--Advertisement--

एक्शन / साउथ एमसीडी स्कूलों में टीचर्स के स्कूल टाइम में मोबाइल इस्तेमाल पर बैन, प्रभावित हो रही थी पढ़ाई



सिम्बॉलिक इमेज। सिम्बॉलिक इमेज।
X
सिम्बॉलिक इमेज।सिम्बॉलिक इमेज।

  • शिक्षा समिति को टीचर्स के मोबाइल पर बिजी रहने की मिल रही थीं शिकायतें, दिखाई सख्ती
  • शिक्षा विभाग ने टीचर्स के नाम जारी किया फरमान, मोबाइल लॉकर में रखकर जाएं

Dainik Bhaskar

Oct 11, 2018, 06:10 AM IST

तरुण सिसोदिया, नई दिल्ली. साउथ एमसीडी के स्कूलों में पढ़ाने वाले टीचर्स के लिए बुरी खबर है, अब वह स्कूल टाइम में मोबाइल का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे। इस संबंध में एमसीडी के शिक्षा विभाग की ओर से एक सख्त आदेश जारी किया गया है। टीचर्स पर यह सख्ती मोबाइल इस्तेमाल के चलते बच्चों की पढ़ाई प्रभावित होने की लगातार मिल रही शिकायतों के बाद की गई।


शिक्षा विभाग की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि 27 अगस्त को हुई शिक्षा समिति की मीटिंग में यह निर्णय लिया गया है कि स्कूल टाइम में कोई भी टीचर मोबाइल का इस्तेमाल नहीं करेगा। वह अपना मोबाइल या तो उसे अलॉट हुई अलमारी में रखे या फिर स्कूल के प्रिंसिपल को दे। इमरजेंसी की स्थिति के लिए प्रिंसिपल का कॉन्टेक्ट नंबर परिजनों को दें। क्लास टीचर्स से संपर्क करने के लिए भी बच्चों के परिजनाें को प्रिंसिपल का फोन नंबर दें। आदेश में प्रिंसिपल से कहा गया है कि वह यह सुनिश्चित करें कि कोई टीचर स्कूल टाइम में मोबाइल फोन का इस्तेमाल तो नहीं कर रहा।

 

साउथ एमसीडी की एजुकेशन कमेटी की चेयरमैन नंदिनी शर्मा ने बताया कि कई बार अभिभावकों से संवाद के दौरान यह बात सामने आई थी कि कई शिक्षक कक्षा के दौरान फोन पर बाते करते हैैं। इससे पढ़ाई प्रभावित होती है। उन्होंने बताया कि डेढ़ माह पहले यह आदेश निकाला गया था, लेकिन कई स्कूलों में इसको लागू नहीं किया जा सका है इससे विभाग ने फिर से आदेश निकाल कर सभी स्कूल प्रिंसीपल को सूचना दी है।

 

फेसबुक और वाट्सएप पर घंटों बिताते हैं टीचर्स 

टीचर्स का मोबाइल फोन बैन करने के पीछे उनका घंटों वाट्सएप और फेसबुक पर व्यस्त रहना है। सूत्रों के मुताबिक शिक्षा विभाग को जानकारी मिली थी स्कूल के टीचर कक्षा के समय सोशल साइट का उपयोग करते हैं।

 

टीचर ने किया मोबाइल इस्तेमाल तो प्रिंसिपल पर कार्रवाई 

शिक्षा विभाग के अधिकारी के मुताबिक आदेश को लागू कराने की जिम्मेदारी प्रिंसीपल की है। जांच के लिए शिक्षा विभाग की टीम जल्द स्कूलों का निरीक्षण करेगी, जिस स्कूल के टीचर के पास स्कूल के समय में मोबाइल पाया जाएगा तो टीचर के साथ-साथ प्रिंसीपल पर भी कार्रवाई होगी।

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..