दिल्ली / त्रिपुरा के उग्रवादी संगठन एनएलएफटी के 88 सदस्य 13 अगस्त को करेंगे सरेंडर



88 members of Tripura militant group NLFT will surrender on August 13
X
88 members of Tripura militant group NLFT will surrender on August 13

Dainik Bhaskar

Aug 11, 2019, 04:45 AM IST

नई दिल्ली/अगरतला ण् त्रिपुरा में 30 साल से हिंसक गतिविधियाें में शामिल रहा उग्रवादी गुट नेशनल लिबरेशन फ्रंट ऑफ त्रिपुरा (एनएलएफटी-एसडी) के 88 सदस्य 13 अगस्त को सरेंडर करेंगे। इस संबंध में केंद्र सरकार अाैर एनएलएफटी के बीच शनिवार काे शांति समझाैता हुअा।

 

इस पर गृह मंत्रालय के संयुक्त सचिव (उत्तर पूर्व) सत्येंद्र गर्ग, त्रिपुरा सरकार के अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) कुमार आलोक और एनएलएफटी (एसडी) के साबिर कुमार देबबर्मा तथा काजल देबबर्मा ने दस्तखत किए। साबिर कुमार देबबर्मा के नेतृत्‍व में एनएलएफटी के प्रतिनिधियों ने दिल्ली में गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात भी की। 1989 से सक्रिय एनएलएफटी-एसडी ने 2005 से 2015 के बीच 10 साल में 317 हिंसक घटनाओं को अंजाम दिया। इनमें 28 सुरक्षा बलों अाैर 62 नागरिकाें सहित 90 लोगों की जान गई। शेष|पेज 10


एनएलएफटी अंतरराष्ट्रीय सीमापार स्थित अपने शिविरों से हिंसा फैलाने में शामिल रहा है। केंद्र सरकार ने 1997 में एनएलएफटी पर गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम के तहत प्रतिबंध लगाया था। एनएलएफटी के साथ 2015 में ति वार्ता शुरू हुई। 2016 के बाद एनएलएफटी उग्रवादियों ने किसी हिंसक वारदात काे अंजाम नहीं दिया है।


हिंसा छाेड़, संविधान काे मानेगा एनएलएफटी : समझाैते के अनुसार एनएलएफटी अब देश के संविधान का पालन करेगा अाैर हिंसा का रास्ता छाेड़कर मुख्य धारा में शामिल हाेगा। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कहा है कि एनएलएफटी-एसडी ने इस पर सहमति दी है कि उसके 88 सदस्य अपने हथियाराें सहित समर्पण करेंगे। समर्पण करने वाले उग्रवादियाें काे केंद्र सरकार समझाैते के तहत अावास, राेजगार अाैर शिक्षा मुहैया कराएगी।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना