सीबीएसई / 10वीं और 12वीं की परीक्षा के मद्देनजर स्टूडेंट्स और पैरेंट्स को लिखी चिट्‌ठी



प्रतीकात्मक इमेज प्रतीकात्मक इमेज
X
प्रतीकात्मक इमेजप्रतीकात्मक इमेज

  • पेरेंट्स को लिखी चिट्‌ठी में उन्हें बच्चों को परीक्षा के लिए तैयार करने के लिए गाइड किया
  • चिट्‌ठी में लिखा है कि स्कूलिंग ऐसा समय है जब आपके हार्डडिस्क में खूब सारा स्पेस होता है

Dainik Bhaskar

Feb 14, 2019, 10:29 AM IST

नई दिल्ली. 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं को ध्यान में रखते हुए केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने स्टूडेंट्स और उनके परिजनों को चिट्‌ठी लिखी है। चिट्‌ठी के जरिए स्टूडेंट्स को परीक्षाओं के लिए बूस्टअप किया गया है, वहीं पेरेंट्स को उनके बच्चों को गाइड करने की सलाह दी है।

 

सीबीएसई की ओर से दो अलग-अलग चिट्‌ठी लिखी गई हैं। एक चिट्‌ठी स्टूडेंट और दूसरी उनके परिजनों के लिए लिखी है। स्टूडेंट्स को लिखी चिट्‌ठी में उन्हें परीक्षाओं के लिए बूस्टअप करके शुभकामनाएं दी हैं। पेरेंट्स को लिखी चिट्‌ठी में उन्हें बच्चों को परीक्षा के लिए तैयार करने के लिए गाइड किया गया है।

 

स्टूडेंट्स को ध्यान कराने के लिए पैरेंट्स के लिए निर्देश:

  • एडमिट कार्ड की हर चीज याद कराए और उसके दिशा निर्देशों को पढ़ाएं। 
  • परीक्षा के दिन 9:45 से पहले पहुंच जाएं और 10 बजे से पहले सीट पर बैठ जाएं। 10 बजे के बाद परीक्षा सेंटर में जाने की परमिशन नहीं होगी। 
  • ड्रेस और आई कार्ड साथ रखें। 
  • फोन, पर्स, पुराने प्रश्न पत्र या फिर उनके जवाब साथ न रखें। 
  • परीक्षा शुरू होने से एक दिन पहले एग्जाम सेंटर दिखाएं और सुनिश्चित कराएं की वह ठीक है। 
  • चैकिंग में स्टाफ का सहयोग करें। 
  • किसी अफवाह पर न तो विश्वास करें और न ही फैलाएं। 

मेंटर सिखाते हैं, क्या रखना है और क्या स्पैम में भेजना है 
छात्रों को कंप्यूटर और सॉफ्टवेयर की भाषा में बताया कि परीक्षा सफलता और असफलता नापने का पैमाना नहीं, यूआरएल की तरह खुद का सर्च इंजिन है। स्कूलिंग ऐसा समय है जब आपके हार्डडिस्क में खूब स्पेस होता जिसमें डाउनलोड जरूरी चीजें करनी होती है। मेंटर सिखाते हैं, क्या रखना है और क्या स्पैम में भेजना है। इस साल 10वीं में 18,27,472 छात्र व 12वीं में 18,87,359 छात्र परीक्षा में बैठ रहे हैं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना