पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Db original
  • Kashmir Eid 2020 Update | Kashmir Eid Prayers Jamia Masjid Latest News Updates; Prayer Could Not Be Held In Eidgah In Kashmir On Eid

कश्मीर में ईद:लगातार दूसरी ईद पर नहीं हो सकीं ईदगाह और जामिया में नमाज, सूनी सड़कें और बाजार, इबादतगाह भी खाली, चुनिंदा तस्वीरें

श्रीनगरएक वर्ष पहलेलेखक: आबिद बट
  • कॉपी लिंक
जामिया मस्जिद कश्मीर की सबसे बड़ी मस्जिद है। जहां आम दिनों में मीरवाईज हर जुमे तकरीर करते हैं। ईद की नमाज की यहां खास रौनक होती है। कई बार अलगाववादी नेताओं को यहां नमाज पढ़ते देखा गया है। - Dainik Bhaskar
जामिया मस्जिद कश्मीर की सबसे बड़ी मस्जिद है। जहां आम दिनों में मीरवाईज हर जुमे तकरीर करते हैं। ईद की नमाज की यहां खास रौनक होती है। कई बार अलगाववादी नेताओं को यहां नमाज पढ़ते देखा गया है।
  • कश्मीर में रविवार को ही ईद मना ली गई, इस दिन गुलजार रहने वाले श्रीनगर में लॉकडाउन के चलते सन्नाटा पसरा रहा
  • यहां मस्जिदों और ईदगाह में भीड़ जुटने की मनाही के बाद लोगों ने घरों में इकट्ठे होकर नमाज अता की

कश्मीर में रविवार को ईद मना ली गई। हालांकि ईदगाह मैदान, जामिया मस्जिद में ईद की नमाज नहीं हुई। लोगों ने घरों में ही नमाजें पढ़ीं। कहीं-कहीं लोग इस खास नमाज के लिए आस पड़ोसियों के साथ किसी एक के घर में जुटे। सभी बड़ी मस्जिदों और श्राइन के बाहर चस्पा कर दिया गया था, ‘यहां ईद की नमाज नहीं होगी।’

ये लगातार दूसरा मौका है जब ईद पर कश्मीर में ईदगाह में नमाज नहीं हो पाई। अगस्त में आई पिछली ईद के ठीक पहले जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाई गई थी। और हालात मुनासिब नहीं थे कि भीड़ को नमाज के लिए जुटने दिया जाए। पाकिस्तान में भी आज ईद मनाई गई। जब पड़ोसी देश में ईद की तारीख का ऐलान हुआ तो उसके तुरंत बाद कश्मीर में भी ईद की तारीख वही तय कर दी गई। मुफ्ती नसीर उल इस्लाम ने शनिवार देर शाम ये घोषणा की थी। हालांकि  ये कोई पहला मौका नहीं जब कश्मीर में ईद मनाने की तारीख पाकिस्तान में ईद के ऐलान के मुताबिक तय हुई हो।

जम्मू कश्मीर के अलावा केरल में भी ईद रविवार को ही मनाई गई। जबकि बाकी देश में ईद सोमवार को मनाई जाएगी।

कश्मीर से ईद की जुड़ी कुछ तस्वीरें, जिनमें सूनी पड़ी जामिया मस्जिद से लेकर ईदगाह तक शामिल हैं...

जिस ईदगाह मैदान में ईद के दौरान लाखों की भीड़ जुटती थी वहां बस सुरक्षाबल ही नजर आए। श्रीनगर के पुराने शहर का ये इलाका सबसे ज्यादा तनावपूर्ण रहने के लिए मशहूर है।
जिस ईदगाह मैदान में ईद के दौरान लाखों की भीड़ जुटती थी वहां बस सुरक्षाबल ही नजर आए। श्रीनगर के पुराने शहर का ये इलाका सबसे ज्यादा तनावपूर्ण रहने के लिए मशहूर है।
श्रीनगर का यह इकलौता फ्लाईओवर है। ईद के दौरान भी इस पर कोई वाहन नजर नहीं आया।
श्रीनगर का यह इकलौता फ्लाईओवर है। ईद के दौरान भी इस पर कोई वाहन नजर नहीं आया।
ईद के दौरान लोग लॉकडाउन का उल्लंघन न करें, इसलिए जगह-जगह पर सुरक्षाबल तैनात रहे।
ईद के दौरान लोग लॉकडाउन का उल्लंघन न करें, इसलिए जगह-जगह पर सुरक्षाबल तैनात रहे।
पुलिस ने सुबह ही अनाउंसमेंट कर दिया था कि किसी भी मस्जिद और ईदगाह में ईद की नमाज नहीं होगी। लोगों से कहा गया था कि वह भीड़ न जुटाएं।
पुलिस ने सुबह ही अनाउंसमेंट कर दिया था कि किसी भी मस्जिद और ईदगाह में ईद की नमाज नहीं होगी। लोगों से कहा गया था कि वह भीड़ न जुटाएं।
मस्जिदों में भीड़ जुटने की मनाही हुई तो लोगों ने घरों में ही इकट्ठे होकर नमाज पढ़ी।
मस्जिदों में भीड़ जुटने की मनाही हुई तो लोगों ने घरों में ही इकट्ठे होकर नमाज पढ़ी।
श्रीनगर की सड़कों पर आम दिनों की तरह ईद के दिन भी सुरक्षाबल पेट्रोलिंग करते नजर आए।
श्रीनगर की सड़कों पर आम दिनों की तरह ईद के दिन भी सुरक्षाबल पेट्रोलिंग करते नजर आए।
श्रीनगर के लाल चौक में भी ईद के दिन कोई हलचल नहीं थी।
श्रीनगर के लाल चौक में भी ईद के दिन कोई हलचल नहीं थी।
खबरें और भी हैं...