• Hindi News
  • Dboriginal
  • Coronavirus Latest; Coronavirus New Cases Latest Updates On Infection Spreading Outside China

कोरोनावायरस / एक महीने पहले दुनिया से 18 गुना ज्यादा मामले चीन में थे, अब दुनिया में चीन से 18 गुना तेजी से फैल रहा वायरस

Coronavirus Latest; Coronavirus New Cases Latest Updates On Infection Spreading Outside China
X
Coronavirus Latest; Coronavirus New Cases Latest Updates On Infection Spreading Outside China

  • चीन के वैज्ञानिकों ने एक शोध में कहा- एस और एल टाइप का कोरोनावायरस सक्रिय
  • वुहान से संक्रमण की शुरुआत हुई थी, वहां 7 जनवरी से पहले एल टाइप वायरस था

दैनिक भास्कर

Mar 05, 2020, 06:46 PM IST

नई दिल्ली. चीन के मुकाबले अब दुनिया के बाकी देशों में कोरोनावायरस ज्यादा तेजी से फैल रहा है। जनवरी के आखिर और फरवरी की शुरुआत में चीन में इस वायरस का संक्रमण चरम पर था। आज से ठीक एक महीने पहले 4 फरवरी को बाकी देशों में कोरोनावायरस के 221 नए मामले सामने आए थे, जबकि चीन में नए मामलों की संख्या 3,887 थी। यानी करीब 18 गुना ज्यादा। एक महीने बाद यानी 4 मार्च को हालात बदल चुके हैं। बुधवार के आंकड़े बताते हैं कि चीन में कोरोनावायरस के सिर्फ 120 नए मामले सामने आए, जबकि बाकी देशों में 2103 नए केस देखे गए। यानी 18 गुना का फर्क अब बदल चुका है।


27 दिसंबर को 1.1 करोड़ की आबादी वाले वुहान के अस्पतालों में संदिग्ध वायरस के मामले पहुंचने शुरू हुए थे। कुछ ही दिनों में कोरोनावायरस की पुष्टि हुई और जनवरी में यह तेजी से बढ़ा। 21 जनवरी तक यह दुनियाभर में सुर्खियों में आने लगा था। तब तक चीन में 291 मामले सामने आ चुके थे। इनमें से 258 मामले अकेले वुहान में थे। वुहान से ही संक्रमण की शुरुआत हुई थी। 21 जनवरी को चीन में इस वायरस से 6 मौतें हो चुकी थीं। वुहान वही शहर है, जहां दुनिया के 80 देशों की कंपनियों ने निवेश कर रखा है। यहां के बंदगाह से एक साल में 17 लाख कंटेनर दुनियाभर में जाते हैं। 23 जनवरी को यह शहर लॉकडाउन कर दिया गया था।


एक महीने में क्या बदला
1) नए मामले अब दुनिया में ज्यादा

तारीख चीन में नए मामले दुनिया में नए मामले
4 फरवरी 3,887 221
4 मार्च 120 2,103


2) नए मरीजों से ज्यादा संख्या रिकवर होने वाले मरीजों की

तारीख दुनिया में नए मामले कितने रिकवर हुए
4 फरवरी 3,887 264
4 मार्च 2,103 2,580

रिसर्च के मुताबिक, चीन में दो तरह के कोरोनावायरस
चीन के वैज्ञानिकों का एक शोध हाल ही में सामने आया है। वैज्ञानिकों ने 149 जगहों से कोरोनावायरस के 103 जीनोम का एनालिसिस किया। इसके बाद वे इस निष्कर्ष पर पहुंचे कि कोरोनावायरस एल और एस टाइप का है। एस टाइप की वजह से दुनिया में अब इन्फेक्शन तेजी से फैल रहा है। एस टाइप का कोरोनावायरस एल टाइप से ही पैदा हुआ है। वुहान में 7 जनवरी से पहले एल टाइप वायरस मौजूद था। बाद में यह एस टाइप में तब्दील हुआ, जिस वजह से कोरोनावायरस के मामलों में अचानक तेजी आई।


ये भी पढ़ें

1# कोरोनावायरस से भारत को कारोबार में 2.5 हजार करोड़ रु. के नुकसान की आशंका, यूरोपियन यूनियन इससे 44 गुना ज्यादा घाटे में रहेगा

2# कोरोनावायरस से 15 देशों में 3286 की मौत, चीन में सबसे ज्यादा; 95488 मामलों में 57975 लोग ठीक हुए

3# कोरोनावायरस से बचाव के लिए बार-बार हाथ धोएं, छींकने-खांसने वालों से 1 मीटर दूर रहें

4# जयपुर के जिस 10 मंजिला अस्पताल में संदिग्धों को भर्ती कराया गया, वहां के सभी मरीज 24 घंटे के अंदर छुट्टी लेकर चले गए

5# फैक्ट चेक: कोरोनावायरस का न शरीर के रंग से संबंध, न शराब से; 10 फेक वायरल दावों का सच

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना