फीस वृद्धि पर रार जारी / छात्रसंघ को पूर्व छात्रों-नेताओं का साथ, 27 को मनाएंगे विरोध दिवस

Alumni-leaders support students' union, will celebrate protest day on 27th
X
Alumni-leaders support students' union, will celebrate protest day on 27th

Dainik Bhaskar

Nov 24, 2019, 01:32 AM IST

नई दिल्ली . जेएनयू में नए हॉस्टल मैन्युअल और फीस वृद्धि के खिलाफ शनिवार को मंडी हाउस से संसद मार्च भारी पुलिस बल के साथ शुरू हुआ। डफली, स्लोगन-बैनर लेकर आने वाले जेएनयू छात्र, पूर्व छात्र और शिक्षकों के अलावा दूसरी यूनिवर्सिटी के छात्र भी शामिल हुए। मंडी हाउस से बाराखंभा रोड होते हुए संसद मार्ग तक पहुंचे। जेएनयू छात्र संघ ने एमएचआरडी की हाईपॉवर कमेटी रिपोर्ट नहीं आने और मांगें नहीं मानी जाने तक विरोध प्रदर्शन जारी करने का ऐलान किया है।

उसी कड़ी में 27 नवंबर को राष्ट्रीय विरोध दिवस का आह्वान किया है। जेएनयू छात्र संघ की अध्यक्ष आइशी घोष, उपाध्यक्ष साकेत मून, महासचिव सतीश चंद्र यादव और संयुक्त सचिव मोहम्मद दानिश के हस्ताक्षर से जारी नोट में देशभर के छात्र व युवाओं से अपील की गई है कि लोकतांत्रित तरीके से अपने-अपने क्षेत्र या कैंपस में विरोध प्रदर्शन करें। मार्च में जेएनयू एल्यूमनाई के वरिष्ठ नागरिक फीस वापसी की मांग में जुटे थे तो एक बच्चा स्कूल यूनिफार्म में हाथ में सेव एजुकेशन, सेव माई फ्यूचर की तख्ती लेकर मार्च कर रहा था।

सीताराम येचुरी, कन्हैया कुमार के अलावा कांग्रेस के कुछ नेताओं ने भी की फीस वापसी की मांग

सीताराम येचुरी, चंद्रशेखर रावण, उदित राज, मनोज झा, डूटा की पूर्व अध्यक्ष नंदिता नारायण, जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्षों में शकील अहमद, अल्बीना शकील, एन साई बालाजी और कन्हैया कुमार ने भी संसद मार्ग पर लगाए गए स्टेज से प्रदर्शन मार्च में शामिल लोगों को संबोधित किया। सबकी एक ही मांग थी कि हॉस्टल की बढ़ी फीस सरकार को वापस लेनी पड़ेगी। इस दौरान कन्हैया ने कहा कि हिम्मत है तो चार्जशीट दाखिल करके जेल में डालें, लेकिन जेएनयू को किसी भी सूरत में बदनाम ना करें।

लेफ्ट-राइट का नहीं, छात्रों के भविष्य का मुद्दा है : योगेंद्र यादव
जेएनयू के पूर्व छात्र और स्वराज इंडिया पार्टी के अध्यक्ष योगेंद्र यादव ने कहा कि प्रशासन को छात्रों की मांग सुननी चाहिए। ये किसी लेफ्ट और राइट का मुद्दा नहीं है। छात्रों के भविष्य का मुद्दा है जिसका जल्द समाधान होना चाहिए। योगेंद्र यादव ने कहा भाजपा चाहे तुरंत समाधान निकाल सकती है। महाराष्ट्र में रातभर गुजरने के पहले सरकार बना ली। अगर इच्छाशक्ति हो तो इसे हल कर सकते हैं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना