करिअर फंडाइंटरव्यू क्रैक करने के 6 पावर टिप्स:आई कॉन्टैक्ट बनाए रखें, रटे हुए उत्तर न दें

2 महीने पहले

‘सफलता की एक महत्वपूर्ण कुंजी आत्मविश्वास है। आत्मविश्वास की एक महत्वपूर्ण कुंजी तैयारी है।’

- आर्थर ऐश (तीन ग्रैंड स्लैम सिंगल टाइटल विजेता अमेरिकी टेनिस प्लेयर)

करिअर फंडा में स्वागत!

इंटरव्यू का भय

क्या आपको इंटरव्यू में जाने से डर लगता है? क्या इंटरव्यू के दौरान आप की घिग्गी बंध जाती है? इंटरव्यू से पहले की रात तनाव के कारण आप को नींद नहीं आती, हाथों में पसीना आता है? ये प्रॉब्लम प्रोफेशनल्स और कॉम्पिटिटिव एग्जाम एस्पिरैंट्स दोनों के साथ होती है।

वैसे भी, कॉम्पिटिटिव एग्जाम में बैठने के बाद, दो प्रश्न अधिकांश छात्रों को डराते हैं – पहला - क्या मैं पर्याप्त अंकों के साथ कॉम्पिटिटिव एग्जाम्स पास करूंगा? दूसरा - एक बार जब मैं इसे पास कर लेता हूं, तो मैं इंटरव्यू के दौर में कैसे सफल हो सकता हूं?

आज मैं आप को कुछ ऐसे पावर टिप्स बताऊंगा जो इंटरव्यू की तैयारी में आपकी जबरदस्त मदद करेंगे।

इंटरव्यू क्रैक करने के छह पावर टिप्स

1) कॉन्फिडेंट दिखें: यह किसी भी इंटरव्यू की सबसे बड़ी आवश्यकता है।

A) यह आपकी बॉडी लैंग्वेज (चलने, बोलने इत्यादि) में झलकना चाहिए।

B) इंटरव्यू में आई कॉन्टैक्ट बनाए रखें, ताकि पता चले कि आपकी ईमानदारी, आत्मविश्वास और रुचि ठीक है।

C) आई कांटेक्ट बनाए रखने का मतलब घूरना नहीं होता, सहज रहें!

D) कोई भी इंटरव्यू पैनल एक लड़खड़ाते कैंडिडेट को नहीं चुनना चाहेगा।

2) प्रिपरेशन एंड रिसर्च: अच्छा कॉन्फिडेंस अच्छी तैयारी से ही आता है, इसलिए इंटरव्यू की तैयारी पर्याप्त रिसर्च पर आधारित हो।

A) आपके द्वारा पिछले एक या दो वर्षों में किए गए कार्यों के बारे में आपको सब कुछ अच्छे से पता होना चाहिए।

B) यदि आप किसी कॉलेज या यूनिवर्सिटी में एडमिशन के लिए इंटरव्यू दे रहे हैं तो आप जिस कोर्स में प्रवेश लेना चाहते हैं, उसके बारे में आपको जितना हो सके उतना पता होना चाहिए।

C) एक उम्मीदवार को इस तरह के सवालों के लिए तैयार रहना चाहिए कि वह इस कोर्स/जॉब क्यों करना चाहता है; कोर्स पूरा करने के बाद वह क्या करेगा; वह बाद में समाज में कैसे योगदान देगा; वह क्यों सोचता है कि उसे चुना जाना चाहिए; उसके अद्वितीय गुण क्या हैं; उसकी ताकत और कमजोरियां क्या हैं।

D) ईमानदारी से की गई रिसर्च और तैयारी अपने आप आपकी बोली में झलकेगी।

3) शिष्टाचार बनाए रखें: शिष्टाचार, विनम्रता और सही व्यवहार का नियम है।

A) शिष्टाचार सम्मान दिखाने का तरीका है। यदि आप शिष्टाचार बनाए रखने में सफल होते हैं, तो यह इंटरव्यूकर्ता को दिखाता है कि आप विभिन्न स्थितियों और परिदृश्यों को संभालने में कितने सक्षम हैं।

B) इंटरव्यू रूम में जाते ही पूरे इंटरव्यू पैनल का गुडमॉर्निंग या नमस्कार इत्यादि द्वारा उचित अभिवादन कीजिए।

C) इंटरव्यू के दौरान किसी प्रश्न पर फंस जाने पर अशिष्टता से बोलने से बचने का प्रयास करें और किसी प्रश्न का उत्तर पता नहीं होने पर या निराश होने पर कठोर उत्तर नहीं दें।

D) आपका अशिष्ट व्यवहार आपको पल भर में बाहर कर देगा।

4) फिजिकल अपीयरेंस: कहा गया है 'फर्स्ट इम्प्रैशन इस द लास्ट इम्प्रैशन।'

A) इंटरव्यू में जाने से पहले अच्छे से नहाएं, साफ धुले/इस्त्री किए हुए फॉर्मल कपड़े पहने, इसमें फुटवियर भी शामिल है। एक अच्छा बेल्ट लगाएं।

B) खुशबू के लिए हलके डियो का उपयोग करें और चलती-फिरती इत्र की दुकान न बनें।

C) इमरजेंसी में उपयोग के लिए जेब में एक हाथ रूमाल जरूर रखें।

D) आपकी अच्छी फिजिकल अपीयरेंस यह मैसेज देती है की आप अपना ख्याल रखने में समर्थ हैं, तो आप जॉब के दौरान आने वाले कर्तव्यों और जिम्मेदारियों को भी निभा पाएंगे।

5) सही बॉडी लैंग्वेज: ये सबसे इम्पॉर्टेन्ट है।

A) सिटिंग पॉस्चर – इंटरव्यूअर के सामने कुर्सी पर सीधे बैठें, किसी एक और बॉडी का पूरा वजन डाल कर, झूलते हुए नहीं। हाथों को, और अपने सामान को, इंटरव्यूअर की टेबल पर रखने की सलाह नहीं दी जाती।

B) यदि आपके पास फाइल है तो उसे अपनी गोद में रखें। कुर्सी पर सीधे बैठना आत्मविश्वास और विश्वसनीयता का संकेत देता है।

C) चेहरे पर हलकी मुस्कान रखें। ज्यादा चौड़ी मुस्कान गलत होगी।

D) हैंड मूवमेंट – नर्वस होकर उंगलियों को एक दूसरे में फंसाना नहीं चाहिए। बोलते समय हाथों और खुली हथेलियों का उचित उपयोग आपकी ईमानदारी और खुलेपन को दिखाता है। बाकी समय हाथों को गोद में रखें। बोलते समय मुट्ठी बंद करना, हथेलियों को रगड़ना आदि बताता है की आप घबराए हुए हैं। और सबसे जरूरी है एक सहज मुस्कान!

6) लीक से हटकर सोच: पारंपरिक रटे/रटाए उत्तरों के साथ न आएं।

A) पारंपरिक उत्तर वे उत्तर होते हैं जिन्हें पारम्परिक तौर पर उम्मीदवार तैयार कर के उत्तर देते हैं। जैसे आपकी हॉबी क्या है? इस विषय का उत्तर कई बार अधिकतर लोग म्यूजिक सुनना या किताब पढ़ना या सिक्के इकठ्टा करना बोल देते हैं, लेकिन वास्तव में यह उनकी हॉबी नहीं, तो वे आगे के प्रश्नों के सेटिस्फैक्ट्री उत्तर नहीं दे पाते।

B) यहां पर ऑनेस्टी इस द बेस्ट पॉलिसी होती है। आप की जो भी हॉबी है वही बताएं, ये खाना बनाने से लेकर इंटीरियर डेकोरेशन और टीवी सीरीज देखने से लेकर योगासन करने तक कुछ भी हो सकती है। बस उस पर आने वाले प्रश्न अच्छे होंगे, तो तैयार रहें।

इसके अलावा इंटरव्यू में जाने से पहले बोलने का पर्याप्त अभ्यास करें, सकारात्मक रहें, औपचारिक भाषा का प्रयोग करें और इंटरव्यू में सफलता हासिल करें।

आज का करिअर फंडा यह है कि इंटरव्यू एक बेहतरीन मौका होता है खुद को परखने का, और अपनी फ्यूचर पॉसिबिलिटी बढ़ाने का; तो उसे व्यर्थ न गवाएं, बल्कि पूरी तैयारी के साथ क्रैक करें।

कर के दिखाएंगे!

इस कॉलम पर अपनी राय देने के लिए यहां क्लिक करें।

करिअर फंडा कॉलम आपको लगातार सफलता के मंत्र बताता है। जीवन में आगे रहने के लिए सबसे जरूरी टिप्स जानने हों तो ये करिअर फंडा भी जरूर पढ़ें...

1) डेल कार्नेगी की किताब से 5 सबक:बहस से बचें, हमेशा मुस्कुराते रहें, दूसरे की सेल्फ रेस्पेक्ट बनाए रखें

2) स्पेशल चिल्ड्रन के लिए जरूरी स्पेशल पेरेंटिंग:6 तरीके जो स्पेशल नीड बच्चों की देखभाल बनाएंगे आसान

3) एलेक्जेंडर द ग्रेट के जीवन से लीजिए 4 सबक:वैज्ञानिक सोच और सोशल इंटेलिजेंस से असंभव भी संभव होगा

4) मूवी ‘द ग्रेट एस्केप’ से जीवन के 4 सबक:सबसे मुश्किल हालात में भी लड़ने की इच्छा ही सफलता दिलाएगी

5) 7 अंग्रेजी शब्दों की कहानी से मजबूत कीजिए इंग्लिश:सैंडविच है इंग्लैंड का टाउन...अंग्रेजी में शैम्पू शब्द हिंदी से आया था

6) GK और GS की तैयारी के लिए 5 पावर कॉन्सेप्ट्स:इन्हें समझिए और हर कॉम्पीटिशन के लिए हो जाइए तैयार

7) खत्म होने वाले हैं ये 5 प्रोफेशन्स:सावधान रहिए, अपने स्किल्स को अपग्रेड कर पाएं जॉब सिक्योरिटी