बदलाव / ई-फार्मेसी दवा स्टोर नहीं कर सकेंगी, अब दुकानदार ग्राहक के घर दवा पहुंचाएंगे

प्रतीकात्मक फोटो। प्रतीकात्मक फोटो।
X
प्रतीकात्मक फोटो।प्रतीकात्मक फोटो।

  • ऑनलाइन प्लेटफॉर्म अब सिर्फ दवा का ऑर्डर बुक कर सकेंगे, डिलीवरी खुदरा या थाेक विक्रेता के जरिए ही करनी पड़ेगी
  • ई-फार्मेसी को ग्राहकों द्वारा दिया गया प्रिस्किप्शन भी सुरक्षित रखना हाेगा, डाॅक्टर के बताए अनुसार ही दवा देनी हाेगी

Dainik Bhaskar

Dec 01, 2019, 12:32 PM IST

नई दिल्ली (पवन कुमार). दवा की ऑनलाइन बिक्री वाले ई-फार्मेसी प्लेटफॉर्म अब अपने पास दवा स्टाेर नहीं कर सकेंगे। खुदरा या थाेक विक्रेताओं से टाई-अप करके ही यह ग्राहकों तक दवा पहुंचा सकेंगे। इसके लिए स्वास्थ्य मंत्रालय ने ई-फार्मेसी रेगुलेशन में बदलाव किया है। ऑनलाइन प्लेटफॉर्म अब सिर्फ दवा का ऑर्डर बुक कर सकेंगे। दवा की डिलीवरी खुदरा या थाेक विक्रेता के जरिए ही करनी पड़ेगी।

ई-फार्मेसी को ग्राहकों द्वारा दिया गया प्रिस्किप्शन भी सुरक्षित रखना हाेगा। डाॅक्टर के बताए अनुसार ही दवा देनी हाेगी। एंटीबॉयोटिक्स के मामले में इसका विशेष ख्याल रखना हाेगा। स्पष्ट निर्देश है कि प्रिस्क्रिप्शन के बिना एंटीबॉयोटिक्स दवा का ऑर्डर बुक नहीं किया जाएगा।

पहली बार दवा सीधे घर पहुंचेगी

सरकार पहली बार दवा दुकानदारों को भी सीधे ग्राहक के घर जाकर दवा पहुंचाने का अधिकार दे रही है। अभी तक इसे गैर कानूनी माना जाता था। देश में अभी ई-फार्मेसी के करीब 50 प्लेटफॉर्म चल रहे हैं, जबकि दवा की करीब आठ लाख खुदरा दुकानें रजिस्टर्ड हैं। सभी पक्षाें से बात करने के बाद स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह निर्णय लिया है।

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना