• Hindi News
  • Db original
  • There Are Also Heer Ranjha And Romeo Juliet In Animals And Birds; River Turn Bird Proposes By Giving Fish To Female, Will You Be My Valentine?

वन्यजीवों की प्रेम कहानी:वन्य प्राणियों-पक्षियों में भी होते हैं हीर-रांझा और रोमियो-जूलियट; रिवर टर्न पक्षी फीमेल को मछली देकर करता है प्रपोज

5 महीने पहलेलेखक: यशपाल बख्शी
  • कॉपी लिंक

वैलेंटाइन-डे यानी प्रेम का पर्व। प्रेम इंसानों तक ही सीमित नहीं है, बल्कि पशु-पक्षियों और हर जीवित चीजों में भी होता है। बस, अभिव्यक्ति के लिए सभी का तरीका अलग-अलग होता है। जैसे- सारस मेल पक्षी फीमेल को आकर्षित करने के लिए डांस करता है। इसी तरह इनकी जोड़ी बनती है। होर्नबिल पक्षियों में फीमेल 3 महीने तक पेड़ों की खोह में क्वारैंटाइन रहती है और मेल बाहर से उसे दाना देता है। प्रेम की ये भी एक अद्भुत कहानी है।

वैलेंटाइन-डे के मौके पर आज हम आपको वाइल्ड लाइफ के वैलेंटाइन के बारे में बताने जा रहे हैं कि मेल व फीमेल पक्षी किस तरह एक-दूसरे से अपने प्रेम का इजहार करते हैं, तो कुछ जीव-जंतु ऐसे हैं, जिनका वजूद ही एक-दूसरे पर टिका होता है। राजकोट के पर्यावरणविद विनोदभाई पंड्या ने इसी की स्टडी कर भास्कर से अपने अनुभव साझा किए हैं। पढ़िए ऐसे ही कुछ रोमांचक किस्से...

रिवर टर्न फीमेल को गिफ्ट में मछली देते हैं

रिवर टर्न नाम का पक्षी परफेक्ट 'वैलेंटाइन' गिफ्ट देने के लिए जाना जाता है। यह पक्षी फरवरी से मई के बीच नदी-तालाब के किनारे जमीन पर माला बनाता है। मेल चोंच में मछली लाकर फीमेल को 'गिफ्ट' देते हैं। फीमेल अपने पसंदीदा मेल की ही मछली एक्सेप्ट करती है। (संदर्भ : द बुक ऑफ इंडियन बर्ड्स, लेखक : सलीम अली, चैप्टर : 149, पेज:324)
रिवर टर्न नाम का पक्षी परफेक्ट 'वैलेंटाइन' गिफ्ट देने के लिए जाना जाता है। यह पक्षी फरवरी से मई के बीच नदी-तालाब के किनारे जमीन पर माला बनाता है। मेल चोंच में मछली लाकर फीमेल को 'गिफ्ट' देते हैं। फीमेल अपने पसंदीदा मेल की ही मछली एक्सेप्ट करती है। (संदर्भ : द बुक ऑफ इंडियन बर्ड्स, लेखक : सलीम अली, चैप्टर : 149, पेज:324)

शेरों की ये मुलाकात इक बहाना है...

गिर जंगल में अमर, अकबर, एंथोनी नाम के तीन शेर थे। अमर नाम के सबसे शैतान शेर को जू में शिफ्ट कर दिया गया। अकबर और एंथोनी रोज रात को जू की 12 फीट की दीवार लांघकर अमर से मिलने पहुंच जाया करते थे। इसी जू में काजोल और करिश्मा नाम की दो शेरनियां भी थीं। अकबर और एंथोनी की इनसे नजर मिल गई थी। इसके बाद अकबर और एंथोनी अमर से न मिलकर सिर्फ शेरनियों से ही मिलते थे। यह बात 1998 की है, जो वाइल्ड लाइफ के रोचक किस्सों में काफी फेमस है।
गिर जंगल में अमर, अकबर, एंथोनी नाम के तीन शेर थे। अमर नाम के सबसे शैतान शेर को जू में शिफ्ट कर दिया गया। अकबर और एंथोनी रोज रात को जू की 12 फीट की दीवार लांघकर अमर से मिलने पहुंच जाया करते थे। इसी जू में काजोल और करिश्मा नाम की दो शेरनियां भी थीं। अकबर और एंथोनी की इनसे नजर मिल गई थी। इसके बाद अकबर और एंथोनी अमर से न मिलकर सिर्फ शेरनियों से ही मिलते थे। यह बात 1998 की है, जो वाइल्ड लाइफ के रोचक किस्सों में काफी फेमस है।

हम बने, तुम बने एक-दूजे के लिए

युक्का नाम की वनस्पति और प्रोनुबा नाम का एक कीट है, दोनों का एक-दूसरे के बिना काम नहीं चलता। प्रोनुबा कीट की फीमेल सिर्फ युक्का के फूल में ही अपने अंडे रखती है। प्रोनुबा इस वनस्पति के अलावा कहीं और अंडे नहीं सेती। वहीं, युक्का वनस्पति भी सिर्फ प्रोनुबा कीट से ही फलता-फूलता है। इस तरह ये दोनों एक-दूसरे के सहारे ही जीते हैं। (संदर्भ : बुक-एन इकोलॉजीको बिहेवियर स्टडी ऑन युक्का एंड प्रोनुबा, लेखक : फिलीप राव )
युक्का नाम की वनस्पति और प्रोनुबा नाम का एक कीट है, दोनों का एक-दूसरे के बिना काम नहीं चलता। प्रोनुबा कीट की फीमेल सिर्फ युक्का के फूल में ही अपने अंडे रखती है। प्रोनुबा इस वनस्पति के अलावा कहीं और अंडे नहीं सेती। वहीं, युक्का वनस्पति भी सिर्फ प्रोनुबा कीट से ही फलता-फूलता है। इस तरह ये दोनों एक-दूसरे के सहारे ही जीते हैं। (संदर्भ : बुक-एन इकोलॉजीको बिहेवियर स्टडी ऑन युक्का एंड प्रोनुबा, लेखक : फिलीप राव )

ये बात है अटूट विश्वास की

होर्नबिल बड़े आकार का एक पक्षी है। फीमेल होर्नबिल पेड़ों की खोह में अंडे देने जाती है। मेल बर्ड बाहर से गीली मिट्टी से खोह ढंक देता है। खोह में सिर्फ चोंच अंदर जाने लायक ही जगह छोड़ता है। इसके बाद मेल बाहर से ही फीमेल को खुराक पहुंचाता है। जब तक बच्चे उड़ने लायक न हो जाएं, तब तक फीमेल अंदर ही रहती है। मेल कभी भी फीमेल को धोखा नहीं देता... यही है सच्चे प्यार का अटूट विश्वास। (संदर्भ : द बुक ऑफ इंडियन बर्ड्स, लेखक : सलीम अली, चैप्टर: 98, पेज:216)
होर्नबिल बड़े आकार का एक पक्षी है। फीमेल होर्नबिल पेड़ों की खोह में अंडे देने जाती है। मेल बर्ड बाहर से गीली मिट्टी से खोह ढंक देता है। खोह में सिर्फ चोंच अंदर जाने लायक ही जगह छोड़ता है। इसके बाद मेल बाहर से ही फीमेल को खुराक पहुंचाता है। जब तक बच्चे उड़ने लायक न हो जाएं, तब तक फीमेल अंदर ही रहती है। मेल कभी भी फीमेल को धोखा नहीं देता... यही है सच्चे प्यार का अटूट विश्वास। (संदर्भ : द बुक ऑफ इंडियन बर्ड्स, लेखक : सलीम अली, चैप्टर: 98, पेज:216)

तू मुझे कुबूल, मैं तुझे कुबूल...

हरमिट केकड़ा खाली पड़े शंक के खोल में घुस जाता है। इसके बाद वह खोल में घुसकर समुद्री फूल के पास पहुंचता है। समुद्र की गहराई में उगने वाला समुद्री फूल स्थिर होता है। केकड़ा इस फूल को उखाड़ कर शंख के ऊपर रख लेता है और फिर इसी तरह गहराई में घूम-घूमकर अपना पेट भरता है। इस तरह समुद्री फूल को उसकी खुराक मिल जाती है, वहीं, समुद्री फूल के जहरीले कोषों से केकड़े की रक्षा हो जाती है। (संदर्भ : http://animals.mom.com लेखिका : सैंडी विजिल)
हरमिट केकड़ा खाली पड़े शंक के खोल में घुस जाता है। इसके बाद वह खोल में घुसकर समुद्री फूल के पास पहुंचता है। समुद्र की गहराई में उगने वाला समुद्री फूल स्थिर होता है। केकड़ा इस फूल को उखाड़ कर शंख के ऊपर रख लेता है और फिर इसी तरह गहराई में घूम-घूमकर अपना पेट भरता है। इस तरह समुद्री फूल को उसकी खुराक मिल जाती है, वहीं, समुद्री फूल के जहरीले कोषों से केकड़े की रक्षा हो जाती है। (संदर्भ : http://animals.mom.com लेखिका : सैंडी विजिल)

हो गया है तुझको तो प्यार सजना

मेल सारस फीमेल को प्रपोज करने के लिए उसके सामने डांस करता है। अगर फीमेल उसका प्रपोजल एक्सेप्ट कर लेती है तो उसके साथ ही नाचने लगती है। नाचते समय दोनों आसमान की तरफ अपनी चोंच करके आवाज निकालते हैं। शायद वे एक-दूसरे से कहते हैं You Are my Valentine। इनमें से अगर किसी की भी मौत हो जाए तो दूसरा उसकी विरह में जान दे देता है। (संदर्भ : द बुक ऑफ इंडियन बर्ड्स, लेखक : सलीम अली, चैप्टर: 143, पेज :312)
मेल सारस फीमेल को प्रपोज करने के लिए उसके सामने डांस करता है। अगर फीमेल उसका प्रपोजल एक्सेप्ट कर लेती है तो उसके साथ ही नाचने लगती है। नाचते समय दोनों आसमान की तरफ अपनी चोंच करके आवाज निकालते हैं। शायद वे एक-दूसरे से कहते हैं You Are my Valentine। इनमें से अगर किसी की भी मौत हो जाए तो दूसरा उसकी विरह में जान दे देता है। (संदर्भ : द बुक ऑफ इंडियन बर्ड्स, लेखक : सलीम अली, चैप्टर: 143, पेज :312)

बातें कर दो हर्फी...

लाइकेन नाम के शैवाल और फंगस के बीच अनोखा प्रेम देखने को मिलता है। लाईकेन नमी वाली जगह और बड़े पेड़ों पर उत्पन्न होता है। इस शैवाल के ऊपर ही फंगस का आवरण बनता है। फंगस का आवरण शैवाल की वातावरण से रक्षा करता है। वहीं, शैवाल इस फंगस की खुराक की पूर्ति करता है। इस तरह इनका वजूद ही एक-दूसरे पर टिका है। (संदर्भ : बुक-लाईकेन ऑफ नॉर्थ अमेरिका, लेखक : इरविन ब्रोडो और स्टीफन सार्नोफ)
लाइकेन नाम के शैवाल और फंगस के बीच अनोखा प्रेम देखने को मिलता है। लाईकेन नमी वाली जगह और बड़े पेड़ों पर उत्पन्न होता है। इस शैवाल के ऊपर ही फंगस का आवरण बनता है। फंगस का आवरण शैवाल की वातावरण से रक्षा करता है। वहीं, शैवाल इस फंगस की खुराक की पूर्ति करता है। इस तरह इनका वजूद ही एक-दूसरे पर टिका है। (संदर्भ : बुक-लाईकेन ऑफ नॉर्थ अमेरिका, लेखक : इरविन ब्रोडो और स्टीफन सार्नोफ)