• Hindi News
  • Delhi
  • Delhi ncr
  • By 2025, Internet based business market in India will grow to triple 11.4 lakh crore, 2020 best for investment

भास्कर खास / साल 2025 तक भारत में इंटरनेट आधारित बिजनेस का मार्केट तीन गुना बढ़कर 11.4 लाख करोड़ का होगा, निवेश के लिए 2020 सबसे अच्छा

By 2025, Internet-based business market in India will grow to triple 11.4 lakh crore, 2020 best for investment
X
By 2025, Internet-based business market in India will grow to triple 11.4 lakh crore, 2020 best for investment

  • साल 2020 तक टेक स्टार्टअप 10,500 से ज्यादा होंगी, इनमें 50 यूनिकॉर्न बन सकती हैं

Dainik Bhaskar

Dec 03, 2019, 12:31 AM IST

नई दिल्ली . मौजूदा दशक समाप्ति की ओर है और 2020 से नए दशक की शुरुआत हो रही है। साल 2020 को भारत में इंटरनेट आधारित बिजनेस की ग्रोथ के लिए काफी अहम माना जा रहा है। गोल्डमैन साक्स की रिपोर्ट के मुताबिक 2025 तक भारत में इंटरनेट आधारित बिजनेस का मार्केट साइज 16,000 करोड़ डॉलर (करीब 11.4 लाख करोड़ रुपए) तक पहुंच जाएगा। यह मौजूदा मार्केट साइज से करीब तीन गुना ज्यादा है। इंटरनेट आधारित बिजनेस में ई-कॉमर्स, ट्रैवेल, फूड, क्सालिफाइड, ऑनलाइन कंटेंट आदि आते हैं।


रिपोर्ट के अनुसार इस तूफानी ग्रोथ का फायदा के लिए जरूरी है कि ऐसे बिजनेस में तत्काल निवेश किया जाए। इस वजह से 2020 में इस क्षेत्र में जमकर निवेश बढ़ेगा। आने वाले कुछ सालों में भारत के ज्यादातर बड़े बिजनेस इंटरनेट आधारित होंगे। इसलिए निवेशक इसकी ग्रोथ के शुरुआती चरण में ही निवेश करना चाहेंगे ताकि उन्हें ज्यादा से ज्यादा फायदा मिल सके। इंटरनेट ड्रिवेन कंपनियां अगले 20 करोड़ ग्राहक जुटाने के लिए अधिग्रहण और मर्जर पर भी जोर दे सकती हैं। एक्टिव इंटरनेट यूजर्स की ज्यादातर ग्रोथ टियर 2, टियर 3 शहरों और ग्रामीण इलाकों से मिलेगी।


भारत के ज्यादातर कैपिटल वेंचर फर्म ऐसे इन्वेस्टमेंट जरिए की तलाश में हैं जो उन्हें साल 2025 तक अच्छी स्थिति में पहुंचा दे। एक अन्य रिपोर्ट के मुताबिक भारत में 2020 की पहली तिमाही तक वेंचर कैपिटल इन्वेस्टमेंट का ट्रेंड मजबूत रहेगा। ये किसी स्टार्टअप के शुरुआती चरण में निवेश को तरजीह दे सकते हैं।


सॉफ्ट बैंक इस दिशा में पहले से ही सक्रिय है, लेकिन अब कई अन्य ग्लोबल इन्वेस्टमेंट फर्म भी भारत का रुख कर सकते हैं। सूत्रों के मुताबिक प्राइवेट इक्विटी फर्म वालबर्ग भारत में निवेश के लिए 150 करोड़ डॉलर का फंड इकट्ठा कर रही है। वहीं, अलीबाबा की अगुवाई वाली एंट फाइनेंशियल भारत सहित दक्षिण-पूर्व एशिया के लिए 100 करोड़ डॉलर का फंड इकट्ठा कर रही है। रिपोर्ट के मुताबिक भारत में 2020 तक 10,500 टेक स्टार्टअप मौजूद होंगे। इनमें से कम से कम 50 में यूनिकॉर्न होने की संभावना जताई जा रही है। यूनिकॉर्न का मतलब ऐसे स्टार्टअप से है जिसकी वैल्युएशन 100 करोड़ डॉलर के पार जाए। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि 2025 तक भारत में 100 से ज्यादा यूनिकॉर्न हैं। ये प्रत्यक्ष रूप से 11 लाख जॉब के अवसर पैदा करेंगी।

इंटरनेट आधारित बिजनेस का मार्केट साइज
वित्त वर्ष    ई-कॉमर्स    ट्रैवेल    फूड    क्लासिफाइड    कुल
{2018-19    3500    1600    220    70    5300
{ 2024-25    11300    3800    880    200    16100
नोटः राशि करोड़ डॉलर में

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना