दिल्ली / मनमोहन व गांधी परिवार की सुरक्षा के लिए नई बटालियन बनाएगी सीअारपीएफ



CARPF will form new battalion to protect Manmohan and Gandhi family
X
CARPF will form new battalion to protect Manmohan and Gandhi family

  •  सीअारपीएफ ने गांधी परिवार के सुरक्षा प्राेटाेकाॅल की राज्याें काे जानकारी दी

Dainik Bhaskar

Nov 20, 2019, 12:34 AM IST

नई दिल्ली . पूर्व प्रधानमंत्री मनमाेहन सिंह अाैर गांधी परिवार की सुरक्षा का जिम्मा मिलने के बाद सीअारपीएफ इस काम के लिए एक नई बटालियन बनाएगी। बटालियन में एक हजार जवान हाेते हैं। अधिकारियाें ने बताया कि स्पेशल प्राेटेक्शन ग्रुप यानी एसपीजी की सुरक्षा से बदलकर सीअारपीएफ की जेड+ सिक्याेरिटी के घेरे में अाए इन वीवीअाईपी की सुरक्षा के लिए नए बख्तरबंद वाहन भी खरीदे जाएंगे।

 

इसी बीच, सीअारपीएफ ने सभी राज्याें अाैर केंद्र शासित प्रदेशाें काे पत्र लिखकर कांग्रेस अध्यक्ष साेनिया गांधी, उनके बेटे राहुल गांधी अाैर बेटी प्रियंका गांधी वाड्रा की सुरक्षा के नए प्राेटाेकाॅल की जानकारी दी है।  केंद्र सरकार ने इसी महीने समीक्षा के बाद इन तीनाें की एसपीजी सुरक्षा हटा दी थी। 

 

मनमाेहन सिंह की एसपीजी सुरक्षा अगस्त में हटी थी। गांधी परिवार के लिए सीअारपीएफ काे एसपीजी की बुलेट प्रूफ गाड़ियां इस्तेमाल करने की इजाजत दी गई है। वहीं, मनमाेहन की सुरक्षा के मद्देनजर सीअारपीएफ नए बख्तरबंद वाहन खरीदने के लिए केंद्र से मंजूरी मांगेगी। 


गृह मंत्री अमित शाह सहित कुछ बहुत ज्यादा सुरक्षा खतरे वाले वीवीअाईपी सीअारपीएफ के सुरक्षा घेरे में हैं। एक अधिकारी ने बताया कि जिम्मेदारी बढ़ने के चलते वीवीअाईपी सुरक्षा यूनिट के लिए एक या दाे नई बटालियन की मंजूरी मांगी जाएगी।
 

सीअारपीएफ की सुरक्षा यूनिट में चार हजार जवान, 57 वीवीअाईपी की सुरक्षा का जिम्मा
3 लाख से अधिक जवानाें वाले अर्धसैनिक बल सीअारपीएफ के पास 57 वीवीअाईपी की सुरक्षा का जिम्मा है। वीवीअाईपी ड्यूटी में इसकी चार बटालियन यानी करीब चार हजार जवान तैनात हैं। गांधी परिवार अाैर मनमाेहन सिंह की सुरक्षा में 700 जवान तैनात किए गए हैं। केंद्रीय मंत्री अमित शाह, नितिन गडकरी, रिलायंस के चेयरमैन मुकेश अंबानी अाैर उनकी पत्नी नीता अंबानी सहित अन्य वीअाईपी की सुरक्षा में भी काफी जवान तैनात हैं। 

  •  वीवीअाईपी सुरक्षा यूनिट के कमांडाे के पास इजरायल में बनी एक्स95 अाैर एमपी5 राइफल, ग्लाॅक पिस्टल अाैर संचार की उन्नत सुविधाएं हाेती हैं। 

राज्याें से कहा- गांधी परिवार के दाैरे से पहले खुफिया अाैर प्रशासनिक सहयाेग करें 
सीअारपीएफ ने गृह मंत्रालय के जरिए राज्याें अाैर केंद्र शासित प्रदेशाें काे नए सुरक्षा प्राेटाेकाॅल की जानकारी दी है। एडवांस्ड सिक्याेरिटी लायजन (एएसएल) के तहत साेनिया, राहुल अाैर प्रियंका गांधी, मनमाेहन सिंह अाैर उनकी पत्नी गुरशरण काैर के किसी राज्य में जाने से पहले वहां के खुफिया, पुलिस अाैर प्रशासनिक तंत्र काे सहयाेग देना हाेगा। दाैरे से 24 घंटे पहले सीअारपीएफ की टीम संबंधित जगहाें पर जाकर स्थानीय अधिकारियाें की मदद से उसे सेनेटाइज करेगी। पुलिस अाैर प्रशासन काे इस टीम काे रूट प्लान अाैर यात्रा के नक्शे सहित सभी जरूरी सहायता मुहैया करवानी हाेगी। यलाे बुक प्राेसीजर की भी जानकारी दी गई है। देशभर में सीअारपीएफ के 28 वीवीअाईपी सुरक्षा बेस भी इस काम में इस्तेमाल किए जाएंगे।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना