दिल्ली / सीएम केजरीवाल लगाया आरोप कहा- केंद्र ने संत गोपालदास को एम्स से गायब करवा दिया



जॉली ग्रांट के हॉस्पिटल में भर्ती गोपालदास। (ये फोटो एम्स के निदेशक डॉ. गुलेरिया ने भेजी है) जॉली ग्रांट के हॉस्पिटल में भर्ती गोपालदास। (ये फोटो एम्स के निदेशक डॉ. गुलेरिया ने भेजी है)
X
जॉली ग्रांट के हॉस्पिटल में भर्ती गोपालदास। (ये फोटो एम्स के निदेशक डॉ. गुलेरिया ने भेजी है)जॉली ग्रांट के हॉस्पिटल में भर्ती गोपालदास। (ये फोटो एम्स के निदेशक डॉ. गुलेरिया ने भेजी है)

Dainik Bhaskar

Dec 06, 2018, 01:53 AM IST

नई दिल्ली. गंगा की स्वच्छता के लिए अनशन कर रहे संत गोपालदास के बुधवार को संदिग्ध हालत में दिल्ली के एम्स से लापता होने की अफवाह उड़ी। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट में संत को गायब करने का आरोप ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर लगा दिया।

 

हालांकि बाद में एम्स के निदेशक डॉ रणदीप गुलेरिया ने कहा कि मेडिकल बोर्ड की सलाह के बाद संत गोपालदास को स्वस्थ घोषित कर दिया था। उनकी इच्छा के अनुसार ही अस्पताल से डिस्चॉर्ज किया गया है। इतना ही नहीं जब उनसे पूछा कि वे कहां जाना चाहते हैं? तो उन्होंने देहरादून तक छोड़ने को कहा। हमने अपनी ओर से गाड़ी से उन्हें देहरादून भेजा। हमें पता चला है कि वह देहरादून के जॉली ग्रांट के अस्पताल में भर्ती हैं और स्वस्थ हैं। 

 

संत गोपालदास के एम्स से गायब होने की बात आप विधायक सोमनाथ भारती ने बुधवार दोपहर 1:45 पर ट्वीट करके दी। भारती ने ट्वीट में कहा ‘आपको याद होगा कि प्रो अग्रवाल, मोदीजी के मां गंगा को दिए छलावे से दुखी होकर पिछले दिनों अपनी जान गंवा दी, पर मोदी सरकार पर जू नहीं रेंगा।

 

अब उनके शिष्य 116 दिन से आमरण अनशन पर बैठे संत गोपालदास जी को एम्स से मोदी सरकार ने किसी अज्ञात जगह पर शिफ्ट कर दिया है। मैं वहां पहुंच रहा हूं।’ इसके बाद भारती एम्स में भी पहुंच गए। गोपालदास के पिता शमशेर की ओर से पुलिस को शिकायत की बात भी की गई। शिकायत को भी भारती ने ट्वीट किया।  भारती के बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी ट्वीट में कहा कि संत गोपालदास गौ-रक्षा और गंगा सफाई के लिए अनशन पर थे। उनको मोदी सरकार ने एम्स से गायब कर दिया है। 

 

एम्स ने भेजा देहरादून : 

गायब होने की अफवाह फैलते ही एम्स प्रशासन हरकत में आ गया। एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया का कहना है कि मेडिकल बोर्ड की सलाह के बाद संत गोपाल दास को स्वस्थ घोषित कर दिया था। उनकी इच्छा के अनुसार अस्पताल से डिस्चार्ज किया है। जब उनसे पूछा कि वे कहां जाना चाहते हैं, तो उन्होंने देहरादून कहा। हमने गाड़ी को देहरादून भेजा। वह देहरादून के जॉली ग्रांट के अस्पताल में हैं और स्वस्थ हैं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना