भास्कर एक्सक्लूसिवशादी-बच्चे चाहती थी श्रद्धा, प्रेग्नेंसी की बात गलत:सोशल वर्कर श्रेहा बोलीं- उसके सीने में दर्द था, एक्ट्रेस सागरिका बयान पर कायम

4 महीने पहलेलेखक: पूनम कौशल

श्रद्धा वालकर मर्डर से जुड़ा एक बड़ा दावा सवालों के घेरे में है। मराठी एक्ट्रेस सागरिका सोना सुमन ने दावा किया था कि उन्होंने सोशल वर्कर श्रेहा धारगलकर और श्रद्धा को एक बीच क्लीन ड्राइव के दौरान बात करते सुना था। इस बातचीत में श्रद्धा ने दो बार प्रेग्नेंट होने और जबरदस्ती अबॉर्शन करवाए जाने का जिक्र किया था।

दैनिक भास्कर से बातचीत में श्रेहा ने श्रद्धा के प्रेग्नेंट होने के दावे को गलत बताया है। श्रेहा ने कहा- जनवरी-फरवरी 2021 के बीच हुई क्लीन अप ड्राइव के दौरान मैं श्रद्धा वालकर से मिली थी। उसने मुझसे कभी प्रेग्नेंट होने का जिक्र नहीं किया था। उसके साथ मेरी इस तरह की कोई बातचीत नहीं हुई थी।

श्रेहा आगे कहती हैं- मैं इस तरह की खबरों से बहुत दुखी हूं। मैंने किसी से इस तरह की बात नहीं की है। मैंने सिर्फ एक रिपोर्टर से बात की थी और कहा था कि मैं श्रद्धा से एक बार मिली थी। इसके अलावा मैंने इस बारे में कोई बात नहीं की। श्रद्धा के बारे में इस तरह की बातें सुन-पढ़कर मुझे बहुत बुरा लग रहा है।

हालांकि सागरिका ने भी दैनिक भास्कर से संपर्क कर श्रेहा के बयान पर अपना पक्ष रखा है। सागरिका के मुताबिक उन्होंने श्रद्धा को सोशल वर्कर्स के साथ प्रेग्नेंसी और अबॉर्शन के बारे में बात करते हुए सुना था। उन्होंने कभी ये दावा नहीं किया था कि जब श्रद्धा ये सब कह रही थी तो श्रेहा भी वहां मौजूद थीं। सागरिका अब भी अपने बयान पर कायम हैं कि श्रद्धा प्रेग्नेंट हुई थी और आफताब के दबाव में शायद उसे अबॉर्शन कराना पड़ा था।

शादी और बच्चे चाहती थी श्रद्धा
श्रेहा ने बताया कि श्रद्धा शादी और बच्चे चाहती थी। उस दिन उसके सीने में दर्द हो रहा था। उसने बताया था कि उसे दो-तीन दिनों से चेस्ट पेन हो रहा है। मैंने उसे एक डॉक्टर का नंबर दिया था और उन्हें दिखाने को कहा था। मैंने उससे कहा था कि डॉ. काबरा अच्छे हार्ट स्पेशलिस्ट हैं। तुम इस दर्द को नजरअंदाज मत करो और उन्हें दिखाओ। मुझे ये भी नहीं पता है कि वो डॉक्टर के पास गई थी या नहीं।

ऐसा दावा किया जा रहा है कि श्रद्धा को ये दर्द मारपीट की वजह से हो रहा था। आफताब ने उसके साथ मारपीट की थी, जिसकी वजह से उसके चेस्ट में दर्द था।

श्रेहा कहती हैं कि मैंने श्रद्धा को बताया था कि मेरी एक बेटी है। तब उसने कहा था कि वो भी शादी करना चाहती है और परिवार बढ़ाना चाहती है। उसने कहा था कि मुझे नौकरी करना पसंद है और मुंबई भी बहुत पसंद है। इसके बाद दोबारा हम कभी नहीं मिले।

डॉक्टर काबरा बोले- आफताब हिंसक था
डॉ. काबरा मुंबई के एक मल्टीस्पेशियलिटी हॉस्पिटल में काम करते हैं। उन्होंने एक बयान में कहा है कि श्रद्धा ने अपने मानसिक तनाव, आफताब के गुस्से और हिंसक बर्ताव के बारे में मुझसे फरवरी 2021 में सलाह ली थी। मैंने उन्हें मिलने के लिए बुलाया था। आफताब को किसी मनोवैज्ञानिक से मिलवाने की सलाह भी दी थी। हालांकि वो कभी मेरे पास नहीं आई।

इस बीच क्लीन अप ड्राइव कराने वाले जर्नलिस्ट ने अपना नाम न जाहिर करते हुए बताया कि हमने जनवरी और फरवरी 2021 में ये क्लीन अप ड्राइव की थी। हम रविवार को इसे करते थे। पहले दो रविवार बहुत कम लोग आए। आखिरी रविवार करीब 40 लोग पहुंचे थे। श्रद्धा भी उनमें थी।

उनके मुताबिक इस क्लीन अप ड्राइव के दौरान उनकी श्रद्धा या किसी और लड़की से कोई बात नहीं हुई थी। वे बताते हैं कि छह-सात लड़कियां आईं थीं, जिनमें दो सोशल वर्कर और दो-तीन आर्टिस्ट थीं। वे आपस में बातचीत कर रहीं थीं, लेकिन उनके बीच क्या बात हुई थी, ये मुझे नहीं पता।

मराठी एक्ट्रेस सागरिका ने किया था श्रद्धा के प्रेग्नेंट होने का दावा
मराठी अभिनेत्री सागरिका सोना सुमन ने दावा किया थी कि श्रद्धा ने बीच पर तीन-चार लोगों को बताया था कि वो गर्भवती हो गई है और बच्चा पैदा करना चाहती है। वह अपने प्रेमी आफताब से शादी करना चाहती है। श्रद्धा ने ये भी बताया था कि उसने आफताब के साथ रहने के लिए अपने परिवार को छोड़ दिया है।

दैनिक भास्कर ने सागरिका से बात करने की कोशिश की, लेकिन फिलहाल उनसे संपर्क नहीं हो सका है। उनसे बात होते ही उनका पक्ष भी स्टोरी में अपडेट कर दिया जाएगा।

आफताब के घर से आरी मिली
दिल्ली पुलिस के सूत्रों के मुताबिक आफताब के घर में तलाशी के दौरान एक आरी मिली है। फिलहाल यह पुष्टि नहीं की जा सकती है कि यह वही हथियार है, जिससे उसने श्रद्धा की लाश के टुकड़े किए थे। जब तक इसकी फोरेंसिक जांच नहीं हो जाती, कोई दावा नहीं किया जा सकता। पुलिस ने बताया कि ईस्ट दिल्ली में एक लड़की की डेड बॉडी मिली है। आशंका है कि यह श्रद्धा की हो सकती है। पुलिस अब DNA मैच करेगी।

दावे के मुताबिक श्रद्धा 3 दिन तक अस्पताल में भर्ती रही थी। श्रद्धा के दोस्तों ने आरोप लगाए थे कि आफताब श्रद्धा से मारपीट करता था। श्रद्धा के दोस्त गोडविन ने भी पुलिस को बताया है कि शुरू में आफताब ने उससे शादी करने का वादा किया था। श्रद्धा ने बताया था कि आफताब ने उसे 14 से 15 बार पीटा था। आफताब वीकेंड में ड्रग्स लेता था और आधी रात में ड्रग्स सप्लाई करता था।

श्रद्धा की फोटो सामने आई, चेहरे पर चोट के निशान
श्रद्धा मर्डर केस में एक तस्वीर सामने आई है। फोटो में श्रद्धा के चेहरे पर चोटों के निशान नजर आ रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक ये फोटो श्रद्धा के एक दोस्त ने शेयर की है। उसने दावा किया है कि 2 साल पहले दिसंबर 2020 में आफताब ने श्रद्धा को बेरहमी से पीटा था। उसके बाद श्रद्धा को ये चोटें आई थीं। दोनों 2019 से रिलेशन में थे।

श्रद्धा के दोस्त ने उसकी यही फोटो शेयर की है। इसमें चेहरे पर चोट के निशान दिख रहे हैं। फोटो दो साल पहले की बताई जा रही है।
श्रद्धा के दोस्त ने उसकी यही फोटो शेयर की है। इसमें चेहरे पर चोट के निशान दिख रहे हैं। फोटो दो साल पहले की बताई जा रही है।

28 साल के आफताब ने 18 मई को श्रद्धा का मर्डर किया था और उसके 35 टुकड़े कर जंगल में फेंके थे। लगातार चौथे दिन पुलिस महरौली के जंगलों में श्रद्धा के बॉडी पार्ट्स तलाश करने गई है। आफताब ने पुलिस पूछताछ में कुबूल किया है कि उसने पहचान छिपाने के लिए श्रद्धा का चेहरा जला दिया था। पुलिस को अब तक 13 टुकड़े मिले हैं। इनकी फोरेंसिक और DNA जांच होगी

11 सबूतों पर टिकी जांच, मर्डर वेपन नहीं मिला तो भी आफताब को होगी फांसी

आफताब अभी कस्टडी में है, लेकिन सवाल उठ रहे हैं कि अब तक पुलिस को न मर्डर वेपन मिला, न ही श्रद्धा की लाश का सिर। आफताब अपने कबूलनामे से पलट गया तो क्या होगा? पुलिस सूत्रों के मुताबिक अब तक केस से जुड़े 11 अहम सबूत और गवाह मिले हैं। UP के पूर्व DGP विक्रम सिंह कहते हैं कि आफताब को लगता है कि बॉडी को टुकड़ों में काटकर गायब करने और मर्डर वेपन छिपाने से वह बच जाएगा, तो वह गलतफहमी में है।
पढ़िए पूरी खबर...

एक ने लाश सूटकेस, दूसरे ने फ्रीजर में डाली, आफताब जैसे टॉक्सिक पार्टनर को जल्द पहचानें

आफताब पूनावाला की दरिंदगी की चर्चा के बीच कभी आपने सोचा कि श्रद्धा की क्या गलती थी? श्रद्धा अकेली नहीं, जिसे प्यार के बदले मौत मिली। हमारे आसपास कई लोग हैं, जो टॉक्सिक रिश्ते में फंसे हैं। ऐसे लोग भी होंगे, जो खुद टॉक्सिक हैं और दूसरों की जिंदगी बर्बाद कर रहे हैं। दो और सच्ची कहानियों से समझने की कोशिश करते हैं कि इस तरह के रिश्ते से हम कैसे निकल सकते हैं…
पढ़िए पूरी खबर...