• Hindi News
  • Local
  • Delhi ncr
  • Mohammed Shahrukh | Delhi Violence Gunman Mohammed Shahrukh Arrested; Things To Know About Shooter Shahrukh

शाहरुख 3 फायर करने के बाद कनॉट प्लेस की पार्किंग में कई घंटे तक सोता रहा, 2 साल पहले रौब झाड़ने के लिए ली थी अवैध पिस्तौल

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
दिल्ली पुलिस की गिरफ्त में हिंसा का आरोपी मोहम्मद शाहरुख। - Dainik Bhaskar
दिल्ली पुलिस की गिरफ्त में हिंसा का आरोपी मोहम्मद शाहरुख।
  • पुलिस ने बताया कि शाहरुख दिल्ली से भागकर पंजाब और फिर वहां से यूपी के बरेली में जाकर छिपा था
  • शाहरुख ने फैक्ट्री में काम करने वाले मजदूर से ली थी बिहार के मुंगेर में बनी पिस्तौल
  • दिल्ली पुलिस के मुताबिक, मंगलवार तक 436 मामले दर्ज किए गए, 1,427 लोग हिरासत में लिए गए

नई दिल्ली. दिल्ली हिंसा के दौरान सिपाही पर बंदूक तानने और 3 फायर करने के आरोपी मोहम्मद शाहरुख को दिल्ली पुलिस ने मंगलवार को यूपी के शामली से गिरफ्तार कर लिया। दरअसल, 24 फरवरी को जवान पर फायरिंग करने के बाद वह वहां से भाग गया था। इसके बाद वह कनॉट प्लेस की पार्किंग में खड़ी कार में कई घंटे सोता रहा। जब उसे विश्वास हो गया कि पुलिस अब दंगों में पूरी तरह फंस चुकी होगी तो वह पंजाब चला गया। दिल्ली पुलिस ने कहा कि शाहरुख को 4 दिन की पुलिस हिरासत में भेजा गया है। वहीं, हिंसा के मामले में मंगलवार तक 436 मामले दर्ज किए गए, जिसमें 45 शस्त्र अधिनियम के तहत दर्ज हुए हैं। गिरफ्तार किए गए या हिरासत में लिए गए लोगों की संख्या 1,427 है। 


दिल्ली क्राइम ब्रांच के एडिश्नल पुलिस कमिश्नर डॉ. अजित कुमार सिंगला ने बताया, "जिस 7.65 बोर की पिस्तौल से शाहरुख ने घटना वाले दिन गोलियां बरसाईं, वह अवैध है। उसने यह पिस्तौल दो साल पहले अपनी फैक्ट्री में काम करने वाले एक मजदूर से ली थी, ताकि इलाके में उसे दिखाकर रौब दिखा सके। उसके पास उस दिन कुल 6 गोलियां थीं। 3 राउंड उसने मौके पर चला दिए थे। दो कारतूस जब्त हो चुके हैं, जबकि एक कारतूस के बारे में उसने पुलिस के बताया कि वह कहीं गिर गया। पिस्तौल बरामद नहीं हुई है। पिस्तौल मुंगेर (बिहार) में बनी है।" शाहरुख की उत्तर-पूर्वी दिल्ली में मोजे बनाने की फैक्ट्री है।

दिल्ली से पंजाब फिर यूपी गया
एसीपी सिंगला ने बताया, "शाहरुख ने दिल्ली से सीधे पंजाब पहुंचा। यहां से वह पानीपत, कैराना, अमरोहा, बरेली में छिपते हुए शामली पहुंचा, जहां से उसे गिरफ्तार कर लिया गया। उसकी तलाश में पुलिस क्या-क्या कर रही है? इसकी सही और सटीक जानकारी उसे अखबारों और टीवी से मिल रही थी। इसलिए जैसे ही दिल्ली पुलिस अपराध शाखा की टीम बरेली पहुंची, वह वहां से भी भाग गया।"

शाहरुख टिकटॉक का शौकीन है
एसीपी सिंगला ने माना कि शाहरुख ने घटना वाले दिन इलाके में अपनी धमक जमाने के लिए पिस्तौल से हवा में गोलियां दागकर सनसनी फैला दी थी। उसका अभी तक कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं मिला है। उसके पिता के खिलाफ मादक पदार्थ तस्करी का केस दर्ज है। शाहरुख के खिलाफ पुलिस ने धारा 186/383 व आर्म्स एक्ट के तहत केस दर्ज किया है। जरूरत पड़ने पर उसके खिलाफ अन्य धाराएं भी जोड़ी जा सकती हैं। शाहरुख को टिकटॉक का शौक है। उसने अपना एक म्यूजिक एलबम भी रिलीज हो चुका है।

ड्रग तस्कर है शाहरुख का पिता
शाहरुख का परिवार पंजाब का रहने वाला है। वह पिछले कई साल से दिल्ली के घोंडा में रह रहा है। उसका पिता साबिर ड्रग्स तस्करी से जुड़ा है। उस पर मादक पदार्थ अधिनियम के तहत कई मामले दर्ज हैं। वह अपाहिज है। कई बार पंजाब, दिल्ली और उत्तर प्रदेश की जेलों में बंद रहा है। शाहरुख के दो भाई भी हैं। साबिर ने ही दिल्ली हिंसा के बाद उसे रुकवाने के लिए पहले बरेली और फिर शामली में इंतजाम करवाया था। शाहरुख को उसके पिता ने दो साथियों के जरिए बरेली भिजवाया था। वह यहां करीब 4-5 दिन ठहरा और फिर शामली में शिफ्ट हो गया।