दिल्ली / सरकार के तीन फैसले, पार्किंग रूल्स, ऑटो किराए में बदलाव, मेट्रो पर सुझाव



मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो) मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)
X
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)

  • घर के बाहर वाहन खड़े करने का नहीं लगेगा चार्ज, जुर्माना होगा दोगुना
  • ~ 25 पर मीटर डाउन, हर किमी पर 9.50 रुपए, वेटिंग चार्ज बढ़ा
  • महिलाओं के लिए मेट्रो फ्री होने में लगेंगे कम से कम 8 महीने

Dainik Bhaskar

Jun 13, 2019, 04:53 AM IST

नई दिल्ली. दिल्ली सरकार ने पार्किंग रूल्स, 2019 की ड्राफ्ट अधिसूचना दूसरी बार जारी कर दी है। 30 दिन में लोगों राय लेकर इसे लागू किया जाएगा। बता दें कि इससे पहले एलजी ने ड्राफ्ट जारी करने के बाद इसे अधिसूचित कर दिया था। इसके बाद परिवहन मंत्री ने इसमें बदलाव करने को कहा था। इस पर विवाद के बाद लॉ डिपार्टमेंट से राय मांगी गई, जिसने मंत्री को अधिसूचना जारी करने में पूर्ण सक्षम बताया। इसलिए बुधवार को फिर अधिसूचना जारी की गई।
 

 

ये प्रावधान हो जाएंगे लागू :
 

  • वाहनों को अवैध पार्किंग में सड़क पर खड़े करते हैं तो उठाए जाने और छुड़ाने में देरी पर जुर्माना दोगुना हो जाएगा।
  • पार्किंग की फीस पीक ऑवर और ऑफ पीक ऑवर, ऑन स्ट्रीट और ऑफ स्ट्रीट पार्किंग के हिसाब से सस्ती और महंगी होगी।
  • महीने या सालाना पार्किंग फीस खत्म करने का प्रावधान भी है, नो पार्किंग जोन में वाहन खड़े मिलेंगे तो जब्त करके जुर्माना लगेगा
  • स्थानीय निकाय को वाहन उठाने व एनफोर्स करने की पॉवर मिल जाएगी

 

 

ऑटो के बढ़े किराए का रास्ता साफ :

दिल्ली में ऑटो रिक्शा अब ज्यादा महंगा होंगे। मीटर डाउन (डेढ़ किमी के लिए) 25 रुपए से होगा। आगे के हर किमी के लिए 9.50 रुपए लगेंगे। वेटिंग चार्ज हर मिनट के 75 पैसे चुकाने होंगे जो अभी 50 पैसे हर किमी के बदले चार्ज होता है। मंत्री के अनुसार नया किराया लागू हो गया है। हालांकि ऑटो का बढ़ा किराया मीटर कैलिब्रेट होने के बाद ही वसूला जाना चाहिए। लेकिन रेट चार्ट के अनुसार बढ़ा किराया भरा जा सकता है। 

 

मेट्रो में फ्री राइड के सुझाए दो रास्ते :

दिल्ली मेट्रो में महिलाओं की फ्री यात्रा किस तरीके से हो सकती है, इसके दो प्रस्ताव डीएमआरसी ने दिल्ली सरकार को दिए हैं। सीएम केजरीवाल ने प्रेस कांफ्रेंस करके कहा-एक लांग टर्म प्लान है और दूसरा शॉर्ट टर्म है। डीएमआरसी ने कहा है कि फ्री सुविधा से महिला यात्रियों की भागीदारी 30 फीसदी से बढ़कर 25-50 फीसदी तक पहुंच जाएगी। सरकार को 1566.64 करोड़ रुपए सबसिडी चुकानी होगी।

COMMENT