करिअर फंडाUPSC-PRE है क्रिकेट मैच की तरह:जितनी नेट PRACTICE करेंगे, उतना ही बेहतर SCORE कर पाएंगे

5 महीने पहले

कई महीनों तक जोरदार मेहनत कर आप फाइनली सिविल सर्विसेज एग्जाम हॉल तक आ गए हैं,और कुछ ही देर में दो घंटे का प्रिलिम्स का पेपर स्टार्ट होने वाला है। कुछ-कुछ विराट कोहली जैसा फील आ रहा है, बड़ा गेम, Big Crowd, Lot of Noise, नहीं?

सिविल सर्विसेज परीक्षा के निर्णायक दो घंटे बिलकुल एक बड़े क्रिकेट मैच जैसे ही हैं। कितनी भी नेट प्रैक्टिस क्यों न की हो, आज भीड़ के बीच में दे धनाधन शॉट्स लगाने होंगे, तभी मैन ऑफ द मैच बनेंगे।

करिअर फंडा में स्वागत!

तो इतनी पढाई और मेहनत (नेट प्रैक्टिस) के बाद, आप तो ये चाहेंगे न कि शानदार स्कोर बने?

निर्णायक दो घंटों में बेस्ट परफॉरमेंस के 6 टिप्स

1) माइंड पूरी तरह रिलैक्स कर लें: हॉल में अपनी सीट पर बैठते ही दिमाग को पूरी तरह शांत कर लें। अब भीड़ का प्रेशर इग्नोर करें, और अपनी पूरी ऊर्जा एक बिंदु पर कॉन्सन्ट्रेट करें। लगातार अनेक ओवर फेंके जाने हैं और एक के बाद एक बॉल आपके (ज्ञान के) बैट पर आने वाली है, तो हर शॉट खेलने के लिए खुद को तैयार कर लें। एक तैयार मस्तिष्क एक जोरदार मस्तिष्क होता है। बेवजह का टेंशन, घबराहट, रोना-धोना - इन सबका समय गया। वो तब था जब आप मॉक टेस्ट देते थे। ठीक है?

2) पहले पूरा क्वेश्चन पेपर देखें: प्रश्न पत्र मिलने के बाद तुरंत प्रश्न हल करना शुरू न करें, बल्कि पूरे पेपर को पलट कर उसका 'सेंस' लेने का प्रयास करें। अर्थात किस टॉपिक से कितना पूछा गया है, और कितना टफ है, कितना आसान, ये देखें। इससे आपका माइंड युद्ध (मैच) की शुरुआत में सामने वाली सेना (टेस्ट पेपर) की ताकत को समझ पाएगा। यदि आपने खूब नेट प्रैक्टिस की है (यानी मॉक टेस्ट्स खूब लिए हैं), तो ये स्टेप आपको स्वतः फायदा पहुंचाएगा। पहला छक्का लगाने से पहले, अच्छे से परख लें कितनी बॉल्स छक्का लगाने लायक हैं।

आपके लिए नॉलेज गिफ्ट - फ्री स्टडी मटेरियल: https://bit.ly/upscstudy

3) स्ट्रॉन्ग पोर्शन पहले करें: पूरा पेपर देखने के बाद अब आप उन प्रश्नों को पहले हल करें जिनमें आपका होल्ड बढ़िया है। अर्थात जिनमें आप आश्वस्त हैं कि इस टॉपिक के प्रश्न तो मैं सॉल्व कर ही लूंगा/लूंगी। हर स्टूडेंट के दो या तीन स्ट्रॉन्ग एरिया होते ही हैं, और उन्हें ही पहले करना चाहिए। सबसे आखिर में जो वीक एरिया है, उसको देखें। अपने बढ़िया शॉट्स पहले लगाएं।

4) दूसरों को न देखें: कई स्टूडेंट्स पेपर हाथ में आने के थोड़ी देर बाद, दूसरे कितना कर रहे हैं ये देखने का प्रयास करते हैं। बेकार है - बिलकुल मत कीजिए। आप सिर्फ अपनी बैटिंग पर ध्यान दीजिए, दूसरों की नहीं। अपना आत्मविश्वास बनाएं रखें। यह आपके वैल्युएबल टाइम का भी लॉस है। किसी भी स्थिति में पैनिक न हों - कई स्टूडेंट्स टफ पेपर देखने के बाद पैनिक कर जाते हैं। पसीना आने लगता है, हार्टबीट तेज हो जाती है। याद रखें, पेपर सबके लिए एक समान ही है।

आपके लिए नॉलेज गिफ्ट - पिछले सालों के फुली सॉल्व्ड पेपर्स यहां: https://bit.ly/solvedpapers

5) फुल टॉस बॉल्स पर फोर या सिक्स लगाना ही है: किसी भी एग्जाम में 6 / 7 / 8 प्रश्न एकदम आसान होते हैं जिन्हें हम सिटर्स (बेहद सरल) कहते हैं। जब आप पूरा पेपर स्कैन कर रहे होते हैं, तब माइंड का एक हिस्सा इस चीज पर फोकस करे कि वो कौन से प्रश्न हैं जो गलती से भी छूट न जाएं। बाद में पछताना पड़ेगा।

6) गेस वर्क (guesswork) से न डरें: सौ प्रश्नों में से पांच या दस बार ऐसा हो सकता है कि आप चार में से दो ऑप्शन तक आ जाएं, फिर आगे न बढ़ पाएं। ऐसे में इंटेलिजेंट गेस वर्क की अनुमति है। आप अनेकों मॉक टेस्ट दे देकर ये सीख जाते हैं कि गेस वर्क कहां वर्क करेगा, कहां नहीं।

इन बातों को अच्छे से दो बार पढ़ें, और इन्हें आप लगभग हर एग्जाम में बहुत यूजफुल पाएंगे।

तो आज का करिअर फंडा यह है एक क्रिकेट मैच की ही तरह, सिविल सर्विसेज प्रीलिम्स एग्जाम का पेपर 1 और पेपर 2 आपकी स्मार्ट प्लेइंग स्किल्स की भी परीक्षा है, सिर्फ ज्ञान की नहीं

कर के दिखाएंगे।

इस कॉलम पर अपनी राय देने के लिए यहां क्लिक करें।

करिअर फंडा कॉलम आपको लगातार सफलता के मंत्र बताता है। जीवन में आगे रहने के लिए सबसे जरूरी टिप्स जानने हों तो ये करिअर फंडा भी जरूर पढ़ें...

1) प्रोफेशन में सक्सेस का अंबानी फॉर्मूला:धीरूभाई का गुरुमंत्र…बड़ा सोचिए, जल्दी सोचिए…आगे की सोचिए

2) 3 कहानियों से सीखें सक्सेस मंत्र:जमाने की नहीं, खुद की सुनें...मुश्किल समय में बुद्धि का इस्तेमाल ही SOLUTION देगा

3) Dead Poet's Society मूवी से सीखें 5 बातें:लीक से अलग सोचने दें, छात्रों पर कोई सब्जेक्ट चुनने का दबाव न डालें

4) सिंधु घाटी सभ्यता से सफल जीवन के 5 TIPS:इनोवेटिव और साइंटिफिक ही नहीं, डेमोक्रेटिक भी थे हमारे पूर्वज

5) मैथ्स को चुटकियों में हल करने के 6 टिप्स:फॉर्मूले रटने से नहीं कॉन्सेप्ट समझने से आसान लगेगी मैथ्स

6) GK की तैयारी में इन 7 गलतियों से बचें:रटें नहीं समझें, अपने हाथों से नोट्स बनाएं…बेहतर होगी मेमोरी

7) EXAM TIME में पेरेंट्स के लिए 7 जरूरी टिप्स:बच्चे पर परीक्षा का प्रेशर न बनाएं...बात करें, समझें उसकी दिक्कतें