केयर प्रोडक्ट का मार्केट करीब 15 हजार करोड़ रुपए का है। अगर कॉम्पिटिशन की बात की जाए तो इस फील्ड में कम ही कंपनियां और स्टार्टअप काम कर रहे हैं। ऐसे में इस सेक्टर में अगर कुछ नया किया जाए तो बिजनेस का लिहाज से अच्छा स्कोप है। पिछले कुछ सालों में ईकोफ्रेंडली और इनोवेटिव ओरल केयर स्टार्टअप तेजी से बढ़े हैं। खासकरके कोरोना के बाद।

पुणे में रहने वाले सूरज सैद ने ऐसी ही एक पहल की है। वे देश भर में बांस से बने टूथ ब्रश की मार्केटिंग कर रहे हैं। हर महीने उन्हें 250 से 300 ऑर्डर मिल रहे हैं। उनकी कंपनी का टर्नओवर 10 लाख रुपए है। (पढ़िए पूरी खबर)